विधानसभा चुनाव 2022: प्रत्याशियों की जीत के दावे को लेकर समर्थकों में चर्चाओं का बाजार गर्म

विधानसभा चुनाव 2022: प्रत्याशियों की जीत के दावे को लेकर समर्थकों में चर्चाओं का बाजार गर्म


 

play icon Listen to this article

मतदान हुए एक सप्ताह से भी अधिक का समय गुजर जाने के बाद प्रत्याशियों के समर्थकों में चर्चाओं का बाजार गर्म है।

[su_highlight background=”#880e09″ color=”#ffffff”]सरहद का साक्षी, डी0 पी0 उनियाल, गजा[/su_highlight]

नरेन्द्रनगर विधानसभा के अन्तर्गत मुख्य मुकाबला भारतीय जनता पार्टी व कांग्रेस प्रत्याशी के बीच रहा है उसके बाद यूकेडी व आप आदमी पार्टी प्रत्याशी भी जोर आजमाइश करते रहे, लेकिन हार जीत का अन्तर भाजपा व कांग्रेस के बीच ही रहा है। भारतीय जनता पार्टी प्रत्याशी सुबोध उनियाल अपने सभी बूथ अध्यक्षों से फीड बैक ले चुके हैं तथा जीत के प्रति आश्वस्त हैं। वहीं दूसरी ओर कांग्रेस प्रत्याशी ओम गोपाल रावत भी चुनाव संचालन समितियों से हर बूथ से आंकड़े लेते हुए अपनी जीत का दावा कर रहे हैं।

कांग्रेस प्रत्याशी अपनी विधानसभा में कार्यकर्ताओं से मुलाकात कर रहे हैं तथा हर पट्टी से आंकड़ा लगा रहे हैं। नगर पंचायत गजा व छोटे-छोटे कस्बों में दोनों दलों के प्रत्याशियों के समर्थकों में अभी भी चर्चाओं का दौर जारी है। यह तो अभी आगामी 10 मार्च को ही पता चलेगा कि कौन विधायक चुना जाता है, लेकिन अगर रणनीतिकारों की मानें तो इस बार हार जीत का फैसला कम मतों के अंतर से होने की सम्भावना जताई जा रही है। दोनों ही पुराने प्रत्याशी आमने सामने हैं।