नशा एक जहर है, जो बचपन को खोखला बना रहा है: SP Crime मनोज कटियाल

नशा एक जहर है, जो बचपन को खोखला बना रहा है: SP Crime मनोज कटियाल
play icon Listen to this article

भारतीय जागरूकता समिति द्वारा माँ सरस्वती सीनियर सेकंडरी स्कूल में विधिक जागरूकता पर कार्यशाला का आयोजन किया गया, जिसमें  मुख्य अथिति एसपी क्राइम/ ट्राफिक मनोज कटियाल, एआरटीओ रश्मी पंत, एसओ बहादराबाद रणबीर सिंह चौहान एवं हाई कोर्ट के अधिवक्ता ललित मिगालनी उपस्थित रहे।

लोकेन्द्र जोशी @हरिद्वार

मनोज कटियाल में बच्चों से कहा कि उन्हें नशे से दूर रहना चाहिए, समाज में नशा एक जहर है जो बच्चो को बचपन में ही खोखला कर रहा है। उन्होंने बच्चो को ट्राफिक लॉ कि भी जानकारी दी और बच्चो को सचेत किया कि समाज में बच्चो  की महत्व पूर्ण भूमिका है।

एआरटीओ रश्मी पंत ने भी बच्चों को ट्राफिक लॉ के बारे में विस्तार पूर्वक बताया और उनको सचेत किया कि वे वाहन चलाते हुए सभी नियमों का पालन करें। कहा कि लाइसेंस 18 उम्र में ही बनता है जो बच्चा 18 उम्र से कम का है वो वाहन नहीं चला सकता, ऐसा बालक जो 18 वर्ष से कम का है और वाहन चलाता है तो वाहन मालिक पर काफी भारी जुर्माना लगाया जा सकता है।

हाई कोर्ट के अधिवक्ता ललित मिगलानी ने बच्चो को बताया कि समाज में युवाओ को भर्मित करने के कई प्रयास किये जा रहे है जिसके झासे में आकर कई लोग साइबर क्राइम के शिकार हो जाते है, उन्होंने बच्चो को ट्राफिक लॉ में साइबर क्राइम के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी दी।

कार्यक्रम में 1090 पर एक डेमो दिया गया, जिसमें स्कूल के बच्चों द्वारा 1090 पर कॉल कर शिकायत की, उनकी शिकायत पर तुरन्त कार्यवाही के तहत पुलिस मोके पर पहुंची जिसे देख बच्चों ने पुलिस की कार्यशैली पर तालिया बजा कर  प्रशंसा की।

स्कूल के संस्थापक एवं निर्देशक अमित कुमार चौहान ने  कार्यक्रम की सरहाना करते हुए सभी अतिथियों का धन्यवाद दिया। कार्यक्रम में शहर के कई गणमान्य लोग उपस्थित रहे।