विधानसभा चुनाव 2022: उत्तराखंड समेत 5 राज्यों में आचार संहिता लागू, चुनावों हुआ का एलान, उत्तराखंड में 14 फरवरी को होगा चुनाव, प्रत्याशी कर सकेंगे Online Nomination 

राष्ट्रपति चुनाव, मतदान तक देहरादून में ही रहेंगे सभी विधायक
play icon Listen to this article

चुनाव आयोग ने उत्तराखंड पंजाब, यूपी, गोवा, मणिपुर के लिए चुनाव कार्यक्रम कर दिया है।  घोषित सभी चुनाव 7 चरणों में संपन्न होंगे। दूसरे फेज में उत्तराखंड, उत्तरप्रदेश में -7 फेज में, शुरुआत 10 फरवरी को उत्तर प्रदेश से होगी। उत्तराखंड में-14 फरवरी, गोवा-14 फरवरी, पंजाब-14 फरवरी, मणिपुर- 27 फरवरी, 3 मार्च, 10 मार्च को मतगणना

5 राज्यों के विधानसभा चुनाव कार्यक्रम

पहला चरण: 10 फरवरी उत्तर प्रदेश, दूसरा चरण: 14 फरवरी उत्तर प्रदेश, पंजाब, उत्तराखंड, गोवा, तीसरा चरण: 20 फरवरी उत्तर प्रदेश, चौथा चरण: 23 फरवरी उत्तर प्रदेश, पांचवा चरण: 27 फरवरीउत्तर प्रदेश, मणिपुर, छठवां चरण: 3 मार्च उत्तर प्रदेश, मणिपुर, सातवां चरण: 7 मार्च  उत्तर प्रदेश में चुनाव कराए जाएंगे। मतगणना : 10 मार्च को होगी।

[su_highlight background=”#091688″ color=”#ffffff”]सरहद का साक्षी, नई दिल्ली[/su_highlight]

दिल्ली के विज्ञान भवन में  मुख्य चुनाव आयुक्त सुशील चंद्रा ने कार्यक्रम की घोषणा करते हुए साफ तौर पर कहा कि 4 राज्यो की मार्च में सरकार का कार्यकाल पूरा होना है वही 1 का मई में होने जा रहा है।

कोरोना के हालातों को देखते हुए आयोग ने साफ तौर पर कहा कि इस बार हम तमाम ऐसे प्रयोग करेंगे जिससे सही तरीके से चुनाव हो सके उन्होंने माना चुनाव वो भी कोरोना में सुरक्षित कराना चुनौतीपूर्ण है लेकिन कोरोनावायरस क्षेत्र चुनाव कराना हमारी जिम्मेदारी है 18.35 करोड़ वोटर इस बार वोट देंगे , 8.55 करोड़ से ज्यादा महिलाए वोट देंगी। पोलिंग स्टेशन में सबकुछ कोरोना से बचाव की व्यवस्था होनी चाहिए 699 पोलिंग स्टेशन होंगे। हर विधानसभा में 1 महिलाओं के लिए पोलिंग स्टेशन होगा जो केवल महिलाओं के लिए होगा ऐसा ही विकलांग वोटरों के लिए भी होगा।

आपराधिक छवि और मुकदमे वाले प्रत्याशियों के नाम जनता को बताने होंगे साथ ही मीडिया में छपवाने होंगे पार्टियों को अपने होम पेज पर भी देनी होगी जानकारी ख़र्चे को बढ़ाया गया है तमाम प्रत्याशी अब 40 लाख तक खर्च कर सकेंगे। तमाम एजेंसियां पैसों और शराब के बेजा इस्तेमाल पर रोक लगाएगी सभी एजेंसियों को अलर्ट कर दिया गया है। वहीं प्रत्याशी ऑनलाइन नामांकन भी बढ़ सकेंगे, सुविधा ऐप के जरिए ऑनलाइन नामांकन हो सकेगा।

आयोग ने सीधे-सीधे कहा कि संविधान कहता है कि किसी भी तरीके से चुनाव को नहीं टाला जा सकता जो भी चुनाव होने हैं या फिर सरकार होनी है वह केवल 5 साल के लिए होनी है उस को आगे नहीं बढ़ाया जा सकता। चुनाव आयोग ने कहा कि सभी पोलिंग स्टेशनों को पूरी तरीके से सैनिटाइज किया जाएगा साथ ही तमाम मतदाता भी हाथों में ग्लब्ज पहन कर और मास्क पहन कर ही वोट देने उत्तराखंड में 99.9 प्रतिशत जनता की पहली डोज और 83 प्रतिशत लोगो को दूसरी डोज लग चुकी है।

आयोग ने सभी प्रत्याशियों से अपील की है कि आपने कैम्पेन डिजिटली चलाये 15 जनवरी तक कोई रैली, जनसभा नही होगी न ही नुक्कड़ सभा आयोजित होगी,  जीत का जश्न भी नही मना सकेंगे।

उत्तराखंड

21 जनवरी को जारी होगा विधानसभा चुनाव का नोटिफिकेशन।
– 28 जनवरी नॉमिनेशन की अंतिम तिथि।
– 29 जनवरी नॉमिनेशन की स्क्रूटनी।
– 31 जनवरी तक नामांकन वापस।
– 14 फरवरी को मतदान।
– 10 मार्च मतगणना।

विधानसभा चुनाव 2022 विशेष

चुनाव अधिसूचना तत्काल प्रभाव से लागू

15 जनवरी तक पदयात्रा, नुक्कड़ सभा, रोड शो, बाइक रैली पर रोक।
पहली बार सुविधा ऍप के जरिये ऑनलाइन नामांकन कर सकेंगे उम्मीदवार।
Civigil App पर चुनाव से जुड़े किसी भी प्रकरण शिकायत की जा सकेगी।
उत्तर प्रदेश, पंजाब, उत्तराखंड, मणिपुर और गोआ समेत 5 राज्यों की 690 सीटों पर होगा चुनाव।
18.3 करोड़ मतदाता बनेंगे लोकतंत्र के महापर्व का हिस्सा।
2 लाख 15 हजार 368 मतदान स्थल बनाए जाएंगे।
80 वर्ष से अधिक आयु, दिव्यांग तथा कोरोना प्रभावित मतदाताओं के लिए पोस्टल बैलेट की व्यवस्था।