VC गबर सिंह मेले की दूसरी सांस्कृतिक संध्या रही लोक कलाकार पदम, रवि और बीना के नाम। नन्ही ऋर्षिता जोशी और मोदित नेगी ने किया लोगों को मंत्रमुग्ध

VC गबर सिंह मेले की दूसरी सांस्कृतिक संध्या रही लोक कलाकार पदम, रवि और बीना के नाम। नन्ही ऋर्षिता जोशी और मोदित नेगी ने किया लोगों को मंत्रमुग्ध
play icon Listen to this article

बीसी गबर सिंह मेला के दूसरे दिन संस्कृति विभाग की टीम के श्री पदम गुसाईं रवि गुसाईं, बीना बोरा और उनकी टीम ने स्थानीय लोगों का स्वस्थ मनोरंजन किया। कार्यक्रमों में स्थानीय नन्हे-मुन्ने कलाकारों ने भी अपनी प्रस्तुतियां लोगों के सामने रखी। जिससे कि जनसमुदाय मंत्रमुग्ध हो गया।

सरहद का साक्षी @सोमवारी लाल सकलानी ‘निशांत’

कार्यक्रमों में नन्हे-मुन्ने बच्चों ऋषिता, मोदित, खुशी, वैश्णवी आदि बाल कलाकारों ने अपने कौशल का प्रदर्शन किया। लोक कलाकारों के द्वारा भी प्रस्तुतियां दी गई। हेंवलवाणी सामुदायिक रेडियो के राजेंद्र जोशी ने अपने चुटकुलों के द्वारा खूब ठहाके लगावाए।

यूं तो कार्यक्रम औपचारिक रूप से 6:00 बजे सांय से शुरू हुआ जो कि 11:00 बजे रात तक गतिमान रहा, लेकिन 2 घंटे पूर्व जन समुदाय जब पंडाल में उपस्थित हो गया तो अनौपचारिक रूप से अनेकों प्रस्तुतियां कलाकारों के द्वारा उस समय भी दर्शकों के सम्मुख रखी गई। प्रजापति ब्रह्मा कुमारी विश्व संस्थान आबू की बहनों के द्वारा शिव, शांति और अध्यात्म संबंधित अनेकों बातें प्रस्तुत की। कवि सोमवारी लाल सकलानी ‘निशांत’ ने बाल साहित्य के अंतर्गत ‘बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ’ पर अपनी कविताएं प्रस्तुत की।

इस मौके पर मेला समिति के अध्यक्ष इंद्र सिंह नेगी ने उपस्थित जन सैलाब के बीच मुख्य अतिथि प्रतापनगर के माननीय विधायक विक्रम नेगी का स्वागत किया। जनपद स्तरीय अधिकारियों का भी विशेष कर पुलिस अधीक्षक का आभार व्यक्त किया। मेला समिति के समस्त सदस्यों के द्वारा मेले की सुचारू व्यवस्था, कार्यक्रम संचालन और कार्यक्रम को सटीक रूप से प्रस्तुत करने के लिए बेहतर प्रयास किया।

इस अवसर पर एसएचओ पंकज देवरानी, कैप्टन बिजेंद्र नेगी, कैप्टन आनंद सिंह नेगी, रघुभाई जड़धारी, शक्ति जोशी, संजय बहुगुणा, प्रेम दत्त थपलियाल, एसके सेमल्टी, विशन भंडारी, सुरेंद्र उनियाल आदि उपस्थित रहे।