play icon Listen to this article

शहरी विकास, विधायी एवं संसदीय कार्य जनगणना तथा पुर्नगठन उत्तराखण्ड सरकार/प्रभारी मंत्री जनपद टिहरी गढ़वाल प्रेम चंद अग्रवाल की अध्यक्षता में आज जिला सभागार, नई टिहरी गढ़वाल में जिला योजना समिति की बैठक आयोजित की गई।

बैठक में जिला योजना वर्ष 2021-22 की समीक्षा तथा जिला योजना वर्ष 2022-23 हेतु अनुमोदित परिव्यय पर चर्चा की गई तथा शांतिपूर्ण ढंग से सभी सदस्यों की सर्वसहमति से जिला योजना वर्ष 2022-23 हेतु प्रस्तावित परिव्यय 69.87 करोड़ की धनराशि को अनुमोदित किया गया।

प्रभारी मंत्री प्रेम चंद अग्रवाल की अध्यक्षता में जिला सभागार, नई टिहरी गढ़वाल में आयोजित हुई जिला योजना समिति की बैठक 

मंत्री जी ने कहा कि जनपद का समुचित विकास हो, यह सभी जन प्रतिनिधियों एवं अधिकारियों की जिम्मेदारी है। उन्होंने अधिकारियों को बैठक में पूर्ण तैयारी के साथ उपस्थित होने के निर्देश दिए, ताकि किसी भी सवाल का संतोषजनक जवाब मिल सके। मंत्री जी द्वारा निर्देशित किया कि वित्तीय वर्ष 2021-22 में विभागों द्वारा विभिन्न योजनाओं में मदवाइज व्यय की गई धनराशि के विवरण की बुकलेट सभी सदस्यों को उपलब्ध करा दें।

प्रभारी मंत्री प्रेम चंद अग्रवाल की अध्यक्षता में जिला सभागार, नई टिहरी गढ़वाल में आयोजित हुई जिला योजना समिति की बैठक 

कहा कि किसी भी योजना को पूर्ण करने में समय और गुणवत्ता का विशेष ध्यान रखें, लापरवाही और गड़बड़ करने वाले को बख्सा नहीं जाएगा। मंत्री जी ने कहा कि कोई सदस्य यदि अपने प्रस्ताव देना चाहते हैं तो दे सकते हैं, प्राथमिकता को देखते हुए धनराशि दी जाएगी। इससे पूर्व जिलाधिकारी टिहरी गढ़वाल इवा आशीष श्रीवास्तव द्वारा मंत्री जी को पुष्पगुच्छ भेंट कर स्वागत किया गया। इसी प्रकार अन्य जनप्रतिनिधियों का भी स्वागत किया गया।

🚀 यह भी पढ़ें :  गड़बड़ झाला: विकास कार्यों की जांच को लेकर गंभीर नहीं हैं अधिकारी ग्रामीणों ने लगाया लापरवाही का आरोप

जिलाधिकारी ने जिला योजना वर्ष 2021-22 की समीक्षा के दौरान विभिन्न विभागों प्रगति रिपोर्ट की जानकारी देते हुए बताया कि वर्ष 2021-22 में अनुमोदित परिव्यय 66.54 करोड़ के सापेक्ष शत-प्रतिशत धनराशि आवंटित हुई तथा जिसमें से 97.77 प्रतिशत धनराशि व्यय की गई। बताया कि शेष एक करोड़ पचास लाख में से 50 लाख की धनराशि लोनिवि द्वारा व्यय कर ली गई है। जिलाधिकारी द्वारा वर्ष 2022-23 हेतु विभिन्न विभागों द्वारा प्रस्तावित परिव्यय के संबंध मंे क्रमवार विस्तार से जानकारी दी गई।

विधायक प्रतापनगर द्वारा प्रत्येक ब्लॉक में संचालित स्मार्ट क्लासेज की जानकारी ली गई, मुख्य शिक्षा अधिकारी द्वारा बताया गया कि 18 स्कूलों में स्मार्ट क्लासेज चल रही हैं। ब्लॉक वाइज विवरण उपलब्ध न होने पर मंत्री जी द्वारा नाराजगी जाहिर करते हुए समुचित जानकारी विधायक जी को उपलब्ध कराने के साथ ही सभी ब्लॉक में स्मार्ट क्लासेज संचालित करवाने के निर्देश दिये।

🚀 यह भी पढ़ें :  टिहरी जिला कांग्रेस ने अमर शहीद श्रीदेव सुमन को किया याद

बैठक में सदस्यों द्वारा लोक निर्माण विभाग, वन विभाग, लघु सिंचाई, पर्यटन विभाग का परिव्यय बढ़ाने तथा पूल्ड आवास में कम करने का सुझाव दिया गया। समिति के सदस्यों द्वारा अपने-अपने सुझाव देते हुए जल संरक्षण एवं संवर्द्धन के तहत स्रोतों में पानी के बढ़ने, पंचायती राज विभाग, पर्यटन विभाग सहित अन्य विभागों केे खर्चे का ब्यौरा उपलब्ध कराने को कहा गया।

इस मौके पर अध्यक्ष जिला पंचायत सोना सजवाण, विधायक टिहरी किशोर उपाध्याय, धनोल्टी प्रीतम सिंह पंवार, घनसाली शक्ति लाल शाह, देवप्रयाग विनोद कंडारी, प्रतापनगर विक्रम सिंह, सीडीओ नमामि बंसल, डीडीओ सुनील कुमार, अध्यक्ष नगर पालिका परिषद टिहरी सीमा कृषाली, ब्लॉक प्रमुख चम्बा शिवानी बिष्ट, जाखणीधार सुनीता देवी, जौनपुर सीता रावत, धौलधार प्रभा बिष्ट, कीर्तिनगर सोबन सिंह पंवार, जिलाध्यक्ष भाजपा विनोद रतूड़ी, डीएफओ टिहरी वी.के. सिंह, सीएमओ डॉ. संजय जैन, जिला अर्थ एवं संख्याधिकारी साक्षी शर्मा, जिला योजना समिति सदस्य विजय सिंह कठैत, अमित सिंह, सतेंद्र सिंह धनोला, विनोद सिंह बिष्ट, सनवीर सिंह, रजनीश, विजेंदर सिंह चौहान, कार्तिकानंद, नीलम बिष्ट, कविता, रीता देवी, प्रमीला, पिंकी देवी, विमला, अमेन्द्र सिंह, दयाल सिंह, नरेन्द्र सिंह सहित अन्य जनपद स्तरीय अधिकारी, जनप्रतिनिधि मौजूद उपस्थित रहे।

Print Friendly, PDF & Email

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.