पसर गाँव के आतंक का पर्याय नरभक्षी बाघ को वन विभाग ने किया ढेर

पसर गाँव के आतंक का पर्याय नरभक्षी बाघ को वन विभाग ने किया ढेर
play icon Listen to this article

नरेन्द्रनगर विधानसभा क्षेत्र के ग्राम पसर पट्टी धमांदस्युं में गत सोमवार की सुबह करीब साढ़े छः बजे जब राजेन्द्र सिंह रावत उर्फ भगतसिंह पुत्र जीवा सिंह (उम्र 54 वर्ष) स्नान करने के बाद कमरे से बाहर पूजा करने के लिए फूल लेने गया तो पहले से घात लगाए बैठे बाघ ने उन पर हमला कर खत्म कर दिया था। इस नरभक्षी बाघ को आज वन विभाग के शिकारी दल ने ढेर कर दिया है।

[su_highlight background=”#880e09″ color=”#ffffff”]सरहद का साक्षी, गजा[/su_highlight]

इस घटना से क्षेत्र में दहशत का माहौल कायम था। ग्रामीणों ने मौके पर पहुंची डीएम टिहरी से नरभक्षी गुलदार को तत्काल मारने की अपील की थी। जिस पर जिलाधिकारी ने मृतक के परिजनों की हर संभव मदद करने का भरोसा दिलाया था तथा वन विभाग को बाघ को मारने के आदेश दिए थे। इस नरभक्षी बाघ को आज वन विभाग के शिकारी दल ने मार दिया है। गुलदार के मारे जाने के बाद ग्रामीणों ने थोड़ा राहत की सांस ली है।