SSP टिहरी द्वारा वर्चुअल माध्यम से किया गया मासिक अपराध गोष्ठी का आयोजन, दिए महत्त्वपूर्ण दिशा-निर्देश

SSP टिहरी द्वारा वर्चुअल माध्यम से किया गया मासिक अपराध गोष्ठी का आयोजन, दिए महत्त्वपूर्ण दिशा-निर्देश
SSP टिहरी द्वारा वर्चुअल माध्यम से किया गया मासिक अपराध गोष्ठी का आयोजन, दिए महत्त्वपूर्ण दिशा-निर्देश


 

play icon Listen to this article

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक, जनपद टिहरी गढ़वाल श्री नवनीत सिंह भुल्लर, द्वारा पुलिस कार्यालय, नई टिहरी में जनपद के समस्त राजपत्रित अधिकारीगणों, थानाध्यक्षों, शाखा प्रभारियों आदि से वर्चुअल माध्यम से जुड़कर मासिक अपराध गोष्ठी का आयोजन किया गया।

सरहद का साक्षी, नई टिहरी

मासिक अपराध गोष्ठी में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक महोदय द्वारा प्रभावी अपराध नियंत्रण सहित पुलिस मुख्यालय से प्राप्त दिशा-निर्देशों के तहत जनपद स्तर पर चलाए जा रहे विभिन्न अभियानों के साथ-साथ आगामी चारधाम यात्रा को लेकर जनपद पुलिस द्वारा की जा रही तैयारियों/ कार्य योजना की समीक्षा करते हुए निम्नवत महत्त्वपूर्ण दिशा-निर्देश कार्मिकों को निर्गत किए गए-

जनपद के समस्त थानाध्यक्षों द्वारा अपने अधीनस्थ कार्मिकों का प्रत्येक माह सम्मेलन आयोजित कर उनकी समस्याओं को सुनकर उनका निस्तारण किया जाए।

  •  पुलिस कल्याण के तहत सभी कर्मचारियों का गोल्डन कार्ड बनवाए जाने के साथ-साथ प्रत्येक कर्मचारी का बैंक खाता पुलिस सैलरी पैकेज (PSP) योजना से आच्छादित किया जाए।
  • जनपद में चलाए जा रहे विभिन्न अभियानों यथा:-माल मुकदमाती/ लावारिस/ मोटर वाहन से संबंधित वाहनों, अज्ञात शवों की शिनाख्त आदि में प्रगति लाकर त्वरित निस्तारण किया जाए।
  • लंबित विवेचना का यथाशीघ्र निस्तारण किया जाए।
  • शिकायती प्रार्थना पत्रों सहित विभिन्न आयोगों से संबंधित प्रार्थना पत्रों की समयबद्ध जांच पूरी की जाए।

चारधाम यात्रा में समय कम होने के फलस्वरूप यात्रा के निर्बाध व सफलतापूर्वक चलाए जाने को लेकर अभी से तैयारियां करने, जिसके अंतर्गत अधिक से अधिक बैरियर्स/साईन बोर्ड बनवाएं जाने, पर्यटन पुलिस चौकी की स्थापना करते हुए कर्मचारियों को नियुक्त करने, यात्रा मार्गों से अतिक्रमण को हटाए जाने तथा अवैध पार्किंग को लेकर होटल, टैक्सी, राफ्टिंग आदि यूनियनों के पदाधिकारियों से बैठक आयोजित कर वार्ता करने, चारधाम यात्रा मार्ग पर अनावश्यक पड़े मलबे/अवरोधकों को संबंधित विभागों से वार्ता कर हटाये जाने आदि महत्वपूर्ण दिशा-निर्देश निर्गत किए गए।