श्रीमद्भागवत महापुराण: धर्म जोड़ता है तोड़ता नहीं महामाया जी महाराज

0
67
यहाँ क्लिक कर पोस्ट सुनें

श्रीमद्भागवत महापुराण: धर्म जोड़ता है तोड़ता नहीं महामाया जी महाराज

प्रतापनगर विकासखंड के भेंनगी गाँव पट्टी रैका में आयोजित श्रीमद्भागवत महापुराण में व्यासपीठ पर विराजमान आचार्य महामाया जी महाराज ने कहा कि धर्म जोड़ता है तोड़ता नहीं है। उन्होंने कहा सनातन धर्म में श्रीमद्भागवत महापुराण सुनने मात्र से ही मानव जीवन धन्य हो जाता है।

महामाया जी ने कहा देवभूमि उत्तराखंड के कण-कण में देवी देवता वास करते हैं यहां काली काली सर्प नाग का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा केदारखंड के रमणीक स्थल सेम नागराजा में भगवान श्री कृष्ण साक्षात विराजमान है मथुरा में जब काली नाग से बहुत चिंतित और परेशान थे तो भगवान केदारखंड की यात्रा में आते हुए उन्हें रमणीक नगरी गंगू रमोला की धरती रोका रमोली के मध्य के शिखर पर शतरंज के सोड में स्वयं मंदिर स्थापित कर वहां उसकी पूजा होती है।

आज कथा में मुख्य अतिथि के रूप में जिला कांग्रेस कमेटी टिहरी गढ़वाल के अध्यक्ष राकेश राणा ने कहा की विद्वान आचार्य महामाया जी नौजवान पीढ़ी के लिए एक प्रेरणा के स्रोत है आपके आदरणीय पिताजी हिमालई राज्य के यशस्वी पुत्र डॉ दुर्गेश आचार्य जी महाराज ने देश ही नहीं बल्कि विदेशों में हमारी धर्म ध्वजा को पहराकर देव भूमि का नाम ऊंचा किया है।

उन्होंने कहा कीसृष्टि में सनातन धर्म सबसे पुराना और अखंड है लेकिन धर्म का बाजारीकरण नहीं होना चाहिए हम सबको अपने देवी-देवताओं और वेद पुराण महाकाव्य में विश्वास और भरोसा होना चाहिए।

उपरोक्त कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि के रूप में महिला कांग्रेस की जिलाध्यक्ष श्रीमती आशा रावत प्रदेश कांग्रेस के सदस्य देवेंद्र नौटियाल वरिष्ठ कांग्रेस नेता मुरारीलाल खंडवाल ने ग्राम वासियों का धन्यवाद व्यक्त करते हुए कहा कि आप सब ने कथा के श्रवण के साथ हम सबका स्वागत सत्कार किया।

कार्यक्रम समिति के सभी पदाधिकारी सहित ग्राम प्रधान राजीव खरोला, जसपाल सिंह नवाल, अजीत खरोला, फौजी प्रीतम सिंह खरोला, वीरेंद्र खरोला, परमवीर सिंह पोखरियाल, भगवान सिंह पोखरियाल, कांग्रेस नेता राहुल खरोला, सेन सिंह पवार, नवीन खरोला सहित कांडा पढ़िया सेम घंडियालकी, ओखला कोलधार, बसेली सहित रेका पट्टी से सैकड़ों की संख्या में श्रद्धालु पहुंचे थे।

Comment