श्रीमद्भागवत कथा ज्ञान यज्ञ का समापन,  व्यापार सभा ने किया भंडारे का आयोजन

61
श्रीमद्भागवत कथा ज्ञान यज्ञ का समापन,  व्यापार सभा ने किया भंडारे का आयोजन

श्रीमद्भागवत कथा ज्ञान यज्ञ का समापन,  व्यापार सभा ने किया भंडारे का आयोजन

गजा, डी.पी. उनियाल: टिहरी गढ़वाल नरेन्द्र नगर विधानसभा क्षेत्र के नगर पंचायत गजा में आयोजित श्रीमद्भागवत कथा ज्ञान यज्ञ का समापन व्यास गद्दी से आशीर्वाद के साथ हुआ। सात दिवशीय इस महायज्ञ में समापन पर व्यापार सभा गजा की ओर से रसोइया द्वारा तैयार दाल भात बनाकर भंडारे का आयोजन किया गया, जिसमें उपस्थित रहे सभी व्यापारियों के द्वारा सहयोग किया गया है।

समापन अवसर पर कथा वक्ता आचार्य स्वयंवर प्रसाद उनियाल ने राजा परीक्षित के मोक्ष प्राप्ति का वर्णन एवं श्रीमद्भागवत कथा श्रवण करने का महातम्य बताते हुए गौकर्ण धुंधकारी की कथा का श्रवण कराया।

उन्होंने कहा कि धुंधकारी को मोक्ष की प्राप्ति साथ दिनों तक भागवत कथा सुनने से हुई है इसलिए हमें अपने जीवन में सत्कर्म करते हुए अच्छे विचारों के साथ महापुराणों का श्रवण करना चाहिए। राजा परीक्षित को मोक्ष की प्राप्ति तभी हुई जब श्रीमद्भागवत कथा श्रवण किया गया।

आचार्य स्वयंवर प्रसाद उनियाल ने युवाओं को संदेश देते हुए कहा कि हमारा जन्म भारत में हुआ है व उत्तराखंड देवभूमि है हमें अच्छे विचारों संस्कृति, संस्कारों के साथ स्वस्थ भारत बनाना है कहा कि युवाओं को श्रीमद्भागवत कथा पुराण श्रवण करना चाहिए। कर्मों का फल किस प्रकार व्यक्ति को मिलता है इस पर भी प्रवचन किया।

आज की पूजा में ललित असवाल, विनोद सिंह चौहान ने देवताओं का आह्वान किया। समापन पर उपस्थित सभी श्रोताओं ने व्यास गद्दी से आशीर्वाद लिया।

इस अवसर पर यशपाल सिंह सोबत सिंह, रविंद्र सिंह, मकान सिंह, जय प्रकाश, सुरेन्द्र सिंह, कुंवर सिंह, उम्मेद सिंह, राजेंद्र सिंह, आनन्द सिंह, प्रियंका चौहान, पुष्पा खडवाल, मधु बबीता सहित सैकड़ों लोग उपस्थित रहे। पूजा कार्यक्रम पंडित अंकेश उनियाल, ओमप्रकाश उनियाल, नीरज उनियाल, अशोक सेमलटी ने सम्पन्न कराया।

Comment