Result: श्रीदेव सुमन उत्तराखण्ड विश्वविद्यालय ने व्यावसयिक पाठ्यक्रमों के 40 से अधिक परीक्षा परिणाम किये घोषित

135
श्रीदेव सुमन उत्तराखण्ड विश्वविद्यालय ने व्यावसयिक पाठ्यक्रमों के 40 से अधिक परीक्षा परिणाम किये घोषित
यहाँ क्लिक कर पोस्ट सुनें

Result: श्रीदेव सुमन उत्तराखण्ड विश्वविद्यालय ने व्यावसयिक पाठ्यक्रमों के 40 से अधिक परीक्षा परिणाम किये घोषित

ऋषिकेश: (Result) श्रीदेव सुमन उत्तराखण्ड विश्वविद्यालय द्वारा व्यावसयिक पाठ्यक्रमों से सम्बन्धित विष सेमेस्टर की 40 से अधिक परीक्षा परिणाम घोषित कर दिये गये हैं जिसमें से एम०एस०सी०, मत्सत्य विज्ञान, एम०पी०एड०, एम०एफ०ए०, एम०एस०डब्लू० पी०जी० डिप्लोमा इन मेरीटाईम इंजीनीयरिंग, पी०जी० डिप्लोमा इन फिल्म प्रोडक्शन, बी०बी०ए०, बी०ए० आनर्स मॉस कॉम एडं जर्नलिज्म, बी०एस०सी० फैशन डिजाइनिंग, बी०एस०सी० एयर क्राफ्ट मेन्टनेंस, बी०ए० योगा, बी०एस०सी० फूड टैंक, एम०ए० योगा सहित अनेक विषयों के परीक्षा परिणाम ऑनलाईन कर दिये गये हैं।

विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो० एन०के० जोशी ने बताया कि समय पर परीक्षाएं आयोजित कर उनके परिणाम घोषित करना उनकी सर्वोच्च प्राथमिकता में हैं। उन्होने कहा कि जल्द ही विषम सेमेस्टर परीक्षाओं सम्बन्धित सभी परीक्षा परिणाम सार्वजनिक कर दिये जाएंगे।

प्रो0 जोशी ने कहा कि विश्वविद्यालय का सत्र नियंत्रित किया जा रहा है, आगामी सत्र से निर्धारित समय पर ही परीक्षाएं सम्पन्न करायी जाएंगी जिससे छात्र-छात्राओ को अग्रिम कक्षाओं में प्रवेश तथा प्रतियोगी परीक्षाओं में सम्मिलित होने के अवसर प्राप्त होगें।

श्रीदेव सुमन उत्तराखण्ड विश्वविद्यालय में नई शिक्षा नीति वर्ष 2022 से स्नातक स्तर पर लागू कर दी गयी है जिसे वर्तमान वर्ष 2023 से स्नातकोत्तर स्तर पर भी लागू कर दिया गया है। विश्वविद्यालय में मानव संसाधन की कमी के बावजूद भी समय पर परीक्षाएं व परीक्षा परिणाम घोषित करने के पूर्ण प्रयास किये जा रहे हैं।

सहायक परीक्षा नियंत्रक व्या० परीक्षा डॉo हेमन्त बिष्ट ने बताया कि कुलपति प्रो0 एन0के0 जोशी के कुशल निर्देशन में विश्वविद्यालय निरन्तर प्रगति कर रहा है तथा वर्ष 2023 से निश्चित तौर पर सत्र नियंत्रित हो जाएगा। उन्होंने बताया कि शीघ्र ही शेष परीक्षा परिणाम भी घोषित कर दिये जाएंगे।

छात्र-छात्राएं परीक्षा परिणाम विश्वविद्यालय की अधिकारिक वेबसाईट पर देख सकते हैं।

Click Here for Result

Comment