स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों और नमामि गंगे को समर्पित रहा कार्यक्रम

play icon Listen to this article

नेहरू युवा केंद्र द्वारा आयोजित किया गया कार्यक्रम

एनसीसी कैडेटस के द्वारा किया गया प्रतिभाग

वाद विवाद प्रतियोगिता में प्रथम द्वितीय और तृतीय स्थान प्राप्त को प्रदान किया पुरस्कार।

[su_highlight background=”#091688″ color=”#ffffff”]सरहद का साक्षी@कवि:सोमवारी लाल सकलानी, निशांत[/su_highlight]

हेमवती नंदन बहुगुणा गढ़वाल विश्वविद्यालय बादशाहीथौल, टिहरी गढ़वाल के सभागार में नेहरू युवा केंद्र के द्वारा आयोजित कार्यक्रम में जिले भर से आए हुए एन सी सी कैडेट्स से रूबरू हुआ तथा आयोजित वाद-विवाद प्रतियोगिता में निर्णायक के रूप में भी कार्य किया। इसके साथ ही बच्चों को संबोधित करने का सौभाग्य प्राप्त हुआ।

नदी बचाओ अभियान के तहत नमामि गंगे तथा स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों को समर्पित यह कार्यक्रम आज अद्भुत रहा।

[irp]जिला युवा नेहरू युवा केंद्र के जिला युवा कल्याण अधिकारी श्री अभिलाष सिंह, जिला परियोजना अधिकारी श्री अरुण उनियाल, श्री अनिल हटवाल, संयोजक अक्षत पवन बिजल्वाण, कार्यक्रम संचालक महेश खाती एवं कुमारी स्वाति के अलावा मंचासीन गढ़वाल विश्वविद्यालय के प्रोफ़ेसर राकेश गोदियाल, पूर्व सैनिक संगठन के संरक्षक श्री इंदर सिंह नेगी, कवि सोमवारी लाल सकलानी, निशांत आदि उपस्थित थे।
05 घंटे तक चली वाद -विवाद प्रतियोगिता तथा कार्यक्रम में प्रतिभागियों ने तीलू रौतेली, वी सी गबर सिंह संभाजी महाराज, बिपिन रावत, सरदार पटेल, अनेक स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों और सुमन जी पर अपने विचार प्रस्तुत किए।

स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों और नमामि गंगे को समर्पित रहा कार्यक्रम

इस मौके पर अतिथियों और नेहरु युवा केन्द्र के अधिकारियों द्वारा अनेक महत्वपूर्ण पहलुओं पर प्रकाश डाला गया।

[irp]प्रतियोगिता में प्रथम द्वितीय और तृतीय श्रेणी प्राप्त प्रतिभागियों का चयन हुआ। जिनमें कुमारी आयशा को प्रथम स्थान, आदित्य को द्वितीय स्थान और ईशा कोठारी को तृतीय स्थान प्राप्त हुआ। प्रथम द्वितीय और तृतीय पुरस्कार प्राप्त करने वाले प्रतिभागियों को प्रमाण पत्र और मोमेंट दिए गए। इसके साथ ही अतिथि मंडल को सॉल भेंट कर प्रतीक चिन्ह प्रदान किए गए।