play icon Listen to this article

नेहरू युवा केंद्र एवं नमामि गंगे टिहरी गढ़वाल के संयुक्त तत्वावधान में 2 दिवसीय ग्रामीण स्तरीय गंगा दूत प्रशिक्षण कार्यशाला का आयोजन जाखणीधार ब्लॉक के भटवाड़ा ग्राम में किया गया।

कार्यशाला का शुभारम्भ क्षेत्र पंचायत श्रीमती गुड्डी देवी एवं ग्राम प्रधान चौंड श्रीमती सरला सेमवाल एवं उप प्रधान भटवाड़ा श्री विद्यादत्त जोशी के द्वारा किया गया। कार्यक्रम में विभिन्न गांवों से आये 50 युवाओं ने प्रतिभाग किया।

प्रशिक्षक प्रदीप कोठारी के द्वारा युवाओं के मध्य अपने अनुभव साझा करते हुए बताया की नमामि गंगे परियोजना किस प्रकार धरातल पर गंगा नदी के संरक्षण के लिए गंगा ग्रामों में निरंतर तरह तरह के कार्यक्रम चला रही है जिससे लोगो की गंगा नदी के प्रति सजगता और सहभागिता बने और लोग नदी को स्वच्छ रखने में अपना अधिक से अधिक योगदान दे सकें।

🚀 यह भी पढ़ें :  दैवीय आपदा से हुई सार्वजनिक क्षति के निर्माण कार्यों हेतु डीएम में की 20 लाख की धनराशि आवंटित

जिला परियोजना अधिकारी अरुण उनियाल के द्वारा बताया गया की गंगा नदी को अविरल और निर्मल बनाये रखने में हर एक इंसान की भूमिका किस प्रकार है और नदियों के साथ साथ अपने गांव एवं आस पास के जल स्रोतों को उनके प्राकर्तिक रूप में बचाये रखना कितना ज्यादा जरुरी है।

🚀 यह भी पढ़ें :  विधायक ने जाखणीधार के मठियाली गांव को दिए बर्तन, प्राथमिक विद्यालय हेतु 10 लाख की स्वीकृति

जिला युवा अधिकारी अविनाश सिंह के द्वारा सभी लोगो का धन्यवाद करते हुए बताया गया कि इस तरह के कार्यक्रम लोगो में नदियों एवं जल संरक्षण की रुपरेखा से किस तरह कारगर हो सकते है और जन भागीदारी और युवाओं के सहयोग से परियोजना के लक्ष्यों को आसानी से प्राप्त किया जा सकता है।

स्थानीय जन प्रतिनिधियों के द्वारा कार्यक्रम की सराहना करते हुए कहा गया कि इस तरह के कार्यक्रम ग्रामीण जगहों में जागरूकता और सत्तर्कता बढ़ाने के लिए बहुत अधिक कारगर हो सकते है।

Print Friendly, PDF & Email

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.