जनता मिलन कार्यक्रम: सभी लम्बित घोषणाएं एक सप्ताह में निस्तारित करना सुनिश्चित करें- मयूर दीक्षित

124
जनता मिलन कार्यक्रम: सभी लम्बित घोषणाएं एक सप्ताह में निस्तारित करना सुनिश्चित करें- मयूर दीक्षित
यहाँ क्लिक कर पोस्ट सुनें

जनता मिलन कार्यक्रम: सभी लम्बित घोषणाएं एक सप्ताह में निस्तारित करना सुनिश्चित करें- मयूर दीक्षित

Tehri News, New Tehri: जनता मिलन कार्यक्रम में जिलाधिकारी मयूर दीक्षित ने कहा कि सभी लम्बित घोषणाएं, जिस भी स्तर पर लम्बित है, उन्हें एक सप्ताह में निस्तारित करना सुनिश्चित करें। लोक निर्माण विभाग को निर्देश दिये गये कि जिन घोषणाओं में सर्वे कार्य किया जाना है, उनका तत्काल सर्वे कराकर निराकरण करना सुनिश्चित करें।

के तहत सोमवार को जिलाधिकारी मयूर दीक्षित ने जिला सभागार, नई टिहरी में जनता की समस्याएं सुनी। इस मौके पर 38 शिकायतें/अनुरोध पत्र दर्ज किये गए, जो पुर्नवास, शिक्षा, लोनिवि, पीएमजीएसवाई, शिक्षा, पेयजल निगम, उद्योग, नगरपालिका टिहरी, सहकारिता, कृषि, विद्युत, उद्यान, बाल विकास, पर्यटन, राजस्व विभाग से संबंधित थी।

जिलाधिकारी ने कहा कि अधिकारी विभिन्न कार्यक्रमों में प्राप्त शिकायतों को गम्भीरता से लेते हुए शीघ्र निस्तारण करना सुनिश्चित करें।

30 सूत्रीय कार्यक्रम की समीक्षा के दौरान जिलाधिकारी ने कहा कि सभी अधिकारी कार्यदाई संस्थाओं के कार्यों की निरीक्षण रिपोर्ट भी उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें। खाद्य पदार्थों में मिलावट को रोेकने के हेतु खाद्य अभिहित अधिकारी को जांच की कार्यवाही को बढ़ाने के निर्देश दिये गये।

जिलाधिकारी द्वारा सभी संबंधित विभागों को सेवा प्रदाता विभागों की विविध सेवाओं के संचालन एवं रखरखाव के कार्य में स्वंय सेवी संस्थाओं/महिला समूहों के माध्यम से कार्य करवाने के निर्देश दिये गये। कहा कि सरलीकरण, समाधान एवं निस्तारण के तहत कार्य कर आम जनमानस को लाभ पहंुचाना सुनिश्चित करें।

जिलाधिकारी ने कहा कि क्षतिग्रस्त पटवारी चौकियां, यदि हों तो, की सूचना/इस्टीमेट, एसडीआरएफ मानकों अनुरूप आपदा क्षति के इस्टीमेट, पुराने स्कूल भवन ध्वस्तीकरण के प्रस्ताव भेजना सुनिश्चित करें। इसके साथ ही सभी विभागों को विभिन्न बैंकों में विभागीय बैंक एकांउट खाते चैक करने के निर्देश दिये गये। साथ ही कार्मिकों के आईडी कार्ड बनाने के निर्देश दिये गये।

जनता मिलन कार्यक्रम में अध्यक्ष अभिभावक संघ रा.इ.का. सेमंडीधार जाखणीधार विजयपाल रावत ने रा.इ.का. सेमंडीधार में अध्यापकों की नियुक्ति, अतिरिक्त शौचालय व किचन बनवाने की मांग की गई, जिस पर जिलाधिकारी ने मुख्य शिक्षा अधिकारी को समस्याओं का समाधान कराने के निर्देश दिये गये।

ग्राम हरशाल के भजन लाल ने बताया कि आपदा से बादशाहीथौल में उनके मकान का पुश्ता ध्वस्त हो गया तथा पुश्ते के नीचे जू.हा.स्कूल को खतरा बना हुआ है, इस पर जिलाधिकारी ने सीईओ/डीईओ को स्कूल की सुरक्षा दीवार हेतु इस्टीमेट प्रस्तत करने के निर्देश दिये।

रावत गांव निवासी मधुलाल ने मुख्यमंत्री राहत कोष से आर्थिक सहायता की मांग की गई, प्रकरण पर एसडीएम प्रतापनगर को आर्थिक सहायता हेतु रिर्पोट देने को कहा गया।

ग्राम सेमलासू रानीबाग के भगवान रावत ने ग्राम सेमलासू रानीबाग की भूमि के बदले कोई सुविधा न मिलने की बात कही गई, जिस पर एसई पुनर्वास को शिकायतकर्ता से सम्पर्क कर शिकायत का निस्तारण करने के निर्देश दिये गये। तत्पश्चात् जिलाधिकारी द्वारा सीएम घोषणा के संबंध में संबंधित अधिकारियों के साथ समीक्षा की गई।

जिलाधिकारी ने कहा कि सभी लम्बित घोषणाएं, जिस भी स्तर पर लम्बित है, उन्हें एक सप्ताह में निस्तारित करना सुनिश्चित करें। लोक निर्माण विभाग को निर्देश दिये गये कि जिन घोषणाओं में सर्वे कार्य किया जाना है, उनका तत्काल सर्वे कराकर निराकरण करना सुनिश्चित करें

समीक्षा के दौरान अवगत कराया गया कि स्वास्थ्य विभाग की 07 घोषणाओं में से 06 पूर्ण, 01 कार्य गतिमान, जल संस्थान टिहरी की 03 में से 02 पूर्ण, 01 गतिमान, पेयजल निगम की 14 में से 10 पूर्ण, 04 गतिमान, लोनिवि की 06 पूर्ण व 08 शासन स्तर पर लम्बित, लोनिवि कीर्तिनगर की 22 में से 09 पूर्ण, शेष में कार्य गतिमान है। इसी प्रकार शिक्षा, पंचायती राज, पर्यटन, वन, उद्यान, शिक्षा, बाल विकास आदि विभागों की घोषणाओं के संबंध में भी समीक्षा की गई।

मुख्य विकास अधिकारी मनीष कुमार ने 30 सूत्रीय कार्यक्रम के तहत 30 बिन्दुओं पर संबंधित विभागों द्वारा क्रियान्वित किये जाने संबंधी जानकारी पीएम गति शक्ति पोर्टल के माध्यम से दी गई। इसके साथ ही एनीमिया के निवारण हेतु बनाई गई कार्ययोजना, जन-जागरूकता एवं विभिन्न विभागों द्वारा सम्पादित किये जाने वाले कार्याें की जानकारी दी गई।

बैठक में डीएफओ पुनीत तोमर, एडीएम के.के. मिश्र, डीडीओ सुनील कुमार, सीएमओ मनु जैन, सीएओ अभिलाषा भट्ट, सीईओ एलएम चमोला, जिला सैनिक कल्याण अधिकारी कर्नल योगेन्द्र कुमार (अ.प्रा.), जिला सेवायोजन अधिकारी विनायक श्रीवास्तव, डीपीआरओ एमएम खान, जिला समाज कल्याण अधिकारी के.एस. चौहान, डीएसओ अरूण वर्मा, डीपीओ शौहेब हुसैन, एसडीएम अपूर्वा सिंह, आपदा प्रबन्धन अधिकारी बृजेश भट्ट सहित अन्य जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे।

Comment