लोहीताल पम्पिंग पेयजल योजना, शुरुआती दौर में ही चरमराने लगी है व्यवस्था, नहीं हो पा रही है समुचित जलापूर्ति

लोहीताल पम्पिंग पेयजल योजना, शुरुआती दौर में ही चरमराने लगी है व्यवस्था, नहीं हो पा रही है समुचित जलापूर्ति
Work started under har ghar nal
play icon Listen to this article

मखलोगी प्रखण्ड के गांवों को पेयजल आपूर्ति हेतु निर्मित लोहीताल पम्पिंग पेयजल योजना अपने शुरूआती दौर में ही चरमराती दिख रही है। यह योजना मौसमी पारा चढ़ते ही गांवों की समुचित जलापूर्ति को ठेगा दिखाने लगी है।

इस योजना से लाभान्वित किए जा रहे ग्राम पंचायत छाती के कोठी तल्ली एवं मोल्ठा तोकों में निवासित उपभोक्ताओं को समुचित जलापूर्ति नहीं हो पा रही है। कोठी तल्ली के गजा नकोट मोटर मार्ग के नरसिंगधार स्थित उपभोक्ताओं के घरों समेत मोल्ठा के उपभोक्ताओं को जलापूर्ति नहीं हो पा रही है।

स्थानीय उपभोक्ता राजेन्द्र सिंह चौहान एवं विक्रम सिंह धनोला समेत गांव के कई नागरिकों ने योजना के शुरूआती चरण की जलापूर्ति पर रोष के साथ चिन्ता व्यक्त करते हुए कहा कि जब अभी से योजना की स्थिति चिन्ताजनक है तो निकट भविष्य में गांवों को समुचित जलापूर्ति का सपना संजोना टेढ़ी खीर साबित होगा।

उन्होंने क्षेत्रीय विधायक किशोर उपाध्याय का योजना की ओर ध्यानाकषर्ण करते हुए कहा कि योजना का सही ढंग से पुनगर्ठन किया जाना कम से कम आगामी 10 वर्षों के जनसंख्या घनत्व के दृष्टिगत किया जाना नितान्त आवश्यक है।