टिहरी जिले में धूमधाम एवं भव्य रूप से मनाया गया कारगिल दिवस (शौर्य दिवस)

279
टिहरी जिले में धूमधाम एवं भव्य रूप से मनाया गया कारगिल दिवस (शौर्य दिवस)

टिहरी जिले में धूमधाम एवं भव्य रूप से मनाया गया कारगिल दिवस (शौर्य दिवस)

शहीद हुए सैनिकों की 09 वीर नारियों एवं 02 पूर्व सैनिकों को शॉल ओढ़ाकर किया सम्मानित

सैनिकों एवं देश के प्रति सम्मान एवं समर्पण की भावना प्रत्येक दिल में होनी चाहिए: किशोर उपाध्याय

Tehri News: शौर्य दिवस के अवसर पर जनपद मुख्यालय बौराड़ी स्थित नवनिर्मित युद्ध स्मारक में मुख्य अतिथि विधायक टिहरी किशोर उपाध्याय, जिलाधिकारी मयूर दीक्षित, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक नवनीत सिंह भुल्लर, जिला सैनिक कल्याण एवं पुनर्वास अधिकारी योगेंद्र कुमार सहित अन्य गणमान्यों, जनप्रतिनिधियों, पूर्व सैनिकों, वीर नारियों, अधिकारियों, मीडिया प्रतिनिधियों द्वारा कारगिल युद्ध के अमर शहीदों को पुष्पचक्र एवं श्रद्धासुमन अर्पित कर श्रद्धांजलि दी गई।

शहीदों के सम्मान में 342 फिल्ड रेजीमेंट के सूबेदर एम.डी. अंसारी के मार्गदर्शन मंे सेना के 10 जवानों की टुकड़ी द्वारा सलामी/नमन/प्रणाम कर श्रद्धाजंलि दी गई। 06 ग्रिनेडियर के सुबेदार कुलदीप कुमार के मार्गदर्शन में सेना के जवानों द्वारा अतिथियों का स्वागत एवं कार्यक्रम समापन पर राष्ट्रगान सैन्य बैंड की धुन पर किया गया। कारगिल दिवस पर स्कूली बच्चों द्वारा जगह- जगह प्रभात फेरी निकाल कर देशभक्ति के गीतों के साथ शहीदों को श्रद्धांजलि दी गयी।

कार्यक्रम में कारगिल सहित अन्य युद्धों में शहीद हुए सैनिकों की 09 वीर नारियों एवं 02 पूर्व सैनिकों को शॉल ओढ़ाकर सम्मानित किया गया। इसके साथ ही देशभक्ति पर आधारित चित्रकला एवं निबंध प्रतियोगिता में प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय स्थान प्राप्त करने वाले स्कूली बच्चों को पुरूस्कृत किया गया। इस मौके पर विभिन्न स्कूली बच्चों द्वारा देशभक्ति से संबंधित सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किए गए, जिन्हें सम्मानित किया गया।

जिला मुख्यालय पर आयोजित कार्यक्रम में मुख्य अतिथि श्री किशोर उपाध्याय ने अमर शहीदों एवं उनके परिजनों को नमन करते हुए कहा कि अतुल शौर्य, साहस से भरी हमारी गढ़वाल राईफल के जवान किसी भी युद्व में कभी भी पीछे नही रहें हैं उनकी सहादत और कुर्बानी से आज हम और हमारी देश की सीमायें सुरक्षित है। कहा कि सैनिकों एवं देश के प्रति सम्मान एवं समर्पण की भावना प्रत्येक दिल में होनी चाहिए। कहा कि शहीदों के परिवार के प्रति भी हमारा दायित्व बनता है।

जिलाधिकारी मयूर दीक्षित ने वीर शहीदों के साथ ही उनकी वीरगंनाओं को नमन करते हुए कहा कि पूर्व सैनिकों एवं सैनिको के परिजनों/आश्रितों हेतु अलग से सेल गठित करने हेतु जिला सैनिक कल्याण अधिकारी को निर्देश दिये गये हैं। उन्होंने सभी विभागों को स्पष्ट निर्देश दिये कि किसी भी विभाग में सैनिकों से संबंधित कोई भी समस्या अगर आती है, उसका तत्काल संज्ञान लेकर प्राथमिकता पर निस्तारण करना सुनिश्चित करें।

बताया कि इस युद्ध में उत्तराखण्ड के वीर सैनिकों ने भी हिस्सा लिया तथा उसमें राज्य के 75 रणबाकुरों ने अपना सर्वाेच्च बलिदान दिया। इन्ही रणबाकुरों में टिहरी जनपद के 12 वीर सपूत भी शामिल थे।

इस अवसर पर अध्यक्ष नगर पालिका टिहरी सीमा कृषाली, चम्बा सुमना रमोला, ब्लॉक प्रमुख जाखणीधार सुनीता देवी, पूर्व सैनिक संगठन के अध्यक्ष देव सिंह पुण्डीर, एसडीएम टिहरी अपूर्वा सिंह, जिलाध्यक्ष भाजपा राजेंद्र नोटियाल, जिलाध्यक्ष कांग्रेस राकेश राणा, डीईओ वी.के. ढौंडियाल, जनप्रतिनिधि खेम सिंह चौहान, प्रमोद उनियाल, मंच संचालक सुशील कोटनाला, सैनिक कल्याण विभाग के सभी ब्लॉक प्रतिनिधि सहित पूर्व सैनिक, अधिकारी/कर्मचारी, मीडिया प्रतिनिधि, मीडिया कर्मी, स्कूली बच्चे, आम जनमानस आदि मौजूद रहे।

Comment