भिलंगना ब्लॉक से यूक्रेन में होटल व्यवसाय मे कार्य रत के परिवार जनों में बढ़ी चिन्ता

ऑपरेशन गंगा: यूक्रेन के पड़ोसी देशों से विशेष उड़ानों द्वारा 2100 से अधिक भारतीयों को लाया गया स्वदेश
play icon Listen to this article

पहाड़ की दहाड़  के संपादक तेज राम सेमवाल ने बताया कि जनपद टिहरी के भिलंगना ब्लॉक से सबसे ज्यादा लोग विदेशों में विभिन्न देशों में अपने व्यवसाय व नौकरी के माध्ध्यम से निवासरत है।

[su_highlight background=”#880e09″ color=”#ffffff”]सरहद का साक्षी, घनसाली [/su_highlight]

रूस व युक्रेन के मध्य चल रहे युद्ध के कारण कई भारतीयों को संकट का सामना करना पड़ रहा है। प्रधान मंत्री मोदी के सार्थक प्रयासों से भारत के नागरिक अपने को सुरक्षित महसूस कर रहे है फिर भी परिजनों की चिंता बनी हुई है।

घनसाली तहसील के भिलंगना घाटी के ग्राम बजिंगा के मकान सिंह पुत्र शेर सिंह रौतेला तथा ग्राम गवाना मल्ला के सुंदर सिंह रावत युक्रेन के खारकीव में होटल लाइन में कार्यरत है। सामाजिक कार्यकर्ता गोविंद सिंह रौतेला के हवाले से कहा कि यह दोनों व्यक्ति होटल लाइन में हैं, उनकी अपने परिजनों से बात चीत हो रही है। अभी सब कुशल है लेकिन युद्ध के हालात बढ़े तो स्थिति बिगड़ सकती है। एसडीएम घनसाली गोस्वामी ने बताया कि अभी तक उन्हें इस संबंध में कोई जानकारी नही मिली है।

दूसरी तरफ क्षेत्र के जन प्रतिनिधियों, सामाजिक संगठनों ने युक्रेन में नौकरी, शिक्षा व व्यवसाय के दृष्टि से निवास रत लोगों के परिजनों से सूचना शासन प्रशासन को वस्तु स्थिति के साथ उपलब्ध कराने की अपील की है। उतराखंड के सवेदन शील मुख्यमंत्री पुष्कर धामी के सार्थक प्रयास से उतराखंड के सभी नागरिको के सुरक्षा की व्यवस्था की जा रही है।