गुरूवार , जुलाई 7 2022
Breaking News
उत्तराखंड ताजा अपडेट: सभी तीर्थयात्री सुरक्षित, चारों धामों में बारिश तथा दूर पहाड़ियों पर हिमपात, हालात सामान्य

उत्तराखंड ताजा अपडेट: सभी तीर्थयात्री सुरक्षित, चारों धामों में बारिश तथा दूर पहाड़ियों पर हिमपात, हालात सामान्य

play icon Listen to this article
[su_highlight background=”#091688″ color=”#ffffff”]सरहद का साक्षी, उत्तराखंड :[/su_highlight]इस वक्त की बड़ी खबर उत्तरकाशी गंगोत्री धाम से है गंगोत्री में लगातार हो रही मूसलाधार बारिश के चलते हिमपात होने लगा है। उत्तराखंड के कई जिलों को हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है अगले 24 घंटे में मौसम विभाग द्वारा भारी बारिश और ऊंची चोटियों में बर्फबारी बताई जा रही है।

ऋषिकेश: उत्तराखंड चारधाम जानेवाले तीर्थयात्री कल 17 अक्टूबर प्रात: तक बड़ी संख्या में ऋषिकेश एवं हरिद्वार पहुंचे है प्रशासन द्वारा उन्हें सुरक्षित स्थानों पर रहने की अपील की है इस क्रम में कई तीर्थयात्री हरिद्वार रेल्वे स्टेशन‌ एवं ऋषिकेश बस अड्डे पर रूके हुए हैं, हालांकि प्रशासन की उद्घोषणा के बाद 17 अक्टूबर प्रात: से ऋषिकेश बस अड्डे‌ में चार धाम से संबंधित वाहनों का संचालन बंद कर दिया गया है। ऋषिकेश – लक्ष्मण झूला सड़क मार्ग को वन वे कर दिया गया है। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने चारधाम आनेवाले तीर्थयात्रियों से अपील की है कि मौसम की स्थिति को देखते हुए दो दिन सामान्य स्थिति होनेक तक चारधाम यात्रा को टाल दें।

चंद्रभागा पुल, तपोवन, लक्ष्मण झूला,मुनिकीरेती भद्रकाली बेरियर से पुलिस ने यात्री वाहनों का प्रवेश बंद किया हुआ है। प्राप्त जानकारी के अनुसार श्री केदारनाथ धाम में कल रात से बारिश है लेकिन मंदाकिनी का जल स्तर अभी सामान्य है। सुरक्षा दीवार के निकट नदी का प्रवाह सामान्य है। मंदिर में सुबह से कुछ तीर्थयात्रियों ने दर्शन किये है।

🚀 यह भी पढ़ें :  कोरोना: तीसरे दिन भी 8 लाख से कम सक्रिय मामले लगातार चौथे दिन भी पॉजिटिव मामलों की राष्‍ट्रीय दर 8 प्रतिशत से कम

श्री केदारनाथ के निकट ऊंची चोटियों पर बर्फवारी हो रही है। श्री बदरीनाथ धाम में कल रात से लगातार हल्की बारिश है सभी निकटवर्ती पहाड़ियों पर बर्फवारी हो रही है। श्री गंगोत्री यमुनोत्री धाम में हल्की बारिश है। यात्रा मार्ग सुचारू हैं। गत 17 अक्टूबर से ही जिला प्रशासन एवं पुलिस द्वारा चारों धामों में मौसम की स्थिति एवं तीन दिन के एलर्ट को देखते हुए हरिद्वार,ऋषिकेष, सहित श्रीनगर, टिहरी, उत्तरकाशी रूद्रप्रयाग, गुप्तकाशी, उखीमठ कर्णप्रयाग, चमोली, जोशीमठ, पांडुकेश्वर आदि स्थानों में तीर्थयात्री फिलहाल जहां तक पहुंचे हैं कल तक उन्हीं स्थानों में सुरक्षित रूकने को कहा जा रहा है देवस्थानम बोर्ड के मीडिया प्रभारी डा. हरीश गौड़ ने बताया कि चारों धाम श्री बदरीनाथ, श्री केदारनाथ, श्री गंगोत्री, श्री यमुनोत्री धाम में नित्य प्रतिदिन होनेवाली पूजाएं संपन्न हो रही है। हालांकि बारिश एवं बर्फवारी से धामों में मौसम सर्द हो गया है।जो तीर्थयात्री धामों में रूके हैं वह सुरक्षित है मंदिर में दर्शन हेतु भी पहुंच रहे है हालांकि मौसम सामान्य होने के बाद ही वह अपने गंतव्य को प्रस्थान होकर सकेगें।

  • चारधाम यात्रा: सभी तीर्थयात्री सुरक्षित, चारों धामों में बारिश,तथा दूर पहाड़ियों पर बर्फवारी, हालात सामान्य ।।
  • सीएम पुष्कर सिंह धामी पहुंचे सचिवालय स्थित आपदा कंट्रोल रूम, प्रदेश में अतिवृष्टि की स्थिति की ली जानकारी
  • सीएम धामी ले रहे प्रदेश का जायजा, सरकारी अमला अलर्ट मोड़ पर
  • गृह मंत्री अमित शाह ने सीएम धामी को किया फोन, बारिश से प्रदेश के हालातों पर ली रिपोर्ट
🚀 यह भी पढ़ें :  उच्चस्तरीय समिति की रिपोर्ट में सभी की भावनाओं एवं विचारों का समावेश: महाराज

उत्तरकाशी: भारी वर्षा को को देखते हुए उत्तरकाशी प्रशासन यात्रियों की व्यवस्था में जुटा मौसम विभाग के अलर्ट व जनपद में हो रही बारिश को देखते हुए जिलाधिकारी मयूर दीक्षित लगातार मॉनिटरिंग कर रहें है। जिलाधिकारी आज सुबह जिला आपातकालीन परिचालन केंद्र पहुंचे। तथा फोन द्वारा सभी तहसीलों से बारिश की वस्तुस्थिति की जानकारी प्राप्त की।

जिलाधिकारी ने कहा कि जनपद में वर्तमान में हल्की बारिश हो रही है। यात्रियों को सुरक्षित जगह होटलों, धर्मशालाओं आदि स्थानों में ठहराया गया है। हर सेक्टर पर जिम्मेदार अधिकारियों की तैनाती की गई है। ताकि यात्रियों को उनके रहने,खाने-पीने को लेकर कोई दिक्कत न हो इस हेतु गंगोत्री धाम में एसपी मणिकांत मिश्रा,यमुनावैली में अपर जिलाधिकारी तीर्थपाल सिंह , एसडीएम बड़कोट शालिनी नेगी सहित अन्य अधिकारियों को जिम्मेदारी सौंपी गई है। तथा जीवन रेखा से जुड़े सभी विभागों को अलर्ट पर रहने के निर्देश दिए है।

उधर जिलाधिकारी के निर्देशों के क्रम में जिलापूर्ति अधिकारी मनोज सोनी एवं उनकी पूरी टीम होटल,धर्मशालाओं,ढाबों में जाकर यात्रियों से लगातार बातचीत कर रहें है। तथा यात्रियों को खाने-पीने और ठहरने के पुख्ता इतंजाम किए है। इसके अतिरिक्त होटल,धर्मशालाओं,ढाबों आदि में ओवर रेट को लेकर भी नियमित निगरानी रखी जा रही है।

🚀 यह भी पढ़ें :  कटघरे में योग गुरु: उत्तराखंड IMA ने बाबा रामदेव को भेजा 1000 करोड़ मानहानि का नोटिस

वहीं राजस्थान, मध्यप्रदेश, यूपी, पंजाब आदि राज्यों से आये हुए यात्रियों द्वारा जिला प्रशासन की प्रशंसा की है। यात्रियों द्वारा बताया गया कि मौसम विभाग की चेतावनी को देखते हुए जिला प्रशासन ने हमें सुरक्षित स्थानों में ठहराया है। तथा खाने-पीने व रहने की पुख्ता व्यवस्था की है।

यात्रियों को उनके रहने, खाने-पीने को लेकर कोई दिक्कत न हो इस हेतु गंगोत्री धाम में एसपी मणिकांत मिश्रा ,यमुना घाटी में अपर जिलाधिकारी तीर्थपाल सिंह , एसडीएम बड़कोट शालिनी नेगी सहित अन्य अधिकारियों को जिम्मेदारी सौंपी गई है।

Print Friendly, PDF & Email

Check Also

केवड़िया गुजरात में खेल मंत्रालय द्वारा आयोजित "खेल एवं युवा मामलों के मंत्रियों के राष्ट्रीय सम्मेलन" में प्रदेश की खेल मंत्री श्रीमती रेखा आर्य ने किया प्रतिभाग

केवड़िया गुजरात में खेल मंत्रालय द्वारा आयोजित “खेल एवं युवा मामलों के मंत्रियों के राष्ट्रीय सम्मेलन” में प्रदेश की खेल मंत्री श्रीमती रेखा आर्य ने किया प्रतिभाग

Listen to this article गुजरात के केवड़िया में खेल मंत्रालय द्वारा आयोजित “खेल एवं युवा …

error: Content is protected !!