भूस्खलन से हाईटेंशन विद्युत टावर खतरे की जद में

766
भूस्खलन से हाईटेंशन विद्युत टावर खतरे की जद में
यहाँ क्लिक कर पोस्ट सुनें

भूस्खलन से हाईटेंशन विद्युत टावर खतरे की जद में

छाती मोल्ठा मोटर मार्ग निर्माण से आम रास्ते पूर्णतया क्षतिग्रस्त

नकोट, टिहरीः नव निर्मित छाती मोल्ठा मोटर मार्ग के कि.मी. 3 पर हो रहे भूस्खलन से वहां पर अवस्थित हाईटेंशन विद्युत टावर खतरे की जद में है। यदि लगातार भीषण बारीस होती रही और भूस्खलन जारी रहा तो टिहरी बांध परियोजना से आने वाली हाईटेंशन विद्युत पारेषण लाईन का टावर धराशायी हो सकता है। जिस कारण इस क्षेत्र के वासिंदों को अनहोनी घटना का शिकार होना पड़ सकता है।

आपको बताते चलें कि कुछ समय पूर्व लोक निर्माण विभाग चम्बा द्वारा छाती मोल्ठा मोटर मार्ग का निर्माण किया गया है। इस मोटर मार्ग को टिहरी बांध परियोजना की हाईटेंशन विद्युत पारेषण लाईन की अनदेखी करते हुए मोल्ठा नामे तोक में निर्मित किया गया है। हाईटेंशन विद्युत टावर के निकट मोटर मार्ग को मोड़ दिया गया और उक्त स्थान पर अब भारी बरसात के चलते भूस्खलन हो रहा है, जिस कारण उक्त विद्युत टावर के नीचे की जमीन भूस्खलित हो रही है और विद्युत टावर के ढहने का भय बना हुआ है। यदि यह भूस्खलन जारी रहा तो यह विद्युत टावर धराशायी हो सकता है। स्थानीय ग्रामीणों द्वारा इस भावी दुर्घटना की आशंका के चलते लोक निर्माण विभाग चम्बा के अधिकारियों को दूरभाष से सूचना प्रेषित की गई है।

इसके अलावा छाती मोल्ठा मोटर मार्ग निर्माण से ग्राम छाती गांववासियों के आम रास्ते पूर्णतया क्षतिग्रस्त हो गए थे। जिस कारण ग्रामीणों के पालते मवेशियों एवं आम नागरिकों की आवाजाही उन रास्तों के क्षतिग्रस्त होने से बाधित हो चुकी है। लोक निर्माण विभाग द्वारा उन आम रास्तों की मरम्मत के लिए अभी तक कोई कार्यवाही नहीं की गई है। इस हेतु ग्रामीणों में लोक निर्माण विभाग के प्रति आक्रोश भी है।

Comment