महाविद्यालय मजरा महादेव में नमामि गंगे परियोजना के अंतर्गत मनाया ‘हरेला पखवाड़ा’ 

80
महाविद्यालय मजरा महादेव में नमामि गंगे परियोजना के अंतर्गत मनाया 'हरेला पखवाड़ा' 
यहाँ क्लिक कर पोस्ट सुनें

महाविद्यालय मजरा महादेव में नमामि गंगे परियोजना के अंतर्गत मनाया ‘हरेला पखवाड़ा’ 

पौड़ी, विक्रम सिंह रावत: राजकीय महाविद्यालय मजरा महादेव में आज नमामि गंगे परियोजना के अंतर्गत ‘हरेला पखवाड़ा’ मनाया गया। जिसमें वृक्षारोपण कार्यक्रम का सफल आयोजन किया गया।‌‌

महाविद्यालय के प्राध्यापकों ने छात्रों को संबोधित करते हुए कहा कि- वृक्ष प्राणियों का वास्तविक मित्र है। यही कारण है कि हमारे पूर्वजों ने वृक्ष लगाने और उनकी पूजा पर जोर दिया। पूजा करने का अर्थ सिर्फ इतना ही था कि लोगों में वृक्षों और पौधों के प्रति पूज्य भाव जागरित हो और लोग इनकी सुरक्षा के लिए तत्पर हों। वृक्ष तो परमार्थ के जीते -जागते प्रतीक हैं।

इस धरती पर जितने भी जीव हैं, वृक्ष उनके वास्तविक रक्षक और मित्र हैं। धरती के जीवों का वृक्षों के साथ घनिष्ठ संबंध है। जल ही ‘जीवन’ है और इस जीवन को वृक्ष ही आमंत्रित करते हैं । इनके स्नेहपूर्वक आमंत्रण पर ही मेघ पृथ्वी पर जल बरसाते हैं तथा जीवों को उपकृत करते हैं।

वृक्ष ही पर्यावरण को विशुद्ध एवं संतुलित करते हैं। वृक्ष पर्यावरण को प्रदूषण मुक्त करते हैं। हम वृक्षों से मीठे फल प्राप्त करते हैं। वृक्षों की लकड़ियों से ही तरह- तरह के उपस्कर तैयार किये जाते हैं। औषधीय पौधों से तरह – तरह की दवाइयाँ बनती है। पृथ्वी पर ऐसा कोई पेड़- पौधा नहीं है जिसमें कोई औषधीय तत्व न हो।

महाविद्यालय के प्राध्यापकों में आदित्य शर्मा, इंद्रपाल सिंह रावत, डॉ दीपक कुमार और डॉ. चन्द्र बल्लभ नैनवाल के साथ-साथ शिक्षणेतर कर्मचारी उदयराम पंत, विक्रम सिंह रावत, वीरेन्द्र सिंह, गुलाब सिंह और महाविद्यालय की छात्र- छात्राएं भी उपस्थित थे।

Comment