G-20 थीम वसुधैव कुटुम्बकम् पर जलवायु परिवर्तन पर पाबौ महाविद्यालय में संगोष्ठी आयोजित

0
171
यहाँ क्लिक कर पोस्ट सुनें

G-20 थीम वसुधैव कुटुम्बकम् पर जलवायु परिवर्तन पर पाबौ महाविद्यालय में संगोष्ठी आयोजित 

रिपोर्ट: विक्रम सिंह रावत

पौड़ी। भारत सरकार द्वारा वर्ष 2023 – 24 में G-20 की अध्यक्षता के सुभ अवसर पर आज राजकीय महाविद्यालय पाबौ, पौडी गढ़वाल के सभागार में G-20 थीम वसुधैव कुटुम्बकम् (एक पृथ्वी, एक परिवार एक भविष्य) पर जलवायु परिवर्तन जैसे ज्वलंत समस्या पर महाविद्यालय के प्राचार्य प्रोफे0 सत्य प्रकाश शर्मा की अध्यक्षता में एक संगोष्ठी का आयोजन किया गयाI

कार्यक्रम में महाविद्यालय के कला एवं वाणिज्य संकाय के समस्त प्राध्यापको द्वारा जलवायु परिवर्तन एवं G-20 की महत्व पर अपने-अपने विचार प्रस्तुत किये गए।

कार्यक्रम का संचालन अर्थशाश्त्र विभाग के विभागाध्यक्ष एवं कार्यक्रम नोडल अधिकारी डॉ0 मुकेश शाह द्वारा सर्वप्रथम G-20 के आर्थिक एवं ऐतिहासिक बिन्दुओं पर प्रकाश डालते हुये मुख्य विषय जलवायु परिवर्तन पर सभी छात्रों को महत्वपूर्ण जानकारियों से अवगत कराया I

कार्यक्रम में शिक्षा शास्त्र विभाग के विभागाध्यक्ष डॉ0 सौरभ सिंह द्वारा जलवायु परिवर्तन के कारण एवं प्रभावों पर विस्तृत एवं गहनता से जानकारी प्रदान की गई, तथा हरित गृह गैसों (कार्बन डाई आक्साइड, मीथेन, क्लोरो- फ्लोरो) के उत्सर्जन एवं प्रभावों पर भी प्रकाश डाला गया। कार्यक्रम में राजनीति शाष्त्र विभाग की विभागाध्यक्ष डॉ0 सुनीता चौहान द्वारा जलवायु परिवर्तन से मानवीय एवं प्राकृतिक प्रभावों एवं उसके रोकथाम पर विस्तृत रूप से प्रकाश डाला गया।

कार्यक्रम में इतिहास विभाग के विभागाध्यक्ष डॉ0 अनिल शाह द्वारा जलवायु परिवर्तन के एतिहासिक पृष्ठभूमि पर अपने विचार प्रस्तुत किये I कार्यक्रम में समाजशाष्त्र विभाग के विभागाध्यक्ष डॉ0 तनुजा रावत द्वारा G20 के सन्दर्भ में शैक्षणिक संस्थायो में किये जा रहे सम्मेलनों एवं कार्यक्रमों के उदेश्यों के बारे में जानकारी देते हुये स्वमं को जागरूक होने के लिए प्रोत्साहित किया गया I

कार्यक्रम में वाणिज्य विभाग के विभागाध्यक्ष डॉ गणेश चन्द द्वारा G20 थीम एवं जलवायु परिवर्तन के रोकधाम हेतु नवीनतम तकनीकों के उपयोग पर अपने विचार प्रस्तुत किये गया I

कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे महाविद्यालय के प्राचार्य प्रोफे0 सत्य प्रकाश शर्मा जी द्वारा G20 एवं जलवायु परिवर्तन की मूल उद्देश्यों के बारे में जानकारी प्रदान करते हुए अपने दैनिक जीवन में इसके प्रभावों की रोकथाम के लिए वृक्षारोपण, स्वच्छता, प्लास्टिक निवारण के लिए आवश्यक कदम उठाने हेतु प्रोत्साहित कर एक श्रेष्ठ एवं स्वस्थ भारत की नीव रखने की पहल की गई I

कार्यक्रम में महाविद्यालय के प्राध्यापक डॉ0 रजनी बाला, डॉ0 गणेश चन्द, डॉ0 तनुजा रावत, डॉ अनिल शाह, डॉ0 सुनीता चौहान, डॉ0 सौरभ सिंह, डॉ0 जय प्रकाश पवार, श्री मुकेश कंडारी, श्री विजेंद्र, श्रीमती सोनी, अनुराधा, महाविद्यालय के छात्र- छात्राये भी उपस्थित रहें I

Comment