जर्नलिस्ट यूनियन आफ उत्तराखंड़ की बैठक में नई कार्यकारिणी घोषित, सूचना महानिदेशालय की कार्यप्रणाली पर जताई नाराजगी

play icon Listen to this article

देहरादून में जर्नलिस्ट यूनियन आफ उत्तराखंड़ की बैठक में प्रदेश की नयी कार्यकारिणी के पदाधिकारियों की घोषणा की गयी। साथ ही पत्रकारों के हितों से जुड़े कई मुद्दों पर इस अवसर पर चर्चा भी की गयी।

[su_highlight background=”#880e09″ color=”#ffffff”]सरहद का साक्षी, देहरादून[/su_highlight]

परेड ग्राउण्ड स्थित उज्जवल रेस्टोरेंट में आयोजित बैठक में यूनियन के प्रदेश अध्यक्ष उमाशंकर प्रवीण मेहता व यूनियन के प्रदेश महामंत्री गिरीश पंत ने नये पदाधिकारियों की घोषणा की और सभी सदस्यों से उनका परिचय कराया।

नयी कार्यकारिणी में जिन पदाधिकारियों की घोषणा की गयी उनमें कोषाध्यक्ष पद पर ललिता बलूनी, उपाध्यक्ष पद पर अल्मोड़ा से प्रकाश चन्द्र पंत, जोशीमठ से प्रकाश कपरूवाण, देहरादून से संजीव शर्मा, चेतन सिंह खड़का, जाहिद अली व चैतराम भट्ट शामिल है।

यूनियन में प्रदेश मन्त्री पद की कमान टिहरी गढवाल से गोविन्द पुन्डीर, चम्पावत से नारायण दत्त भट्ट, रूडकी से शिवेश्वर दत्त पांडे व देहरादून से अधीर मुखर्जी को सौंपी गयी। यूनियन में संगठन मन्त्री पद पर विरेन्द्र दत्त गैरोला को नियुक्त किया गया है। कार्यालय मंत्री के पद पर डोर्डवाला से विजय शर्मा व आडिटर पद पर एस0पी0 उनियाल को जिम्मेदारी सौंपी गयी है।

इसके अतिरिक्त कार्यकारिणी सदस्यों में अनुभवी व वरिष्ठ पत्रकारों में अरूण प्रताप सिंह, जयसिंह रावत, योगेश भट्ट, द्विजेन्द्र बहुगुणा, संजीव पंत, कंवर सिंह सिद्धू शामिल है।

बैठक में देहरादून जिले की नयी कार्यकारिणी के चुनाव को लेकर भी चर्चा की गयी। सभी सदस्यों ने देहरादून जिला कार्यकारिणी का चुनाव आगामी पांच मार्च को कराये जाने का निर्णय लिया गया।

बैठक में पत्रकारों की कई लम्बित समस्याओं पर भी विचार विमर्श किया गया। तय किया गया कि मार्च में नयी सरकार के गठन के बाद प्रदेश के मुखिया को उक्त लम्बित समस्याओं से अवगत कराकर उसका समाधान कराया जायेगा।

सूचना महानिदेशालय की कार्यप्रणाली पर नाराजगी

बैठक में सूचना महानिदेशालय की कार्यप्रणाली पर भी नाराजगी व्यक्त करते हुए विज्ञापनों के वितरण में तय प्रक्रिया न अपनाने व विज्ञापनों की बन्दरबांट का मुद्दा उठाया गया। साथ ही निर्वाचन आयोग द्वारा प्रदेश के समाचार पत्रोें की चुनावी आचार संहिता के समय अनदेखी की आलोचना भी की गई।

पत्रकारों ने आरोप लगाया कि सूचना महानिदेशालय के एक अधिकारी ने नियम कानून को ताक पर रखकर करोड़ों रूपये के विज्ञापन प्रदेश से बाहरी अखबारों को जारी करके मोटी रकम कमीशन के तौर पर वसूल की। यूनियन ने इस सम्बन्ध में कार्यवाही किये जाने की मांग की है।

बैठक में पत्रकारों को मेडिकल सुविधा हेतु यू हैल्थ कार्ड जारी करने व पत्रकार मान्यता कमेटी के गठन करने की मांग की गई। पत्रकार कल्याण कोष में गुपचुप तरीके से किये गये संशोधनों को सर्वथा अनुचित व पत्रकार हितों के खिलाफ बताते हुए उसे पूर्व की भांति किये जाने की मांग की है।

बैठक में अरूण प्रताप सिंह, उमाशंकर प्रवीण मेहता, गिरीश पंत, चेतन सिंह खड़का, विरेन्द्र दत्त गैरोला, समीना, मोहम्मद शाह नजर, ए एस भन्डारी जाहिद अली, विजय शर्मा, विरेन्द्र दत्त गैरोला, द्विजेन्द्र बहुगुणा, अवनीश गुप्ता, मूलचंद शीर्षवाल, संजीव शर्मा, अधीर मुखर्जी, चैतराम भट्ट,ज्योति भट्ट ध्यानी,सुमित डबराल, मोहम्मद खालिद, ललिता बलूनी, अभिनव, सुरेंद्र कोठियाल आदि मौजूद रहे।