सोमवार , जुलाई 4 2022
Breaking News
मॉक ड्रिल के माध्यम से टिहरी पुलिस द्वारा आपदा एवंआपातकालीन परिस्थिति से निपटने हेतु किया गया अभ्यास

मॉक ड्रिल के माध्यम से टिहरी पुलिस द्वारा आपदा एवंआपातकालीन परिस्थिति से निपटने हेतु किया गया अभ्यास

play icon Listen to this article
[su_highlight background=”#091688″ color=”#ffffff”]सरहद का साक्षी, नई टिहरी:[/su_highlight] वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक टिहरी गढ़वाल श्रीमती तृप्ति भट्ट द्वारा जनपद पुलिस को आपदा एवं आपातकालीन परिस्थितियों में त्वरित रेस्क्यू कार्यों हेतु सक्षम बनाये जाने का प्रयास लगातार जारी है। जिसके तहत आज 08 अगस्त को अपर पुलिस अधीक्षक, टिहरी गढ़वाल तथा क्षेत्राधिकारी, टिहरी के पर्यवेक्षण में कोतवाली नई टिहरी पुलिस द्वारा प्रभारी निरीक्षक, देवेन्द्र सिंह रावत के नेतृत्व में एनडीआरएफ/एसडीआरएफ/सीआईएसएफ/फायर सर्विस/जल पुलिस/आपदा प्रबंधन/स्थानीय प्रशासन की टीम के साथ मिलकर भविष्य में सम्भावित आपदाओं के दृष्टिगत उत्तरकाशी में ग्लेशियर टूटने के कारण टिहरी झील का जल स्तर बढ़ने को लेकर मॉक ड्रिल का आयोजन कर रेस्क्यू के दौरान की जाने वाली कार्यवाहियों का अभ्यास किया गया ।

🚀 यह भी पढ़ें :  सहकारिता मंत्री डॉ. रावत ने की टिहरी व पौड़ी के सहकारी बैंक एवं समितियों की समीक्षा

इस दौरान टिहरी व्यू प्वाइंट एवं कोटि-कॉलोनी क्षेत्रांतर्गत एकाएक झील का जलस्तर बढ़ने के कारण पानी के तेज बहाव की चपेट में आये व्यक्तियों को त्वरित रेस्क्यू करते हुये सुरक्षित स्थान पर पहुंचाकर सहायता प्रदान किये जाने के अभ्यास का आयोजन किया गया। उक्त अभ्यास के दौरान एनडीआरएफ/एसडीआरएफ की टीम द्वारा जनपद पुलिस को आपदा उपकरणों के संचालन/प्रयोग एवं बाढ़ आदि की दशा में तैराकी के सम्बन्ध में विस्तृत रूप से जानकारी दी गयी ।

Print Friendly, PDF & Email

Check Also

जयंती विशेष: महाकवि नागार्जुन की कविताएं गरीब, असहाय, किसान, मजदूर, शिल्पी, काश्तकार और समाज के हर वर्ग की कथा व्यथा को वर्णित करती हैं

जयंती विशेष: महाकवि नागार्जुन की कविताएं गरीब, असहाय, किसान, मजदूर, शिल्पी, काश्तकार और समाज के हर वर्ग की कथा व्यथा को वर्णित करती हैं

Listen to this article आज महाकवि नागार्जुन की जयन्ती है। व्यस्तता के बाबजूद लिखना लाजिमी …

error: Content is protected !!