सोमवार , जुलाई 4 2022
Breaking News
महाविद्यालय पोखरी क्वीली की प्राचार्य प्रोफेसर सुमिता श्रीवास्तव को भावभीनी विदाई

महाविद्यालय पोखरी क्वीली की प्राचार्य प्रोफेसर सुमिता श्रीवास्तव को भावभीनी विदाई

play icon Listen to this article

[su_highlight background=”#091688″ color=”#ffffff”]सरहद का साक्षी @ नरेंद्र बिजल्वाण[/su_highlight]

पोखरी क्वीली: शहीद बेलमती चौहान राजकीय महाविद्यालय पोखरी क्वीली के महाविद्यालय परिवार एवं छात्र-छात्राओ ने प्राचार्य प्रोफेसर सुमिता श्रीवास्तव को भावभीनी विदाई दी।

राजकीय महाविद्यालय में एक वर्ष दस माह एक दिन के कार्यकाल में वनारस हिन्दू विश्व विद्यालय से विज्ञान वर्ग की गोल्ड मेडल लिस्ट भौतिक विज्ञान ग्रेजुएट,पोस्ट ग्रेजुएट रही व हर मौके पर प्रथम स्थान को अपना तारगेट फिक्स करने के प्रति दिर्ड संकल्पित के प्रति प्रयासरत रहने की सोच के साथ कार्य करने वालों में से इस महाविद्याल की प्राचार्य प्रोफेसर सुमिता श्रीवास्तव महाविद्यालय के विकास के लिये अपने कार्यकाल मे समर्पित भाव से लगी रहने के साथ उन्होने महाविद्यालय को विकास के पथ पर अग्रणिय पायदान पर लाने के लिये नव सृजित महविद्यालय की हर छोटी बडी समस्या के समाधान के लिये चिन्तित रहने के साथ-साथ पटरी पर विधिवत ब्य्वस्थित कर ही रहे थे, इतने में इनका समायोजन SDSUV कैम्पस ऋषिकेस हो गया है, इनके किये गये कुछ कार्य जैसे महविद्यालय के भूमि चयन का मसला है जो की लगभग पूर्णतया की ओर ही था ऑन लाइन कर शासन को भेजना बाकी रह गया था।

🚀 यह भी पढ़ें :  सामाजिक और धार्मिक दोनों दृष्टियों से अप्रतिम, अद्भुत है दीपावली का हिन्दू महापर्व 

महाविद्यालय पोखरी क्वीली की प्राचार्य प्रोफेसर सुमिता श्रीवास्तव को भावभीनी विदाई

महाविद्यालय वेबसाईड निर्माण, लाइबेरि को ई -ग्रन्थालय से जोडना, महाविद्यालय के आस-पास निरंतर साफ-सफाई रखना। इस हेतू समय-समय पर कार्यक्रम चलाना, हरियाली के लिये बृक्षारोपण करवाना, महाविद्यालय के निकटतम इन्टर कालेजो मे सम्पर्क स्थापित कर छात्र संख्या बढाने के लिये प्रयास करना,महाविद्यालय को 4g कनेक्टी वीटी से जोडना, महाविद्याल मे निरंतर गतिविधि करवा के निरंतर महविद्यालय का प्रचार प्रसार करवाना, समाचार पत्रों व न्यूज चेनलो मे बने रहने हेतू महाविद्याल मे मिडिया कमेटी में सक्रिय लोगो का चयन करना और उनके कार्य पर निरंतर नजर बनाये रखना, महाविद्यालय मे वार्षिक क्रीड़ा समारोह (खेल के मैदान न होने की दशा मे भी आयोजित करवाकर संपन्न करवाना एसे अनगिनत कार्यो को निश्चित समय अन्तराल मे पूरा करवाने की खूबी की धनी अधिकारी एक परिवार की मुखिया की तरह रही है जिससे किसी भी अधिकारी/कर्मचारी को कोई दिक्कत नही हुई।

🚀 यह भी पढ़ें :  सामरिक महत्व के दृष्टिगत टनकपुर बागेश्वर ब्राडगेज रेल लाईन की संस्तुति हेतु सीएम ने रक्षामंत्री से किया अनुरोध

महाविद्यालय पोखरी क्वीली की प्राचार्य प्रोफेसर सुमिता श्रीवास्तव को भावभीनी विदाई

आयोजित कार्यक्रम में महाविद्यालय के अधिकारी वर्ग और कर्मचारी वर्ग मे से सभी बक्ताओ ने महाविद्यालय में इनके अपने वग्तब्य मे इनके कार्यकाल की सराहना की है और जितने भी बक्ताओ ने अपनी बात रखी सभी ने इनकी कार्यशैली से कुछ न कुछ सिखना बताया है। प्रो0 अरूण कुमार सिह ने पुष्प गुछ देकर प्राचार्य सुमिता श्रीवास्तव का स्वागत किया है और इनकी कार्य शैली की सराहना की है। वरिष्ट सहायक श्रीमती रचना राणा, सरिता सैनी, डॉ0 वन्दना सेमवाल ने शाल देकर समानित किया कनिस्ट सहायक रेखा नेगी ने पुष्प गुछ देकर समानित किया। इस मौके पर समस्त छात्र-छात्राएँ व महाविद्यालय के स्टाफ़ ने भाउक्ता के साथ प्राचार्य प्रोफेसर सुमिता श्रीवास्तव को भावभीनी विदाई दी है।

Print Friendly, PDF & Email

Check Also

केवड़िया गुजरात में खेल मंत्रालय द्वारा आयोजित "खेल एवं युवा मामलों के मंत्रियों के राष्ट्रीय सम्मेलन" में प्रदेश की खेल मंत्री श्रीमती रेखा आर्य ने किया प्रतिभाग

केवड़िया गुजरात में खेल मंत्रालय द्वारा आयोजित “खेल एवं युवा मामलों के मंत्रियों के राष्ट्रीय सम्मेलन” में प्रदेश की खेल मंत्री श्रीमती रेखा आर्य ने किया प्रतिभाग

Listen to this article गुजरात के केवड़िया में खेल मंत्रालय द्वारा आयोजित “खेल एवं युवा …

error: Content is protected !!