शिक्षा विभाग अंक सुधार परीक्षा हेतु सिस्टम बनाकर हर ब्लॉक में एक-एक मॉडल स्कूल स्थापित करे: डॉ. धन सिंह रावत

शिक्षा विभाग अंक सुधार परीक्षा हेतु सिस्टम बनाकर हर ब्लॉक में एक-एक मॉडल स्कूल स्थापित करे: डॉ. धन सिंह रावत
play icon Listen to this article

चिकित्सा स्वास्थ्य एवं चिकित्सा शिक्षा, सहकारिता, उच्च शिक्षा, विद्यालयी शिक्षा एवं संस्कृत शिक्षा मंत्री डॉ. धन सिंह रावत का टिहरी दौरा

प्रदेश के चिकित्सा स्वास्थ्य एवं चिकित्सा शिक्षा, सहकारिता, उच्च शिक्षा, विद्यालयी शिक्षा एवं संस्कृत शिक्षा, मंत्री डॉ. धन सिंह रावत द्वारा बुधवार को देर सायं जिलाधिकारी सभागार टिहरी गढ़वाल में स्वास्थ्य, शिक्षा एवं सहकारिता विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक कर आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए।

डॉ. रावत ने शिक्षा विभाग को अंक सुधार परीक्षा हेतु सिस्टम बनाने, हर ब्लॉक में एक-एक मॉडल स्कूल बनाने के निर्देश दिये। सहकारिता विभाग को घसियारी कल्याण योजना शुरू करने तथा उद्यान, पशुपालन, कृषि, मत्स्य विभाग से समन्वय कर 100 अच्छा कार्य करने वाले किसानों को चिन्हित कर उनकी छोटी-छोटी वीडियो क्लिप बनाकर अन्य किसानों को भी प्रोत्साहित कर लाभ पहुंचाने के निर्देश दिये। जनपद को टीबी मुक्त कराने हेतु जन जागरूकता अभियान चलाने, गर्भवती महिलाओं की संस्थागत डिलीवरी को बढ़ाने, गर्भवती महिलाओं हेतु ब्लॉक स्तर पर जांच एवं दवाईयां उपलब्ध कराने के साथ ही स्वास्थ्य शिविरों, होर्डिंग्स आदि के माध्यम से स्वास्थ्य संबंधी सुविधाओं का प्रचार-प्रसार करने के निर्देश स्वास्थ्य विभाग को दिये गये। साथ ही टैक्सी चालकों के आई टेस्ट के लिए कैम्प लगाने को भी कहा गया।

डॉ. धन सिंह रावत द्वारा विभागवार समीक्षा करते हुए शिक्षा विभाग से विद्यालयों में अध्यापकों की स्थिति, समायोजन प्रक्रिया, बिजली, पानी, शौचालय, फर्नीचर, बायोमेट्रिक उपस्थिति, बच्चों के स्कूल ड्रेस, किताबें, खेल मैदान आदि की जानकारी प्राप्त की गई।

उन्होंने कहा कि रेश्यो के अनुसार स्कूलों में समायोजन की प्रक्रिया करना सुनिश्चित करें, किसी भी स्कूल में अध्यापकों की कमी न हो। बीएलओ से अध्यापको को हटाया जा रहा है, ताकि वे पठन-पाठन का कार्य सुचारू रूप से कर सकें। अध्यापकों को आचरण नियमावली उपलब्ध करने को भी कहा गया। कहा कि नई शिक्षा नीति के तहत अंक सुधार परीक्षा भी होगी, इसके लिए सिस्टम बनाएं।

प्रत्येक विकास खंड में एक-एक मॉडल स्कूल बनायें: डॉ. धन सिंह रावत

कहा कि भारत सरकार बहुत जल्द शिक्षा से संबंधित लगभग दो सौ चैनल खोलने जा रहा है। उन्होंने निर्देशित किया कि हर ब्लॉक में एक-एक मॉडल स्कूल बनायें। उन्होंने सुझाव दिया कि बच्चों की स्कूल ड्रेस बनाने का कार्य महिला स्वयं सहायता समूहों को भी दे सकतें है, इससे महिलाओं को काम भी मिलेगा और उनकी आर्थिकी भी मजबूत होगी। इसके लिए शुरुआत के तौर पर किसी एक ब्लॉक को चिन्हित कर एसडीएम की अध्यक्षता में 3 सदस्यीय समिति गठित कर आपसी सहमति से कार्य कर सकते हैं।

डॉ. धन सिंह रावत द्वारा सहकारिता विभाग की समीक्षा के दौरान ऋण वितरण, सोलर प्लांट, सहकारी समितियों आदि की जानकारी लेते हुए निर्देशित किया गया कि सहकारिता, उद्यान, पशुपालन, कृषि, मत्स्य विभाग में अच्छा कार्य करने वाले 100 ऐसे किसानों को चिन्हित करें, जिन्होंने सरकारी योजनाओं का लाभ लेते हुए अपनी आय को दुगना किया है, उनकी छोटी छोटी वीडियो क्लिप बनाकर अन्य किसानों को भी प्रोत्साहित कर लाभ पहुंचना सुनिश्चित करें।

महिलाओं के लिए वरदान साबित होगी घसियारी कल्याण योजना, जिले में करें योजना की शुरुआत

कहा कि घसियारी कल्याण योजना की शुरुआत करें, निश्चित ही यह योजना महिलाओं के लिए वरदान साबित होगी। कहा कि 31 जुलाई, 2022 को 100 समितियों को ऑनलाइन किया जा रहा है। बताया कि जनपद में 2 बड़े और 9 छोटे सोलर प्लांट स्थापित किये गए हैं।

स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा के दौरान CMO डॉ. संजय जैन द्वारा जनपद में डॉक्टरों के धारित पदों के सापेक्ष भरे गए पदों, एम्बुलेंस, खुशियों की सवारी, संस्थागत डिलिवरी सहित अन्य स्वास्थ्य सुविधाओं की जानकारी देते हुए बताया कि नरेंद्रनगर में हड्डी के डॉक्टर की आवश्यकता है, बाकी जनपद में डॉक्टर पर्याप्त हैं।

बताया कि जनपद में दिव्यांगों के 8 हजार 703 यूनिक डिसएबिलिटि आईडी (UDID) कार्ड बनाये गये हैं, 266 टीबी मरीज चिन्हित किये गये हैं। कहा कि स्वास्थ्य विभाग द्वारा 258 स्वास्थ्य जांच निःशुल्क की जा रही हैं तथा लगभग 402 प्रकार की दवाई मुफ्त दी जा रही हैं। कहा कि स्वास्थ्य के क्षेत्र में काफी कार्य हो रहे हैं। प्रथम चरण में एक लाख लोगों के मोतियाबिन्द का ऑपरेशन करने एवं चश्मा मुफ्त में देने का निर्णय लिया गया है। हर ब्लॉक में डॉक्टरों के लिए ट्रांजिस्ट हॉस्टल दे रहे हैं।

बैठक में अपर जिलाधिकारी रामजी शरण शर्मा, पीडी डीआरडीए प्रकाश रावत, डीडीओ सुनील कुमार, सीएमओ डॉ. संजय जैन, एसडीएम टिहरी अपूर्वा सिंह, सीएमएस डॉ. अमित राय, एसीएमओ डॉ. दीपा रूबाली, डॉ. एल.डी. सेमवाल, सीईओ एल.एम. चमोला, सहायक निबन्धक, सहकारिता सुभाष गहतोड़ी, जिलाध्यक्ष भाजपा विनोद रतूड़ी, महामंत्री भाजपा गोविन्द रावत सहित अन्य अधिकारी एवं जनप्रतिनिधि मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here