नमामि गंगे/जिला गंगा समिति की बैठक: नपा देवप्रयाग एवं नगर पंचायत कीर्तिनगर की अल्प प्रगति पर डीएम ने जताई नाराजगी

नमामि गंगे/जिला गंगा समिति की बैठक: नपा देवप्रयाग एवं नगर पंचायत कीर्तिनगर की अल्प प्रगति पर डीएम ने जताई नाराजगी
play icon Listen to this article

जिलाधिकारी टिहरी गढ़वाल इवा आशीष श्रीवास्तव की अध्यक्षता में आज जिला कलेक्ट्रेट के वी.सी. कक्ष में नमामि गंगे/जिला गंगा समिति की बैठक आयोजित की गई।

जिलाधिकारी ने नगर पालिका परिषद् देवप्रयाग एवं नगर पंचायत कीर्तिनगर की कम प्रगति पर कड़ी नाराजगी व्यक्त करते हुए अधिशासी अधिकारी न.पा.परि. देवप्रयाग एवं कीर्तिनगर को कार्यों मंे प्रगति लाते हुए अगली बैठक में पूर्ण सूचनाआंे के साथ प्रतिभाग करने के निर्देश दिये। साथ ही उन्होंने संबंधित अधिकारियों को नगर पालिका परिषद् मुनि की रेती मंे विजिट करने तथा प्लास्टिक बैन व कूड़ा फेंकने के तहत चालान बढ़ाने, कूड़े की कम्पोस्टिंग से राजस्व बढ़ाने, कूड़ा पृथक्करण, डोर टू डोर कूड़ा कलेक्शन आदि कार्यों में प्रगति लाने के निर्देश दिये।

कहा कि कार्यों में प्रगति न होने की दशा में संबंधित के खिलाफ आवश्यक कार्यवाही अमल में लाई जायेगी। जिलाधिकारी ने मैकेनिकल कम्पोस्टिंग मशीन, कूड़े की कम्पोस्टिंग की स्थिति, घाटों की संख्या तथा गंगा नदी में ठोस अपशिष्ट को जाने से रोकने हेतु जाली, अक्रिय कूड़ा, डोर टू डोर कूड़ा कलेक्शन, आवासीय भवनों के शौचालय पाईप को संयोजन किये जाने, सोर्स सेग्रीगेशन की स्थिति, कॉम्पैक्टर्स की स्थिति आदि की जानकारी ली। उन्हांेने सभी संबंधित अधिकारियों से कहा कि जिस भी मद में फण्ड की आवश्यकता हो, उसका डिमाण्ड लेटर भेेज दें।

अधिशासी अधिकारी न.पा.परि. देवप्रयाग ने बताया कि नमामि गंगे के तहत 05 घाटा रामकुण्ड घाट, संगम अन्तेष्टी घाट, शान्ति बाजार सोमनाथ घाट, संगम घाट व भरत घाट का सौन्दर्यीकरण किया गया। 04 घाटों में कूड़ा निषिद्ध क्षेत्र के साइनबोर्ड लगाये गये हैं, दो नाले जो गंगा नदी में खुलते हैं, उन पर जाली लगा दी गई है। बताया कि निकाय को शासन द्वारा ठोस अपशिष्ट हेतु धनराशि प्राप्त हो चुकी है, जिसमें रूपये 21.39 का कार्य किया गया है, शेष कार्य प्रगति पर है।

बैठक में डीएफओ टिहरी डिविजन वी.के.सिंह., सीएमओ डॉ. संजय जैन, साहसिक खेल अधिकारी खुशाल सिंह नेगी, प्रोजेक्ट मेनेजर सी एण्ड मुनत (गंगा) श्रीनगर वी.के. गोयल, अधि.अधि. न.पा.परि. देवप्रयाग रघुवीर राय, सहा.अभि. जल संस्थान ऋषिकेश हरीश बंसल, परि.अभि. निर्माण एवं अनु.इकाई (गंगा) ऋषिकेश धमेन्द्र प्रसाद आदि मौजूद रहे।