सघन मिशन इन्द्रधनुष के क्रियान्वयन हेतु गूगल मीट के माध्यम से जिला टास्क फोर्स की बैठक आयोजित

सघन मिशन इन्द्रधनुष के क्रियान्वयन हेतु गूगल मीट के माध्यम से जिला टास्क फोर्स की बैठक आयोजित
play icon Listen to this article

सघन मिशन इन्द्रधनुष के क्रियान्वयन हेतु आज गूगल मीट के माध्यम से जिला टास्क फोर्स की बैठक आयोजित की गई। सघन मिशन इन्द्रधनुष जनपद में गतिमान है, जिसका द्वितीय चरण 07 मार्च, 2022 से जनपद में संचालित किया जाना है।

[su_highlight background=”#880e09″ color=”#ffffff”]सरहद का साक्षी, नई टिहरी[/su_highlight]

जिलाधिकारी टिहरी गढ़वाल इवा आशीष श्रीवास्तव ने अभियान के सफल संचालन एवं क्रियान्वयन हेतु संबंधित अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिये। कहा कि वैक्सीनेशन से छूटे बच्चों के लिए विशेष सेशन साइट लगाई जा रही हैं, ताकि सभी बच्चों को वैक्सीनेशन से कवर किया जा सके।

इसका  द्वितीय चरण 07 मार्च से शुरू होगा, जो एक सप्ताह तक चलेगा, जिसमें 0 से 02 वर्ष के ड्रॉप आउट तथा लेफ्ट आउट बच्चों का टीकाकरण किया जाएगा। अभियान के द्वितीय चरण में जनपद के अन्तर्गत 13 टीकाकरण सत्रों में 65 बच्चों तथा 12 गर्भवती महिलाओं का टीकाकरण किया जाएगा।

उन्होंने जिला कार्यक्रम अधिकारी को निर्देशित किया कि टीकाकरण से छूटे बच्चों के टीकाकरण हेतु सेशन साइट पर एएनएम और आशा कार्यकत्री उपस्थित रहने हेतु अपने स्तर से अवगत करा दें। जिला पंचायत राज अधिकारी को निर्देशित किया कि सेशन साइट पर ग्राम प्रधानों का सहयोग लेते हुए टीकाकरण करवायंे।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. संजय जैन ने बताया कि विशेष सेशन साइट अभियान के तहत दिनांक 07 मार्च, 2022 को विकास खण्ड चम्बा के गुडसालगांव व गुनोगी, विकासखण्ड जौनपुर के फेड़ी किमोडा तथा विकासखण्ड प्रतापनगर के किमखेत, बीजबागी व खोलगड, 08 मार्च को विकासखण्ड देवप्रयाग के भासों व उमरी तथा विकासखण्ड प्रतापनगर के घोलड़ानी, 10 मार्च को विकासखण्ड थौलधार के कंडारगांव तथा विकासखण्ड भिलंगना के पिन्सवाड़, 11 मार्च को विकासखण्ड भिलंगना के ढुंग व 12 मार्च को भिलंगना के करखेड़ी में टीकाकरण अभियान चलाया जाएगा। उन्होंने कहा कि 09 एवं 10 मार्च को सेशन साइट पर भारत सरकार एवं राज्य सरकार से टीम आकर निरीक्षण करेंगी। उन्होंने सभी संबंधितों से कहा कि सभी व्यवस्थाएं करते हुए की गई तैयारियों के फोटोग्राफ्स् उपलब्ध करा दें।

इस दौरान गूगल मीट से जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ. दीपा रूबाली, जिला पंचायत राज अधिकारी वी.एस. सेमवाल, डीपीओ सोहेब सहित संबंधित अधिकारी/कर्मचारी जुड़े रहे।