सोमवार , जुलाई 4 2022
Breaking News
Tehri info

जिलाधिकारी टिहरी ने वर्चुअल बैठक में ली अमृत सरोवर योजना के अन्तर्गत जिले में चिन्ह्ति सरोवरों की प्रगति रिपोर्ट

play icon Listen to this article

अमृत सरोवर योजना के अन्तर्गत जनपद में चिन्ह्ति किये गये सरोवरों की प्रगति रिपोर्ट के संबंध में जिला कलेक्ट्रेट के वी.सी. कक्ष में जिलाधिकारी टिहरी गढ़वाल इवा आशीष श्रीवास्तव की अध्यक्षता में वर्जुअल बैठक आयोजित की गई।

जिलाधिकारी ने निर्देशित किया कि अमृत सरोवर योजना के अन्तर्गत चिन्ह्ति किये गये सरोवरों में प्राथमिकता के आधार पर कार्य कर 15 अगस्त, 2022 तक 30 प्रतिशत निर्धारित लक्ष्य को पूर्ण करना सुनिश्चित करें। सभी को निर्देशित किया गया कि जिन सरोवर के इस्टीमेट नहीं बने हैं, उनके एक सप्ताह के अन्दर इस्टीमेट तैयार करना सुनिश्चित करें।

जिलाधिकारी ने तीनों डिविजन के डीएफओ को निर्देशित किया कि योजना के तहत नोडल अधिकारी नामित करते हुए जनप्रतिनिधि के रूप में प्रधान को भी लेना सुनिश्चित करें। सभी संबंधितों को निर्देशित किया गया कि तत्काल अमृत सरोवर योजना पोर्टल में मेपिंग करना भी सुनिश्चित करें।

🚀 यह भी पढ़ें :  जिलाधिकारी श्रीवास्तव ने तहसील कीर्तिनगर का किया औचक निरीक्षण

जिला विकास अधिकारी सुनील कुमार ने जानकारी दी कि अमृत सरोवर योजना के अन्तर्गत जनपद में ग्राम्य विकास द्वारा विकासखण्डवार प्रस्तावित 89 सरोवर को चिन्ह्ति कर जिलाधिकारी द्वारा अनुमोदित किया गया है, जिनमें 85 का नव निर्माण होना है तथा 04 का पुर्नजीविकरण होना है।

विकासखण्ड स्तर पर 46 सरोवर की तकनीकि मंजूरी हो चुकी है, 34 पर कार्य शुरू हो चुका है। योजना के तहत मनरेगा कर्न्वजेंस में कृषि एवं पंचायत राज विभाग की योजना शामिल हैं।
खण्ड विकास अधिकारी भिंलगना द्वारा अवगत कराया गया कि विकासखण्ड में 14 सरोवर चयनित है, जिनमें से 07 पर माप भूमि के कारण कार्य शुरू नहीं हो पाया था, जल्द ही सभी पर काम शुरू कर दिया जायेगा।

🚀 यह भी पढ़ें :  पुस्तक समीक्षा: पोषण भरे रोग मुक्त जीवन व भविष्य की उम्मीद प्रदान करता है ‘बारहनाजा’ याने 12 varieties of cereals

खण्ड विकास अधिकारी चम्बा ने बताया कि 12 सरोवर में से 09 के इस्टीमेट बन चुके हैं। खण्ड विकास अधिकारी देवप्रयाग ने बताया कि 07 सरोवर हैं, जिनमें से 03 निजि भूमि होने के कारण तोक परिवर्तन कर दिया गया है।

खण्ड विकास अधिकारी जाखणीधार ने बताया कि चिन्ह्ति सभी 15 सरोवर के इस्टीमेट तैयार हैं, 03 पर कार्य शुरू हो चुका है। इसी प्रकार विकासखण्ड जौनपुर में 11, कीर्तिनगर 8, नरेन्द्रनगर 7, प्रतापनगर 8 तथा थौलधार में 7 सरोवर चिन्ह्ति किये गये हैं, जिनमंे नव निर्माण/पुर्नजीविकरण कार्य किये जाने प्रस्तावित हैं। इसी प्रकार वन विभाग नरेन्द्रनगर डिविजन द्वारा 31 सरोवर, टिहरी डिविजन द्वारा 25 तथा मसूरी डिविजन द्वारा 13 सरोवर चिन्ह्ति किये गये हैं।

🚀 यह भी पढ़ें :  जिला विकास समन्वय एवं निगरानी समिति की वर्चुअल बैठक, सांसद बोलीं: जनहित के प्रकरणों का प्राथमिकता के आधार पर निस्तारण करना सुनिश्चित करें

बैठक में डीएफओ टिहरी वी.के. सिंह, नरेन्द्रनगर राजीव धीमान, मसूरी कहकसा नसीम, अधिशासी अभियंता लघु सिंचाई बृजेश कुमार गुप्ता सहित सभी खण्ड विकास अधिकारी वर्चुअल माध्यम से उपस्थित रहे।

Print Friendly, PDF & Email

Check Also

InShot 20220701 172537422

भिलंगना के घुत्तु-गंगी क्षेत्र में पर्यटन और साहसिक खेलों की अपार सम्भावनाओं के मद्देनजर जिलाधिकारी इवा आशीष श्रीवास्तव की एक अभिनव पहल

Listen to this article विकासखण्ड भिलंगना के घुत्तु-गंगी क्षेत्र में पर्यटन और साहसिक खेलों की …

error: Content is protected !!