सड़क डामरीकरण न होने के कारण चंबा चौक में किया गया प्रदर्शन

193
सड़क डामरीकरण न होने के कारण चंबा चौक में किया गया प्रदर्शन
यहाँ क्लिक कर पोस्ट सुनें

सड़क डामरीकरण न होने के कारण चंबा चौक में किया गया प्रदर्शन

शुरू हुआ अनिश्चितकालीन धरना

त्वरित कार्यवाही की की गई मांग।

यथासमय मांग न मानी गई तो तेज किया जाएगा आंदोलन

चम्बा, सो.ला.सकलानी ‘निशांत’ : चंबा-नागणी सड़क डामरीकरण के लिए आज दसों ग्राम पंचायतों, स्थानीय जनता, सुमन कॉलोनी चंबा के लोगों ने ढोल- नंगाडों के साथ प्रदर्शन करते हुए वी.सी. गबर सिंह चौक पर प्रदर्शन कर अनिश्चितकालीन धरना शुरू किया। संघर्ष समिति के बैनर तले यह धरना एक सूत्रीय मांग पूर्ण होने तक चलेगा। बड़ी संख्या में लोग सुबह तल्ला चंबा में एकत्रित हुए। ढोल- नगाड़ों के साथ, नारे लगाते हुए चंबा चौक पर एकत्रित होकर प्रर्दशन के बाद धरने पर बैठ गए। आज धरने पर बैठने वालों में कुंवर सिंह खंणका, दरम्यान सिंह भंडारी, बचन सिंह गुसाईं बैठे। सैकडों लोगों ने समर्थन दिया।

चंबा- नागणी (कॉलेज रोड,चंबा) सड़क का बुरा हाल है। ग्रामवासियों, स्थानीय नागरिकों, जनप्रतिनिधि और बुद्धिजीवी वर्ग ने शासन- प्रशासन का ध्यान आकर्षित किया लेकिन किसी के कान में जूं नहीं रेंगी। हमेशा जंगलात- नगर पालिका- पीडब्ल्यूडी- विद्युत विभाग अपनी जिम्मेदारी एक-दूसरे के मत्थे मढ़ते रहें और कभी भी चारों विभागों के लोग एक ही स्थान पर सम्मिलित होकर किसी निर्णय पर पहुंचने में अक्षम रहे।

इस मार्ग से होकर बड़ा स्यूटा, छोटा स्यूटा, भंडार गांव, जौल- देवरी, सुधाडा, कुडीयाल गांव, डांगसारी, जड़धार गांव, नकोट आदि बीसों गांव के लोगों का आवागमन होता है।

जंगलात के दो रेंज कार्यालय, हैडिल 220 केवी पावर हाउस, श्री देव सुमन इंटर कॉलेज, ज्ञानदीप अकैडमी, आयुर्वेदिक अस्पताल जैसे अनेकों प्रतिष्ठान यहां स्थि है। उबड- खाबड सड़क के साथ-साथ,आडे तिरछे खड़े वाहन, सड़क पर जाम, यह तो लोगों के रोजमर्रा की जिंदगी का हिस्सा हो चुका है जिसको स्थानीय नागरिक झेल रहे हैं।

आवागमन की असुविधा होती है।सामाजिक-धार्मिक कार्यों, अस्वस्थ व्यक्तियों को आने-जाने में परेशानियों का सामना करना पड़ता है। ऐसा दिन कोई नहीं है जब बड़े जनप्रतिनिधि,क्षेत्रीय जनप्रतिनिधि, राजनेता, प्रशासनिक अधिकारी इस मार्ग से होकर किसी न किसी कार्य स्थल का दौरा न करते हों और उन्हें जाम और अतिक्रमण का सामना न करना पड़ता हो। कई बार हादसे हो चुके हैं। अनेकों बार पीडब्ल्यूडी के लोग सड़क के गड्ढों पर मिट्टी भर देते हैं जिससे बरसात में फिसलन होने से मोटरसाइकिल या दुपहिया वाहन क्षतिग्रस्त हो चुके हैं और कई व्यक्तियों को चोटें आ चुकी हैं। विद्यालयों में जाने- वाले बच्चों को बड़ी कठिनाई का सामना करना पड़ता है।

संघर्ष समिति के रघुवीर सिंह रावत, दिनेश भंडारी, दिनेश सकलानी, शक्ति जोशी, विकास बहुगुणा, प्रधान कुसुम नेगी, संजय मैठानी आदि ने अपने विचार रखें। पीडब्ल्यूडी सहायक अभियंता सैयद अली खान और पंकज तिवारी देवी पीडब्ल्यूडी का पक्ष रखा। प्रशासन की ओर से स्थानीय पटवारी, थानाध्यक्ष चंबा ने प्रशासन को रिपोर्ट भेजी।

आज धरना स्थल पर समर्थन देने वालों में पूर्व पालिका अध्यक्ष श्री सूरज राणा, निर्मला बिष्ट, संजय मैठानी, मनोज नकोटी, कवि सोमवारी लाल सकलानी ‘निशांत’ इंद्र सिंह नेगी, रघुभाई जड़धारी, सत्यपाल गुसाईं, गुड्डी रावत, पदम गुसाईं, विनोद बडोनी,भगवती बडोनी, शिव प्रसाद उनियाल आदि सैकडों लोग उपस्थित थे।

Comment