चारधाम यात्रा: जिला सड़क सुरक्षा समिति की बैठक नई टिहरी, अनुपस्थित रहने पर E.E. लोनिवि घनसाली से माँगा स्पष्टीकरण

चारधाम यात्रा: जिला सड़क सुरक्षा समिति की बैठक नई टिहरी, अनुपस्थित रहने पर E.E. लोनिवि घनसाली से माँगा स्पष्टीकरण


 

play icon Listen to this article

जिला सड़क सुरक्षा समिति की बैठक आज जिला सभागार नई टिहरी में अध्यक्ष/जिला मजिस्ट्रेट जिला सड़क सुरक्षा समिति टिहरी गढ़वाल इवा आशीष श्रीवास्तव की अध्यक्षता में आयोजित की गई।

बैठक में गत वर्ष के सापेक्ष सड़क दुर्घटनाओं एवं दुर्घटना के कारणों  की समीक्षा, जनपद में स्थित ब्लैक स्पॉट के सुधारीकरण की स्थिति, दुर्घटना संभावित स्थलों एवं चारधाम यात्रा मार्गों पर किये गये कार्य की अद्यतन स्थिति, परिवहन/पुलिस द्वारा जनपद में किये गये सड़क सुरक्षा अभियोगों में किये गये प्रवर्तन कार्य, जनपद में साइन बोर्ड/मिरर/चूना छिड़काव/सूचना बोर्ड/अतिक्रमण हटाया जाने की स्थिति आदि पर चर्चा की गई। जिला मजिस्ट्रेट द्वारा अधिशासी अभियन्ता लोनिवि घनसाली का बैठक में अनुपस्थित रहने पर स्पष्टीकरण तलब किया गया।

अध्यक्ष/जिला मजिस्ट्रेट ने जनपद के सभी मार्गों की जानकारी लेते हुए संबंधित कार्यदायी संस्थाओं को निर्देशित किया कि मार्गों के सुधारीकरण/क्रेश बैरियर आदि के सुधार हेतु प्रस्ताव भेजना सुनिश्चित करें। उन्होंने सभी संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया कि चारधाम यात्रा शुरू होने से पूर्व सभी सड़कों का पैच वर्क, पेंटिंग आदि कार्य पूर्ण करना सुनिश्चित कर लें। साथ ही सड़कों के गड्ढों की सूचना और कब तक भर जायेंगे, की रिपोर्ट उपलब्ध कराने को कहा। जिला मजिस्ट्रेट ने पुलिस एवं परिवहन विभाग द्वारा की गई प्रवर्तन कार्यवाही में सुधार लाने के निर्देश दिये। साथ ही ओवर स्पीड, ओवल लोडिंग, तेज रफ्तार, नशा करके वाहन का संचालन आदि अभियोग में संयुक्त रूप से नियमित चालान करते हुए प्रगति लाने के निर्देश दिये।

कहा कि बिना हैल्मेट के संबंध में भी प्रचार-प्रसार कर जागरूकता लाना सुनिश्चित करें। उन्होंने समस्त कार्यदायी संस्थाओं को निर्देशित किया कि जनपद के समस्त मार्गों पर झाड़ी कटान का कार्य प्राथमिकता के आधार पर नियमित रूप से करते रहें। उन्होंने परिवहन/पुलिस विभाग को निर्देशित किया कि शहरों में सड़कों के दोनों साइड पर आड़े तिरछे वाहन खड़े रहते है, जिससे आवागमन में परेशानियां का सामना करना पड़ता है और दुर्घटनाएं होने की भी सम्भावना बनी रहती है, इस प्रकार के वाहनों के चालान करना सुनिश्चित करें।

अतिक्रमण चिन्हित कर हटाने हेतु चलाएं अभियान: DM

जिला मजिस्ट्रेट ने अतिक्रमण के संबंध में सभी संबंधित विभागीय अधिकारियों को निर्देशित किया कि ऐसे प्रकरणों को चिन्ह्ति करें और एसडीएम के सहयोग से अभियान चलायें। साथ ही इस संबंध में कितने नोटिस जारी किये गये और क्या कार्यवाही की गई, रिपोर्ट उपलब्ध करायें। उन्होंने सभी एसडीएम से वाहन पार्किंग के संबंध में भी जानकारी ली तथा व्यवस्थाएं सुनिश्चित करने के निर्देश दिये।
वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक नवनीत सिंह भुल्लर ने बताया कि प्रवर्तन की कार्यवाही कोविड एवं चुनाव के चलते कम हुई, जिसको इम्प्रूव कर लेंगे। शहरों में सड़कों के दोनों साइड पर आड़े तिरछे वाहनों के संबंध में एनाउंमेंट एवं चालान की कार्यवाही कर रहे हैं।

आरटीओ चक्रपाणी मिश्रा ने बताया कि गत बैठक में दिये गये निर्देशों के क्रम में नरेन्द्रनगर शहर में भारी वाहनों के प्रवेश पर पूर्णतः प्रतिबन्ध लगाया गया है तथ शहर के मुख्य मार्ग पर साईन बोर्ड स्थापित किया गया है। सामु.स्वा.केन्द्र कण्डीसौड़ (छाम) विकास खण्ड थौलधार टिहरी गढ़वाल में ट्रामा सेंटर संचालित है तथा वहीं पर कार्यरत चिकित्सकों द्वारा ही ट्रामा सेंटर में नियमित रूप से सेवाएं दी जा रही है। उन्होंने बताया कि जनपद में जनवरी 2021 से मार्च, 2022 तक 39 वाहन दुर्घटनाएं हुई, जिनमें 05 सड़क दुर्घटनाएं वाहन के अनियंत्रित होने के कारण, 02 चालक को नींद का झौका आने व स्कूटी स्लिप होने के कारण घटित हुई।

बैठक में एडीएम घनसाली के.एन.गोस्वामी, देवप्रयाग सोनिया पन्त वीडियों कांफ्रेंस से जबकि एसडीएम नरेन्द्रनगर देवेन्द्र नेगी, धनोल्टी लक्ष्मीराज चौहान, प्रभारी सीएमओ डॉ. दीपा रूबाली, अधि.अभि. लोनिवि नरेन्द्रनगर मो. आरिफ खान, बौराड़ी दिनेश मोहन, अधि.अधि. टिहरी अनिल पन्त, कीर्तिनगर रोशन सिंह पुण्डीर, चम्बा शिवकुमार सिंह सहित अन्य संबंधित अधिकारी उपस्थित रहे।