संपादकीय Archives - सरहद का साक्षी
इस सीजन धधक रहे जंगल बंजर हुए खेत

नकोट, टिहरी गढ़वाल। इक्कीसवीं सदी के इस कोरोना काल में आमजन को जहां स्वास्थ्य संबंधी दिक्कतों से जूझना पड़ रहा है वहीं प्रकृति की बेरुखी की मार झेलने को भी विवश होना पड़ रहा है। सर्दी के इस मौसम में जहां कंपकंपाती ठंड का सामना करना था, वहां फायर सीजन न होने के बाबजूद भी जंगल धधकती आग की आगोश में हैं। दूसरी तरफ जहां इस बक्त किसानों के खेतों में रबि की फसलों ने लहलहाता हुआ दिखाई देना…

Print Friendly, PDF & Email

Read More

सहिष्णुता समदर्शिता की प्रतिमूर्तियों का निवास स्थल उनियाल गांव

प्रस्तुति: हर्षमणि बहुगुणा अहं हरि:सर्वमिदं जनार्दनो, नान्यत्तत: कारण कार्यजातम् । इदृंमनो यस्य न तस्यभूयो , भवोद्भवा द्वन्द्वगहाभवन्ति ।। सुरकूट निवासिनी मां श्रीकण्ठा की तलहटी में उनियाल वंशजों का गांव, – सकलाना की राजनीति का केन्द्र बिन्दु रहा है। सौंग नदी का उद्गम स्थल, चारौं तरफ से पानी के जलस्रोतों का अपार भण्डार, कृषि व बागवानी का केन्द्र, जहां से विभिन्न विधाओं को जन्म देने वाले मनीषी विद्वानों ने केवल साहित्य के क्षेत्र में ही नहीं अपितु राजनीति, धर्मनीति, ज्योतिष,…

Print Friendly, PDF & Email

Read More

धनतेरस की धमक के साथ दीपोत्सव हेतु सजने लगे बाजार

नकोट, टिहरी गढ़वाल। कोविड-19 के कारण यूं तो उत्सवों का माहौल सहमा हुआ है, लेकिन प्रकाश पर्व दीपावली को लेकर लोगों में थोड़ा उत्सुकता दिखाई दे रही है। शहरों की अपेक्षा ग्रामीण कस्बों में भी लोग अपने भवनों व व्यावसायिक प्रतिष्ठानों सुसज्जित कर रहे हैं। ग्रामीण कस्बा नकोट में भी व्यापारिक प्रतिष्ठानों व आवासीय भवनों को भवन स्वामी व व्यवसायी धनतेरस की पूर्व संध्या से ही सजाने में जुटे हैं। व्यापारियों द्वारा पटाखों की दुकानें सजायी गई हैं। बर्तन…

Print Friendly, PDF & Email

Read More

जल जीवन मिशन के तहत छाती गाँव में हर घर नल योजना के तहत कार्य आरम्भ

नकोट, टिहरी गढ़वाल। जल जीवन मिशन के तहत प्रत्येक घर को पेयजल हेतु नल दिए जाने के कार्यक्रम को पेयजल निगम चम्बा द्वारा क्रियान्वित किया गया है। मखलोगी क्षेत्र के ग्राम पंचायत छाती में हर घर नल योजना के तहत कार्य आरम्भ हो गया है। विभागीय ठेकेदार जयराज खणका के अधीन कार्य कर रहे वर्क एजेन्ट देवेन्द्र सिंह रावत द्वारा ग्राम छाती में प्रत्येक घर को पेयजल संयोजन दिया जा रहा है। गत दिवस आरम्भ किए गए इस अभियान…

Print Friendly, PDF & Email

Read More

नशा उन्मूलन एवं शैक्षिक उन्नयन अपना जीवन उद्देश्य मानकर जन जागृति फैला रहे हैं डॉ. राकेश उनियाल
नशा उन्मूलन एवं शैक्षिक उन्नयन अपना जीवन उद्देश्य मानकर जन जागृति फैला रहे हैं डॉ. राकेश उनियाल

Dr. Rakesh Uniyal is spreading public awareness by taking drug addiction and educational uplift as his life purpose केदार सिंह चौहान ‘प्रवर’, सरहद का साक्षी, टिहरी रियासत के जनक्रान्ति नायक अमर शहीद श्रीदेव सुमन एवं प्रथम विश्व युद्ध के विक्टोरिया क्रास विजेता अमर सेनानी गबर सिंह वीसी की तपस्थली चम्बा प्रखण्ड की बमुण्ड पट्टी अंतर्गत केमरी गांव में स्व0 मुरारीलाल उनियाल के घर पर 25 मई 1967 में जन्में डा0 राकेश उनियाल पिछले कई वर्षों से समाज को नशे…

Print Friendly, PDF & Email

Read More

मिशालः कोरोना काल में सपरिवार घर लौटा लल्ला बना फैक्ट्री मालिक
मिशालः कोरोना काल में सपरिवार घर लौटा लल्ला बना फैक्ट्री मालिक

सरहद का साक्षी नकोट, टिहरी गढ़वाल। कहावत है किः होनहार वीरवान के होत चीकने पात…..। इसी कहावत को चरितार्थ करते हुए कोरोना काल में सपरिवार घर लौटा नरेन्द्र सिंह रावत उर्फ लल्ला, गुड्डू आज स्वयं की फैक्ट्री का मालिक है और हजारों की तादात में कुक्कुट पालन का व्यवसाय भी कर रहा है। लॉकडाउन के दौरान जहां लोगों को आर्थिक तंगी से जूझना पड़ा, उस समय नरेन्द्र ने मुर्गी फार्म खोलकर अपनी रोजी-रोटी चलाई और आज उसी कमाई से…

Print Friendly, PDF & Email

Read More

राजनीतिज्ञ, स्वतंत्रता सेनानी और देश की प्रमुख महिला नेत्रियों में से एक थीं विजयलक्ष्मी पंडित
Vijaya Lakshmi Pandit was a politician, freedom fighter and one of the leading female politician of the country

जन्म दिवस पर विशेष, केदार सिंह चौहान ‘प्रवर’, भारत के लिए नेहरू परिवार का बलिदान और योगदान अविस्मरणीय है जिसे राष्ट्र हमेशा याद रखेगा। पंडित जवाहर लाल नेहरू की बहन विजय लक्ष्मी पण्डित का जन्म 18 अगस्त सन् 1900 को इलाहाबाद उत्तर प्रदेश के एक कुलीन घराने में हुआ था। विजय लक्ष्मी पण्डित ने भी देश की स्वतंत्रता में अविस्मरणीय योगदान दिया है। ‘सविनय अवज्ञा आंदोलन’ में भाग लेने के कारण उन्हें जेल में बन्द किया गया था। वे…

Print Friendly, PDF & Email

Read More

शिक्षा व्यवस्था में बदलाव की आवश्यकता……!
Kedar Singh Chauhan pravar, Publisher and Editor, Sarhad Ka Sakshi

*केदार सिंह चौहान ‘प्रवर’ बीसवीं सदी के आरम्भिक चरण में पनपे कोरोना काल ने समाज को विभिन्न पहलुओं पर सोचने को विवश कर दिया है, इन्हीं में से एक जो महत्वपूर्ण पहलू है वह है शिक्षा। कोविड काल में शिक्षा का बहुत ज्यादा ह्रास हुआ है। देश के भावी कर्णधारों की शिक्षा-दीक्षा सर्वाधिक प्रभावित हुई है। हालांकि संचार क्रांति के इस दौर में ऑनलाइन शिक्षा प्रणाली ने कुछ हद तक शिक्षा के क्षेत्र में उन्नयन का कार्य किया है,…

Print Friendly, PDF & Email

Read More

चौलाई की खेती तबाह कर रहा है पर्णकीट

सरहद का साक्षी नकोट, टिहरी गढ़वालः चम्बा प्रखण्ड की मखलोगी, धारअकरिया क्षेत्र का कास्तकार जहां एक ओर बन्दर और सुअरों के आतंक से खेती की ओर विमुख होने की कगार पर है वहीं वर्षा न होने के कारण सूखे की मार तो दूसरी ओर चौलाई की खेती पर पर्णकीट का संकट यहां के कास्तकारों को मायूस होने को विवश कर रहा है। बन्दरों व सुअरों के आतंक के कारण इस क्षेत्र का कास्तकार अधिकांशतया अपने खेतों में चौलाई की खेती करके अपनी…

Print Friendly, PDF & Email

Read More

मिशन 2022: टिहरी में भाजपा की मुश्किलें बढ़ा सकती है उजएपा
Editor Sarhad Ka Sakshi

  केदार सिंह चौहान ‘प्रवर’ उत्तराखण्ड जन एकता पार्टी आगामी 2022 के चुनावों को लेकर जहां जनपद में सक्रिय होकर घर-घर अपनी पैठ बनाने में जुटी है, उस हिसाब से लगता है कि मिशन 2022 में भाजपा की मुश्किलें कम नहीं हो पाएंगी। पूर्व से ही भाजपा के गढ़ माने जाने वाले साबली गांव में आज न्यूट पोर्टलों की सुर्खियों के अनुसार लगभग 108 लोगों ने साबली में उजएपा का दामन थामा। हालांकि प्रमुख समाजसेवी सुशील बहुगुणा भी आज अपने समर्थकों समेत भारतीय जनता…

Print Friendly, PDF & Email

Read More

error: Content is protected !!