धर्म/संस्कृति Archives - सरहद का साक्षी
आवश्यकता

सरहद का साक्षी के लिए उत्तराखंड के सभी जनपदों व तहसीलों में पत्रकारिता के क्षेत्र में कार्य करने के इच्छुक युवकों की आवश्कता है: संपर्क करें: sarhadkasakshi@gmail.com

घंटाकर्ण धाम का जीर्णोद्धार कार्य हुआ संपन्न, कोरोना के समूल उन्मूलन हेतु किया जा रहा शांति पाठ

सरहद का साक्षी, गजाः क्वीली पट्टी के प्रमुख तीर्थ धण्डियाल डांडा स्थित घंटाकर्ण धाम में एक लम्बे असरे से चल रहा मंदिर जीर्णोद्धार कार्य पूरा हो गया है। जीर्णोद्धार कार्य पूर्ण होने पर धाम के ट्रस्टियों ने विश्व शांति एवं कोरोना के समूल नष्ट होने के उद्देश्य से मन्दिर में हरियाली (जौ की पावन पौध) डालकर पूजन अर्चन किया जा रहा है। मन्दिर समिति एवं ट्रस्ट के अध्यक्ष विजय प्रकाश बिजल्वाण ने बताया कि भगवत् भक्तों के सहयोग से…

Print Friendly, PDF & Email

Read More

गंगा दशहरे पर कोरोना के चलते घंटाकर्ण धाम में अबकी बार नहीं हो पाएंगे वृहद् कार्यक्रम

सरहद का साक्षी @डी.पी. उनियाल, गजा: घंटाकर्ण धाम घंडियाल डांडा क्वीली में गंगा दशहरे पर इस वर्ष पूर्व की भांति भव्य कार्यक्रम आयोजित नहीं हो सकेंगे। कोरोनावायरस के कारण इस साल मंदिर में पुजारियों के द्वारा ही 11 तारीख जून को हरियाली डाली जायेगी तथा 20 जून को यज्ञ तथा हरियाली काटने के साथ गंगा दशहरा कार्यक्रम सम्पन्न होगा। घंटाकर्ण धाम ट्रस्ट के अध्यक्ष श्री विजय प्रकाश बिजल्वाण ने बताया कि भक्तों के सहयोग से विगत कई वर्षों से…

Print Friendly, PDF & Email

Read More

आवाजी : शिवजी का वाद्य यन्त्र है – ढोल !

सरहद का साक्षी: @कवि : सोमवारी लाल सकलानी,निशांत ऐ मधुर झंकार ! सहस्त्र सुर लय ताल, दिव्य- मनोहर ! सदाशिव निसृत नाद। सुर सती मां वाद्य यंत्र दिव्यस्वर सागर, सृजक सहस्त्र ताल- लय भाषा मारग। ऐ मधुर झंकार —- प्रथम नाद उत्पन्न हुआ जब शिव डमरू, मां सती संग मिलन नाद वह ढोल दमाऊ। सृजन काव्य का हुआ नाद से ध्वनि आई, कविता का रूप मनोहर कुदरत जन पाई। ऐ मधुर झंकार —– ऐ मंगलमय वाद्य यन्त्र ! तुम…

Print Friendly, PDF & Email

Read More

उत्तराखंड की संस्कृति के द्योतक ढोल दमाऊँ पहाड़ी समाज की आत्मा रहे हैं

सरहद का साक्षी, facebook report : हेमा नेगी करासी, ढोल को लेकर दंतकथाओं में कहा गया है कि इसकी उत्पत्ति शिव के डमरू से हुई है। जिसे सबसे पहले भगवान शिव ने माता पार्वती को सुनाया था। कहा जाता है कि जब भगवान शिव इसे सुना रहे थे, तो वहां मौजूद एक गण ने इसे मन में याद कर लिया था। तब से ही ये परंपरा पीढ़ी दर पीढ़ी मौखिक रूप से चला आ रही है। ढोल की गूंज…

Print Friendly, PDF & Email

Read More

वेदऋचाओं के उदघोष के साथ ब्रह्ममुहुर्त मेष लग्न पुष्य नक्षत्र में प्रात: 4 बजकर 15 मिनट पर खुले विश्वप्रसिद्ध श्री बदरीनाथ धाम के कपाट

मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने श्री बदरीनाथ धाम के कपाट खुलने के अवसर पर देश-विदेश के श्रद्धालुओं को शुभकामनाएं दी। आशा प्रकट की है कि जल्द कोरोना महामारी से आमजनमानस को निजात मिलेगी। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की ओर से श्री बदरीनाथ धाम में कल्याण एवं आरोग्यता की भावना से पूजा-अर्चना एवं महाभिषेक समर्पित हुआ। पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज ने श्री बदरीनाथ धाम के कपाट खुलने पर प्रसन्नता जतायी कहा कोरोना से बचाव हेतु अस्थायी तौर पर चारधाम यात्रा पर…

Print Friendly, PDF & Email

Read More

वैदिक मंत्रोच्चारण के साथ खुले 11वें ज्योर्तिलिंग श्री केदारनाथ धाम के कपाट, पीएम मोदी के नाम से हुआ रूद्राभिषेक

सरहद का साक्षी, रूद्रप्रयाग: 11वें ज्योर्तिलिंग भगवान केदारनाथ धाम के कपाट विधि विधान से मंत्रोचारण के साथ आज मेष लग्न, पुनर्वसु नक्षत्र में प्रात: पांच बजे खुल गये हैं। कपाट खुलने की प्रक्रिया प्रात:तीन बजे से शुरू हो गयी थी। रावल भीमाशंकर एवं मुख्य पुजारी बागेश लिंग तथा देवस्थानम बोर्ड के अपर मुख्य कार्यकारी अधिकारी बी.डी.सिंह एवं जिलाधिकारी रूद्रप्रयाग मनुज गोयल ने पूरब द्वार से मंदिर मुख्य प्रांगण में प्रवेश किया। जिसके बाद मुख्य द्वार पर पूजा अर्चना की…

Print Friendly, PDF & Email

Read More

आज शुक्ल तृतीया शुभ मुहुर्त पर खुले श्री गंगोत्री धाम के कपाट

 * कल मां गंगा की भोग मूर्ति भैरों घाटी पहुंची थी आज प्रात: चार बजे मां गंगा की डोली ने गंगोत्री धाम के लिए प्रस्थान किया। * कोरोना महामारी के कारण चारधाम यात्रा स्थगित है , स्थितियां सामान्य होने पर चारधाम यात्रा शुरू हो सकेगी, धामों के कपाट सांकेतिक रूप से खुल रहे है, केवल पूजा परंपरा से जुड़े लोगों को ही धामों में जाने की अनुमति है। * आज श्री केदारनाथ भगवान की पंचमुखी डोली केदारनाथ पहुंचेगी, 17…

Print Friendly, PDF & Email

Read More

अक्षय तृतीया के पावन अवसर पर खुले श्री यमुनोत्री धाम के कपाट 

आज प्रात: श्री यमुनोत्री की चलविग्रह डोली को विदा करने छोटे भाई शनिदेव महाराज यमुनोत्री धाम पहुंचे श्री यमुनोत्री जी की चलविग्रह डोली ने शीतकालीन गद्दीस्थल खरशाली( खुशीमठ) से प्रस्थान किया श्री यमुनोत्री धाम के कपाट खुलने पर मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने बधाई दी • पूजा-अर्चना चलेगी, यात्रा रहेगी स्थगित, पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज ने वर्चुअल दर्शन के निर्देश दिये • श्री केदारनाथ भगवान की पंचमुखी डोली गौरीकुंड पहुंची,श्री गंगोत्री की चल विग्रह डोली गंगोत्री प्रस्थान  श्री बदरीनाथ धाम हेतु…

Print Friendly, PDF & Email

Read More

महाकुंभ 2021: उप मेलाधिकारी ने सफाई और शौचालय की व्यवस्था सुनिश्चित करने के दिए निर्देश

हरिद्वार। उप मेलाधिकारी अंशुल सिंह ने गुरूवार की शाम मेला नियंत्रण भवन सभागार में बैठक ली। उन्होंने सेक्टरवार शौचालयों की साफ सफाई और मरम्मत को लेकर सफाई निरीक्षकों, सुपरवाइजरों और होमगार्ड की ड्यूटी निर्धारित की। उप मेलाधिकारी अंशुल सिंह ने सुपरवाइजरों को अपने सेक्टरों में साफ सफाई और शौचालय की व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि शौचालयों की देखरेख, मरम्मत, फिटिंग्स आदि की टीम पूरी तरह मुस्तैदी से काम करें। बैरागी सेक्टर में विशेष सजगता के…

Print Friendly, PDF & Email

Read More

कुंभ: ज्योतिष एवं शारदा पीठाधीश्वर शंकराचार्य के प्रवेश पर निकाली मंगल शोभायात्रा

हरिद्वार। ज्योतिष एवं शारदा पीठाधीश्वर शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद जी महाराज की प्रवेश पर मंगल शोभायात्रा गुरूवार को निकाली गई। मेलाधिकारी दीपक रावत, पुलिस महानिरीक्षक संजय गुंज्याल ने शिवमूर्ति तिराहे पर शोभायात्रा का स्वागत किया। उन्होंने साधु-संतों को फूल माला पहनाकर आशीर्वाद प्राप्त किया। शोभायात्रा शंकराचार्य मठ कनखल से प्रारंभ होकर सिंहद्वार, शंकर आश्रम, चंद्राचार्य चैक, परशुराम चैराहा, मालवीय चैराहा, देवपुरा, निरंजनी-तुलसी चैक होते हुए शिवमूर्ति पहुंची। जहां मेलाधिकारी दीपक रावत, पुलिस महानिरीक्षक संजय गुंज्याल आदि ने ज्योतिष एवं शारदा…

Print Friendly, PDF & Email

Read More

error: Content is protected !!