उत्तराखंड Archives - सरहद का साक्षी
पगडंडियां

                          डा. दलीप सिंह बिष्ट पहाड़ और पगडंडियों का, अटूट रिश्ता। एक के बिना दूसरे का, नही है अस्तित्व।। पगडंडियां कही अब, खो सी गई है। सड़कों का जाल सब, हजम कर गई है।। गांव तक पहुंचने का, कभी पगडंडियां जरिया थी। मोटर-गाडि़यों ने अब, उनका स्थान ले लिया है।। राहगिरों की चहल कदमी, पगडियों की पहचान थी। अब सूनी पड़ी पगडंडियां, शेष रह गई है।। घास-पात की पगडंडियां, सूनसान हो गई़ है। गांव के गांव यहां अब, खण्डर…

Print Friendly, PDF & Email

Read More

भारतीय संस्कृति, राष्ट्रवाद एवं स्वामी विवेकानंद

    राष्ट्रीय युवा पखवाड़ा पर विशेष प्रस्तुती: डा. प्रवीन जोशी, प्राचीन भारतीय संस्कृति,परम्परा, वेदान्त, उपनिषद् और सनातन धर्म के महान प्रतीक स्वामी विवेकानंद जी ने दुनिया में भारत के आत्मसम्मान, आत्मविश्वास और आत्मगौरव को बढ़ाया | भारतीय संस्कृति, धर्म, परम्परा और इतिहास को विश्व पटल पर प्रतिष्ठित करने वाले स्वामी विवेकानन्द का  भारतीय संस्कृति के संदर्भ में मानना था कि “वैदिक संस्कृति भारत की आत्मा है और यहाँ की आध्यामिकता भारत का मेरूदण्ड है”।    स्वामी विवेकानन्द ने…

Print Friendly, PDF & Email

Read More

मुख्यमंत्री ने अयोध्या में श्रीराम मंदिर के निर्माण के लिए सहयोग राशि दी

देहरादून: मुख्यमंत्री श्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने अयोध्या में श्रीराम मंदिर के निर्माण के लिए सहयोग राशि दी। श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट और विश्व हिन्दू परिषद् द्वारा श्री राम मंदिर निर्माण के लिए सहयोग राशि जुटाने का अभियान शुरू किया गया है। शुक्रवार को मुख्यमंत्री आवास में क्षेत्र प्रचार प्रमुख श्री जगदीश जी, क्षेत्र कार्यवाहक श्री शशिकांत दीक्षित, प्रांत प्रचारक युद्धवीर जी, केंद्रीय मंत्री विश्व हिंदू परिषद श्री अशोक तिवारी, श्री रवि देव, सह प्रांत संगठन मंत्री विश्व…

Print Friendly, PDF & Email

Read More

मुलक्या रिवाज

डा. दलीपसिंह बिष्ट मुलक्या रिवाज कख, हरचीगै मेरा पहाडुकू। बोली-भाषा, गीत-गाणा, नी सुणेदा आजकू।। ऋतु बौडि़क औंदी पर, रिवाज कख हरची गैन। घाम, बरखा सब्बी होंदी, पर लोग कख गैन।। नी दिखेन्दी कखी अब, घुघती, हिलांस। नी सुणेदी कखी, भौर-पंछियों की आवाज।। बोली-भाषा हरची गै, गौंकू रिवाज। खेळा-मेळा नी होंदा, बैख्या रिवाज।। अपणा नी दिखेंदा, क्वी यख। पराया ह्वेगी, सब्बी परदेशु जैक।। घेन्दुड़ी, छेंटुली अब नी, चखोल्यों की टोली। गोरू-बाछरू नी दिखेन्दा, अर बल्दू की जोड़ी।। कुजाणी गौंकू रिवाज,…

Print Friendly, PDF & Email

Read More

पहाड़ कू खाणू

  डा. दलीप सिंह बिष्ट पहाड़ जन पैली थान, उना नी रैगी। खाणू-लाणू यख, सब बदले गैगी।। कौदैकी रोठी, अर भट्टू की चटणी। वैकी जगा मोमो, अर सूपान लीली।। झंगोरा का दगड़ी, पौळयों खाणू। वैकी जगा चैमिन-मैगी ह्वेगी खाणू।। कोदू-झंगोरु, सब्बी हरची गैगी। वैकी जगा, फास्ट-फूडन लीली।। छुटगी अब, पहाड़कू खाणू-लाणू। घर-घर मा अब, चैमिन बन्याणू।। पहाड़ कू खाणू-लाणू, सब हरची गैगी। चैनिज खाणू, हर घरमा ह्वेगी।। गौड़ा-भैसौकू दूध, कखी नी रैगी। थैली कू दूध अब, गौं-गौं मा ह्वेगी।।…

Print Friendly, PDF & Email

Read More

मकर संक्रान्ति का महत्व

प्रस्तुति: डा. प्रवीन जोशी भगवान सूर्य के धनु राशि से अपने पुत्र एवं मकर राशि के स्वामी शनि के घर पर संक्रमण के पर्व को मकर संक्रान्ति के रूप में मनाया जाता है | ऐसी मान्यता है कि इस दिन भगवान भास्कर अपने पुत्र शनि से मिलने स्वयं उसके घर जाते हैं। इसी दिन से सूर्य दक्षिणायण से उत्तरायण होने लगते हैं शात्रों में  दक्षिणायण को देवताओं की रात्रि अर्थात् नकारात्मकता का प्रतीक और उत्तरायण को देवताओं का दिन…

Print Friendly, PDF & Email

Read More

काश्तकारों को आय बढ़ाने के लिए मिलेंगी भेडे़: डाॅ. धन सिंह रावत

थलीसैण व तिरपालीसैण में खुलेंगे स्थानीय उत्पादों के लिए स्टोर देहरादून: सहकारिता, उच्च शिक्षा, दुग्ध विकास एवं प्रोटोकाॅल राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) डाॅ. धन सिंह रावत ने आज विधानसभा स्थित कार्यालय कक्ष में केंन्द्र वित्त पोषित एकीकृत आजीविका सहयोग परियोजना की समीक्षा बैठक ली। बैठक में सहकारिता मंत्री ने आईएलएसपी, डब्ल्यूएमडी, एनआरएलएम, यूजीवीएस के अंतर्गत संचालित योजनाओं की जानकारी लेते हुए अधिकारियों को निर्देशित किया कि श्रीनगर विधानसभा के अंतर्गत श्रीनगर गढ़वाल व थलीसैण अथवा तिरपालीसैण क्षेत्र में उत्पादित…

Print Friendly, PDF & Email

Read More

मार्च माह तक 60 फीसदी बकाया वसूला किया जायेगाः डाॅ. धन सिंह

20 बड़े बकायादारों से रिकाॅर्ड समय में 76 करोड़ रूपये की हुई वसूली किसानों, गरीबों के खिलाफ नहीं चलाया जा रहा ऋण वसूली अभियान देहरादून: बकाया ऋण वसूली अभियान के अंतर्गत अब तक प्रदेश भर के 20 बड़े बकायादारों से 76 करोड़ रूपये की वसूली की गई। मार्च माह तक बकाया ऋण का 60 फीसदी वसूली का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। यह अभियान किसी किसान के खिलाफ नहीं है बल्कि बड़े 20 बकायादारों के विरूद्ध है जिन्होंने 50…

Print Friendly, PDF & Email

Read More

उत्तराखंड के मित्रों के नाम चिट्ठी
संपादक बालप्रहरी

सिद्धीश्री सर्वोपमा योग्यवर-6 आमा-बूबू, ठुल बौज्यू-ठुलि ईजा,  कका-काकी और सबै ठुला कैं मेरि पैला और ननां कै प्यार आशीष।            ‘आज दो अभी दो, उत्तराखंड राज्य दो’ आंदोलन में लोगूंल बहुत बढ़ि-चढ़ि बे भाग लेछ। तब लोग स्वैण देखछी कि उत्तराखंड राज्य में हमरि संस्कृति, भाष कै अघिल बढ़ाई जाल। शराबल पहाड़ बर्बाद हैगो, पहाड़ बटी शराब न्है जालि। पहाड़ै राजधानी पहाड़ में होलि। पर उत्तराखंड राज्य बणि बाद लोगों स्वैण धरियै रै गयीं। हमार नेता लोग बोट बैंका…

Print Friendly, PDF & Email

Read More

उच्च शिक्षा विभाग द्वारा आयोजित निबंध प्रतियोगिता में सम्मिलित हुए हजारों छात्र-छात्राएं

प्रदेश भर के विश्वविद्यालयों एवं राजकीय महाविद्यालयों में आयोजित की गई प्रतियोगिता स्वामी विवेकानंद जी के विचारों की प्रासंगिकता उत्तराखंड के संदर्भ में था विषय देहरादून: मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत की पहल आज प्रदेशभर के विश्वविद्यालयों एवं महाविद्यालयों में स्वामी विवेकानंद की जयंती को ‘युवा चेतना दिवस’ के तौर पर मनाया गया। इस अवसर पर और उच्च शिक्षा मंत्री डाॅ. धन सिंह रावत के निर्देश पर उच्च शिक्षा विभाग द्वारा राज्यभर के विश्वविद्यालयों एवं राजकीय महाविद्यालयों में युवाओं के…

Print Friendly, PDF & Email

Read More

error: Content is protected !!