गुरूवार , जुलाई 7 2022
Breaking News
उत्तरकाशी से ट्रैकिंग पर निकले दिल्ली और कोलकाता के 8 ट्रैकर्स सहित 11 लोग लापता

बड़ी खबर: उत्तरकाशी से ट्रैकिंग पर निकले दिल्ली और कोलकाता के ट्रैकर्स सहित 11 लोग लापता

play icon Listen to this article

आसमानी आफत से उत्तराखंड उबर भी नहीं पाया था कि उत्तरकाशी से 11 लोगों के लापता होने की खबर आ रही है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार हर्षिल-छितकुल (हिमाचल प्रदेश) के लखमा पास गए दिल्ली और कोलकाता के 8 ट्रैकर्स सहित 11 लोग लापता हो गए हैं। ट्रैकर्स के लापता होने की सूचना स्थानीय ट्रैकिंग एजेंसी की और से जिला प्रशासन को दी गई है। बुधवार को एक हेलीकॉप्टर सहित SDRF की टीम ट्रैकर्स के खोज-बचाव के लिए मौके के लिए रवाना हो गई है।

🚀 यह भी पढ़ें :  केंद्रीय रक्षा मंत्री एवं मुख्यमंत्री ने कारगिल युद्ध के शहीद कुंदन सिंह खड़ायत की प्रतिमा पर पुष्पांजलि अर्पित कर श्रद्धांजलि दी

[su_highlight background=”#091688″ color=”#ffffff”]सरहद का साक्षी, उत्तरकाशी[/su_highlight]

स्थानीय ट्रैकिंग एजेंसी ने घटना की सूचना बुधवार को जिला आपदा प्रबधन विभाग की दी। सूचना के आधार पर एक हेलीकॉप्टर सहित SDRF की टीम ट्रैकर्स के खोज-बचाव के लिए मौके के लिए रवाना हो गई है। जानकारी के मुताबिक विगत 14 अक्टूबर को दिल्ली और कोलकाता के 8 ट्रैकर्स के साथ 17 सदस्यीय दल हर्षिल-छितकुल के लखमा पास के लिए रवाना हुआ था। छितकुल के समीप पहुंचे पोर्टरों से मिली जानकारी के अनुसार इन ट्रैकर्स में दो ट्रैकर्स घायल हैं।

🚀 यह भी पढ़ें :  मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने आंध्र प्रदेश के तिरुमाला पर्वत पर स्थित भगवान श्री तिरुपति बालाजी मन्दिर में पूजा अर्चना की

लापता ट्रेकर्स की पहचान अनीता रावत (उम्र 38 वर्ष), दिल्ली निवासी मिथुन दारी (उम्र 31 वर्ष), पश्चिम बंगाल निवासी, तन्मय तिवारी (उम्र 30 वर्ष), कोलकाता निवासी विकास (उम्र 33 वर्ष), कोलकाता निवासी, सौरव घोष (उम्र 34 वर्ष) कोलकाता निवासी, रिचर्ड मंडल (उम्र 30 वर्ष) सुकेन मांझी (उम्र 43 वर्ष) देवेंद्र  (उम्र 37 वर्ष)  पुरोला उत्तरकाशी निवासी, ज्ञानचंद (उम्र 33 वर्ष) उपेंद्र  (उम्र 32 वर्ष) के रूप में हुई है।

Print Friendly, PDF & Email

Check Also

'Life is not bed of roses. जीवन कठिनाइयों के बीच ही रहेगा, हमें ही आगे बढ़ना होगा- द्रौपदी मुर्मू जी

‘Life is not bed of roses. जीवन कठिनाइयों के बीच ही रहेगा, हमें ही आगे बढ़ना होगा- द्रौपदी मुर्मू जी

Listen to this article अगले पांच वर्षों के लिए भारत की प्रथम नागरिक के रूप …

error: Content is protected !!