विश्व तंबाकू निषेध दिवस पर महाविद्यालय रिखणीखाल में जागरूकता कार्यक्रम आयोजित

22
विश्व तंबाकू निषेध दिवस पर महाविद्यालय रिखणीखाल में जागरूकता कार्यक्रम आयोजित
play icon Listen to this article

विश्व तंबाकू निषेध दिवस पर महाविद्यालय रिखणीखाल में जागरूकता कार्यक्रम आयोजित

पौड़ी, विक्रम सिंह रावत:  भारत सिंह रावत राजकीय महाविद्यालय रिखणीखाल में विश्व तंबाकू निषेध दिवस के अवसर पर महाविद्यालय की एंटी ड्रग प्रकोष्ठ तथा राष्ट्रीय सेवा योजना इकाई के द्वारा महाविद्यालय में जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किया गया।

इस अवसर पर महाविद्यालय के प्राचार्य प्रोफ़ेसर मनोज उप्रेती ने छात्र-छात्राओं शिक्षकों एवं शिक्षणेत्तर कर्मचारियों से तंबाकू का सेवन न करने की अपील की तथा तंबाकू सेवन से होने वाली बीमारियों के बारे में अवगत करा कराया।

राष्ट्रीय सेवा योजना इकाई नोडल अधिकारी डॉ महेश चंद्र आर्य ने छात्र छात्राओं को संबोधित करते हुए बताया कि राष्ट्रीय सेवा योजना का कार्य समाज में व्याप्त बुराइयों को दूर करना है| नशीले पदार्थों का स्वस्थ समाज के लिए घातक है।

मादक पदार्थों के सेवन से सामाजिक विघटन पारिवारिक विघटन जैसी समस्याएं उत्पन्न होते हैं। इनका निवारण तभी किया जा सकता है जब सामाजिक जागरूकता बढ़ाई जाए| ड्रग सेल के नोडल अधिकारी डॉ. अनूप सिंह ने छात्र छात्राओं को धूम्रपान तथा तंबाकू सेवन ना करने की शपथ दिलाई।

उन्होंने कहा कि विश्व तंबाकू निषेध दिवस के अवसर पर हम यह शपथ लेते हैं कि जीवन में हम कभी भी किसी प्रकार के तंबाकू उत्पादों का सेवन नहीं करेंगे एवं अपने परिजनों और परिचितों को भी तंबाकू उत्पादों एवं किसी प्रकार के नशे का सेवन नहीं करने के लिए प्रेरित करेंगे।

नोडल अधिकारी ने अपने संबोधन में यह भी कहा तंबाकू व धूम्रपान सेवन से मानव शरीर में निकोटीन नामक पदार्थ की अधिकता बढ़ती है, जिससे अनेक प्रकार की शारीरिक विकृतियां उत्पन्न होती जैसे फेफड़े का कैंसर तनाव बढ़ना उच्च रक्तचाप कमजोरी गले और मुख का कैंसर पागलपन याददाश्त क्षमता का खत्म होना आदि अनेक बीमारियां उत्पन्न होती है।

नशा मुक्त जीवन सुखी जीवन का सार है किसी भी प्रकार के नशीले पदार्थ का सेवन जीवन के लिए खतरे की घंटी है। इस अवसर पर महाविद्यालय के शिक्षक एवं शिक्षणेत्तर कर्मचारी तथा छात्र-छात्राएं उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here