विधानसभा चुनाव 2022ः बुजुर्गां से करवाया पोस्टल मतदान, कई बुजुर्ग व विकलांग रहे घर पर मतदान से वंचित

विधानसभा चुनाव 2022ः बुजुर्गां से करवाया पोस्टल मतदान, कई बुजुर्ग व विकलांग रहे घर पर मतदान से रहे वंचित
play icon Listen to this article

निर्वाचन आयोग की इस बार घर पर ही 80 वर्ष से ऊपर की आयुवर्ग के बुजुर्गों एवं विकलांगों को पोस्टल वैलेट से घर पर ही मतदान करवाये जाने की प्रक्रिया के तहत आज टिहरी विधानसभा के छाती गांव में पोलिंग पार्टियों द्वारा मतदान करवाया गया।

[su_highlight background=”#880e09″ color=”#ffffff”]सरहद का साक्षी, नकोट[/su_highlight]

इस बारगी चुनाव आयोग की निर्वाचन प्रक्रिया के तहत बुजुर्गों व विकलांगों से घर पर ही पोस्टल बैलेट के तहत मतदान करवाये जाने की व्यवस्था से गांवों में मतदान किए जाने की प्रक्रिया जारी है। जिसके अंतर्गत आज ग्राम छाती में पोलिंग पार्टियों द्वारा मतदान करवाया गया। ग्राम छाती में कई बुजुर्ग व विकलांग सूची में नाम न होने के कारण इस पोस्टल वैलेट सुविधा से मतदान करने से वंचित रहे।

गांव में करीबन आधा दर्जन से अधिक मतदाता 80 वर्ष से ऊपर आयु वर्ग के थे। यही नहीं गांव में पूर्व सैनिक स्व. बलबीर सिंह चौहान की विकलांग पुत्री बबीता भी पोस्टल वैलेट सुविधा से वंचित रहीं। जबकि यह विकलांग बालिका चलने फिरने, बोलने में असमर्थ है। ग्राम छाती में सरहद का साक्षी के सम्पादक केदारसिंह चौहान की माता श्रीमती भागदेई देवी ने इस मौके पर अपने मताधिकार का प्रयोग किया।