नशामुक्त उतराखंड-2025 के वृहद् जागरूकता अभियान के तहत महाविद्यालय पोखरी में एंटीड्रग सेल के तत्वावधान में विचार गोष्ठी आयोजित

0
63
यहाँ क्लिक कर पोस्ट सुनें

नशामुक्त उतराखंड-2025 के वृहद् जागरूकता अभियान के तहत महाविद्यालय पोखरी में एंटीड्रग सेल के तत्वावधान में विचार गोष्ठी आयोजित 

पोखरी, नरेंद्र बिजलवाण: नशामुक्त उतराखंड-2025 के वृहद् जागरूकता अभियान के तहत राजकीय महाविद्यालय पोखरी, क़्वीली टिहरी गढ़वाल में महाविद्यालय के एंटीड्रग सेल के तत्वावधान में एक दिवसीय “नशामुक्ति अभियान में युवाओं की भागीदारी : उत्तराखंड क़े पहाड़ी क्षेत्र के विशेष संदर्भ में” विषयक विचार संगोष्ठी का आयोजन किया गया।

इस अवसर पर सभी छात्र – छात्राओं के मध्य एक चार्ट प्रतियोगिता का आयोजन भी किया गया, जिसमें उनके द्वारा नशामुक्ति से सम्बंधित अलग अलग विषयों पर चार्ट बनाये गये, जिसमें प्रथम स्थान बी.ए. द्वितीय वर्ष की अंजली बिजल्वाण, द्वितीय स्थान बी.ए. द्वितीय वर्ष की अक्षा असवाल तथा तृतीय स्थान बी.ए. द्वितीय वर्ष की कोमल ने प्राप्त किया।

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि आयुर्वेदिक चिकित्सालय पोखरी के डॉ० साकेत एवम् महाविद्यालय की प्राचार्या महोदया डॉ० शशि बाला वर्मा द्वारा विजेताओं को पुरस्कृत भी किया गया। एंटी ड्रग सेल के नोडल अधिकारी डॉ० राम भरोसे द्वारा बच्चो को नशे से दूर रहने के बारे में बताया गया कि किस प्रकार नशे से बचा जा सकता है।

महाविद्यालय की प्राचार्य डॉ० शशि बाला वर्मा द्वारा बच्चों को बताया गया कि किस प्रकार हम अपने आस पास फैल रहे नशे को अपने स्तर से कम कर सकते हैं और उन्होंने स्वरचित रचना के माध्यम से बच्चों का मार्गदर्शन किया।

इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि के रूप में आयुर्वेदिक चिकित्सालय पोखरी से आए डॉ० साकेत जी ने बच्चों को नशे से दूर रहने की सलाह दी और कहा कि औरों को भी नशे से दूर रहने के लिये भी हमें प्रेरित करना होगा तभी इस से बचा जा सकता है।

इस कार्यक्रम में आयोजित प्रतियोगिता में महाविद्यालय के डॉ० मुकेश सेमवाल, डॉ० बंदना सेमवाल, डॉ० विवेकानंद भट्ट द्वारा निर्णायक की भूमिका अदा की गई साथ ही, श्रीमती रचना राणा, श्रीमती रेखा नेगी, श्री अंकित कुमार, कु० अमिता, श्री नरेश रावत, श्री दीवान, श्रीमती सुनीता, श्री मूर्ति लाल, श्री राजेंद्र प्रसाद आदि के साथ अक्षा, अंजलि, कोमल, वर्षा, काजल, पूजा, अंशिका, सिया आदि बच्चे उपस्थित रहे।

Comment