प्रमुख सचिव श्री एल. फैनई की अध्यक्षता में जनपद स्तरीय अधिकारियों के साथ विभिन्न योजनाओं एवं कार्यक्रमों की समीक्षा बैठक आयोजित

85
प्रमुख सचिव समाज कल्याण की अध्यक्षता में जनपद स्तरीय अधिकारियों के साथ विभिन्न योजनाओं एवं कार्यक्रमों की समीक्षा बैठक आयोजित
Listen to this article

प्रमुख सचिव श्री एल. फैनई की अध्यक्षता में जनपद स्तरीय अधिकारियों के साथ विभिन्न योजनाओं एवं कार्यक्रमों की समीक्षा बैठक आयोजित

नई टिहरी: श्री एल. फैनई, प्रमुख सचिव, समाज कल्याण, जनजाति कल्याण एवं अल्पसंख्यक कल्याण विभाग, उत्तराखंड शासन की अध्यक्षता में मंगलवार को जनपद स्तरीय अधिकारियों के साथ विभिन्न योजनाओं एवं कार्यक्रमों की समीक्षा बैठक आयोजित की गई।

जिला सभागार नई टिहरी में आयोजित बैठक में प्रमुख सचिव श्री एल. फैनई ने कहा कि सशक्त उत्तराखंड/25 के अंतर्गत जनपद के विकास की बुनियाद विकास कार्यों को धरातल पर उतारकर विकास के अंतिम छोर पर खड़े व्यक्ति तक उनका लाभ पहुंचाना है।

इस मौके पर श्री एल. फैनई द्वारा प्रत्येक विभाग की योजनाओं, कार्यक्रमों एवं प्रगति की जानकारी लेते हुए जन जागरूकता हेतु योजनाओं का अधिक से अधिक प्रचार प्रसार कर शत प्रतिशत उपलब्धि हासिल करने के निर्देश दिए गए। समाज कल्याण विभाग के कार्यक्रमों की जानकारी लेते हुए प्रमुख सचिव ने कहा कि ट्रांस जेंडर और बोना पेंशन के संबंध में भी प्रचार प्रसार करने तथा चिकित्सा एवं समाज कल्याण विभाग आपसी समन्वय से दिव्यांगो के शत प्रतिशत यूडीआईडी कार्ड बनाने के निर्देश दिए गए।

कृषि विभाग की समीक्षा के दौरान प्रमुख सचिव ने कहा कि कृषकों के खेतों, फसलों को हुए नुकसान के तहत बीमा पॉलिसी की क्लेम धनराशि कृषकों को समय अंतर्गत प्राप्त हो, इसमें बिल्कुल भी बिलंब न हो। बताया कि जनपद के वास्तविक विकास एवं व्यवहारिक समस्याओं के समाधान हेतु प्रत्येक माह समीक्षा की जायेगी।

जनपद से शुरु नवाचर पहल ‘‘अपुणु स्कूल अपणु प्रमाण‘‘ के बारे में जिलाधिकारी डॉ. सौरभ गहरवार ने बताया कि इसके तहत प्रथम चरण में 12वीं के बच्चों के प्रमाण पत्र स्कूल स्तर पर ही बनाए गए, ताकि स्कूल के बाद बच्चों को प्रतियोगी परीक्षाओं में प्रतिभाग करने में आसानी हो और उन्हें प्रमाण पत्रों के लिए इधर उधर भटकना न पड़े।

बताया कि वर्तमान में 10, 11 एवं 12 कक्षा के छात्र छात्राओं के प्रमाण पत्र बनाए जा रहे हैं तथा 70 प्रतिशत प्रमाण पत्र बनाए जा चुके हैं। राज्य सरकार द्वारा अन्य जनपदों में भी अपुणु स्कूल अपणु प्रमाण पत्र के तहत प्रमाण पत्र एवं डीजी लॉकर बनाने के निर्देश दिए गए है। बताया कि जनपद टिहरी में सबसे अधिक बच्चों के डीजी लॉकर बनाए जा चुके हैं।

मुख्य विकास अधिकारी मनीष कुमार ने बताया कि जनपद में वेस्ट प्रेक्टिसेस के अन्तर्गत मूलभूत सुविधाएं देकर एडवेंचर एवं अन्य पर्यटक गतिविधियां बढ़ाकर टूरिस्ट को बढ़ावा दिया जायेगा। बताया कि घुत्तू ट्रैकिंग टंक्शन सेंटर व पंतवाड़ी ट्रैकिंग टंक्शन सेंटर को विकसित करने के साथ ही क्षेत्र के घरों को होमस्टे के रूप में विकसित किया जायेगा।

उन्होंने बीस सूत्रीय कार्यक्रम के अन्तर्गत कार्यान्वयन समितियों, रैंकिंग मानकों, स्थलीय सत्यापन, जीओ टैगिंग आदि की जानकारी देते हुए बताया कि बीस सूत्रीय कार्यक्रम में जनपद टिहरी गढ़वाल ने अपै्रल, 2022 से फरवरी, 2023 तक प्रदेश के समस्त 13 जनपदों में प्रथम स्थान प्राप्त किया है। बताया कि माह मई, 2023 में जनपद क्षेत्रान्तर्गत नरेन्द्रनगर में आयोजित जी-20 की बैठक के दौरान स्वयं सहायता समूह, वन विभाग एवं जिला उद्योग केन्द्र द्वारा लगभग 02 लाख के हैण्डीक्राफ्ट एवं अन्य सामाग्री की बिक्री की गई।

प्रथम सत्र की समीक्षा बैठक में डीपीआरओ एम.एम. खान ने बताया कि स्वामित्व योजना के अन्तर्गत शत-प्रतिशत स्वामित्व कार्ड का वितरण कर लिया गया है। बैठक में समाज कल्याण, जिला उद्योग केन्द्र, कृषि, स्वास्थ्य, मत्स्य, पंचायती राज, शिक्षा विभाग के अधिकारियों द्वारा अपने-अपने विभागीय योजनाओं एवं कार्यक्रमों की जानकारी एवं प्रगति रिपोर्ट से अवगत कराया गया।

इस मौके पर डीएफओ टिहरी पुनीत तोमर, सीएमओ मनु जैन, अधीक्षण अभियन्ता लोनिवि एन.पी. सिंह, जिला सैनिक कल्याण एवं पुनर्वास अधिकारी कर्नल योगेन्द्र कुमार (अ.प्रा.), जीएम डीआईसी महेश शर्मा, ईई जल संस्थान सतीश नौटियाल, ईई लघु सिंचाई बृजेश गुप्ता, डीईओ वी.के. ढौंडियाल, एआरटीओ चक्रपाणी मिश्रा, जिला आबकारी अधिकारी कैलाश बिंजौला, डीएसओ अरूण वर्मा, समाज कल्याण अधिकारी के.एस. चौहान, मत्स्य अधिकारी गरीमा मिश्रा, आयुर्वेदिक अधिकारी सुभाष चन्द, सहायक निबंधक सहकारिता सुभाष गहतोड़ी, उरेडा अधिकारी एम.एम डिमरी सहित अन्य जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे।

Comment