50 प्रतिशत एवं उससे कम आधार संग्रहण मतदेय स्थलों पर व्यक्तिगत ध्यान दें संबंधित SDM’s: जिला निर्वाचन अधिकारी 

मतदेय स्थल के संशोधन/परिवर्तन या पुनर्निधारण बाबत आपत्ति/सुझाव
play icon Listen to this article

जिलाधिकारी/जिला निर्वाचन अधिकारी, टिहरी गढ़वाल डॉ. सौरभ गहरवार ने विधान सभा क्षेत्रान्तर्गत ऐसे मतदेय स्थल जहां 50 प्रतिशत एवं उससे कम आधार संग्रहण/लिंक हुए हैं, के संबंध में जनपद के संबंधित SDM’s को ऐसे मतदेय स्थलों पर व्यक्तिगत ध्यान देते हुए बीएलओ/सुपरवाईजरों के माध्यम से 10 सितम्बर, 2022 तक अपने-अपने विधान सभा निर्वाचन क्षेत्रों के अवशेष मतदाताओं को आधार संग्रहण/लिंक करवाते हुए प्रगति रिपोर्ट उपलब्ध कराने के निर्देश दिये।

भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार वर्तमान में जनपद मंे विधान सभा निर्वाचक नामावली में दर्ज मतदाताओं की प्रविष्टियों का प्रमाणीकरण और भविष्य में बेहतर चुनावी सेवाएं प्रदान करने हेतु 01 अगस्त, 2022 से आधार संग्रहण कार्य किया जा रहा है।

मतदाताओं से स्वैच्छिक रूप से विधान सभा निर्वाचन क्षेत्रों के मतदेय स्थलों के बीएलओ, सुपरवाइजरों के द्वारा आधार संग्रहण कर गरूड़ा एप के माध्यम से विधान सभा निर्वाचन क्षेत्रवार मतदाता पहचान पत्र से आधार कार्ड लिंक करने का कार्य किया जा रहा है।

जनपद की 06 विधान सभा निर्वाचन क्षेत्रों में 31 अगस्त 2022 तक कुल 65.32 प्रतिशत आधार संग्रहण/आधार कार्ड लिंक किये जाने का कार्य हो चुका है, जिसमें विधानसभा घनसाली में 61.78, देवप्रयाग में 57.64, नरेन्द्रनगर में 70.44, प्रतापनगर में 61.62, टिहरी में 65.56 तथा धनोल्टी में 75.02 प्रतिशत शामिल है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here