भारी वर्षा के चलते टिहरी जिला प्रशासन है चौकन्ना, नदियों के जल स्तर पर है सतर्क दृष्टि

 अलकनंदा नदी का जल स्तर खतरे के निशान से ऊपर, ऋषिकेश में गंगा नदी का जल स्तर भी चेतावनी स्तर 339.50 के पास

अलकनंदा नदी का जल स्तर खतरे के निशान से ऊपर, ऋषिकेश में गंगा नदी का जल स्तर भी चेतावनी स्तर 339.50 के पास

सरहद का साक्षी,

नई टिहरी: भारी वर्षा के चलते गत रात्रि 10 बजे श्रीनगर में अलकनंदा नदी का जल स्तर चेतावनी स्तर 535.00 मी0 क्रॉस कर 335.62 हो गया तथा ऋषिकेश में गंगा नदी का जल स्तर भी चेतावनी स्तर 339.50 के पास पहुंच गया है।

सूचना प्राप्त होने पर तत्काल कीर्तिनगर, देवप्रयाग, पावकीदेवी, नरेंद्रनगर की राजस्व टीमों, पुलिस थानों, एसडीआरएफ, नगर पालिका/पंचायतों को अलर्ट मोड़ पर रहने हेतु निर्देशित किया गया। नदी किनारे के स्थलों पर आम जनमानस को अनाउंसमेंट कर सतर्क किया गया। तहसील कंट्रोल रूमों से भी क्षेत्रीय लोगों को सतर्क किया गया। ताकि कोई भी नदी तट पर न जाये। सम्पूर्ण रात्रि नदी जल स्तर पर सतर्क दृष्टि बनाये रखते हुए सभी सम्बन्धितों से निरन्तर सम्पर्क रखा गया।

कीर्तिनगर क्षेत्रान्तर्गत जाखणी में संवेदनशील यूपीसीएल, वन विभाग, लोनिवि के कार्यालय को खाली करवाया जा रहा है। सुरक्षा के दृष्टिगत जीवीके के पास पुलिया से आवागमन बन्द करवा दिया गया है, एहतियात के तौर पर वैकल्पिक मार्ग नौर-बडियारगढ़ से अवगमन किया जाएगा। नौर में 2-3 आवासों को संवेदनशील बताया जा रहा है। उक्त के दृष्टिगत राजस्व टीम मौके मुआयने पर है व आवश्यक कदम उठाए जा रहे हैं। टीएचडीसी डैम के जल स्तर और निकासी पर सतर्क दृष्टि रखी जा रही है व निरन्तर समन्वय बनाये रखा जा रहा है।

वर्तमान में श्रीनगर अलकनंदा का जल स्तर 535.90 मी0 तथा ऋषिकेश गंगा का जल स्तर 340.40 मी0 है। जनपद में 01 राष्ट्रीय राजमार्ग 58 कौडियाला-व्यासी के पास अवरुद्ध है। इसके अतिरिक्त 07 ग्रामीण मार्ग अवरुद्ध हैं, जिनके सुचारिकरण की कार्यवाही गतिमान है।

Print Friendly, PDF & Email
Share