टिहरी दौरे पर आपदा प्रबंधन मंत्री डॉ० धन सिंह ने की जनपद मानसून तैयारी समीक्षा, दिए सख्त निर्देश

स्वास्थ्य विभाग 100 बैड का कोविड केयर सेंटर केवल बच्चों  हेतु रखे तैयार

बच्चे के बैड के साथ माँ के लिए भी एक बैड की सुविधा हो सुनिश्चित

सभी लाइन डिपार्टमेंट अधिकारियों को दिए निर्देश

लोनिवि व पीएमजीएसवाई मानव संसाधन व मशीनरी को अलर्ट मोड़ पर रखे

गोदामों में राशन का पर्याप्त स्टॉक व राशन कार्डों को ऑनलाइन करने के निर्देश

दूरस्थ गांवों को दें सेटलाइट फोन, कॉल का समस्त व्यय सरकार करेगी वहन

क्षतिग्रस्त मोटर मार्गो पर यातायात की हो त्वरित बहाली

टिहरी दौरे पर आपदा प्रबंधन मंत्री डॉ० धन सिंह ने की जनपद मानसून तैयारी समीक्षा स्वास्थ्य विभाग 100 बैड का कोविड केयर सेंटर केवल बच्चों  हेतु रखे तैयार बच्चे के बैड के साथ माँ के लिए भी एक बैड की सुविधा हो सुनिश्चित सभी लाइन डिपार्टमेंट अधिकारियों को दिए निर्देश लोनिवि व पीएमजीएसवाई मानव संसाधन व मशीनरी को अलर्ट मोड़ पर रखे गोदामों में राशन का पर्याप्त स्टॉक व राशन कार्डों को ऑनलाइन करने के निर्देश दूरस्थ गांवों को दें सेटलाइट फोन, कॉल का समस्त व्यय सरकार करेगी वहन क्षतिग्रस्त मोटर मार्गो पर यातायात की हो त्वरित बहाली

सरहद का साक्षी,

नई टिहरी: प्रदेश के राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार), उच्च शिक्षा, सहकारिता, प्रोटोकाल, आपदा प्रबंधन एवं पुनर्वास डॉ० धन सिंह रावत ने अपने एक दिवसीय जनपद भ्रमण के दौरान जिला कार्यालय सभागार में आगामी मानसून की तैयारियों की समीक्षा की।

सभी लाइन डिपार्टमेंट अधिकारियों को दिए निर्देश

समीक्षा बैठक में मा०मंत्री ने सभी लाइन डिपार्टमेंट अधिकारियों को निर्देश दिए कि जनपद में कहीं पर भी आपदा आने पर राहत व बचाव कार्य हेतु क्विक रिस्पांस (त्वरित प्रतिक्रिया) का खाका तैयार रखें। उन्होंने कहा कि आपदा से क्षतिग्रस्त पेयजल, विद्युत लाइन, मोटर मार्ग को सुचारू करने में लक्ष्य का निर्धारण अवश्य कर लें, ताकि प्रभावितों को किसी प्रकार की कठिनाइयों का सामना न करना पड़े।

लोनिवि व पीएमजीएसवाई मानव संसाधन व मशीनरी को अलर्ट मोड़ पर रखे

उन्होंने लोक निर्माण विभाग व पीएमजीएसवाई के अधिकारियों को स्पष्ट निर्देश दिए कि किसी भी स्थिति से निपटने के लिए मानव संसाधन व मशीनरी को अलर्ट मोड़ पर रखा जाय। वहीं उन्होंने जल संस्थान के अधिकारियों को निर्देश दिए कि किसी भी प्रकार की आपदा से क्षतिग्रस्त पाइप लाइनों को त्वरित प्रतिक्रिया करते हुए 2 घंटे के भीतर पेयजल की आपूर्ति सुनिश्चित की जाए।

गोदामों में राशन का पर्याप्त स्टॉक व राशन कार्डों को ऑनलाइन करने के निर्देश

खाद्य आपूर्ति विभाग की समीक्षा के दौरान मा० मंत्री ने क्षेत्रीय गोदामों में राशन का पर्याप्त स्टॉक रखने के निर्देश दिए है। साथ ही ऑनलाइन किये जाने हेतु अवशेष 2 प्रतिशत राशन कार्डों को तत्काल ऑनलाइन करने के निर्देश दिए हैं।

स्वास्थ्य विभाग 100 बैड का कोविड केयर सेंटर केवल बच्चों  हेतु रखे तैयार

स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा के दौरान मंत्री ने कहा कि मानसून के दौरान विभाग की जिम्मेदारी बड़ जाएगी। एक तरफ कोरोना व दूसरी तरफ जलजनित रोगों से आमजन को सुरक्षित रखना। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि कोरोना की तीसरी संभावित लहर के दृष्तिगत कम से कम 100 बैड का कोविड केयर सेंटर केवल बच्चों  के लिए तैयार रखें।

बच्चे के बैड के साथ माँ के लिए भी एक बैड की सुविधा हो सुनिश्चित

उन्होंने यह भी निर्देश दिए कि 6 वर्ष से कम आयु वर्ग के बच्चे के साथ उनकी मां अनिवार्य रूप से साथ रहेगी इस हेतु सेंटर में बच्चे के बैड के साथ मे माँ के लिए भी एक बैड की सुविधा सुनिश्चित की जाए।

दूरस्थ गांवों को दें सेटलाइट फोन, कॉल का समस्त व्यय सरकार करेगी वहन

इसके अलावा जनपद के ऐसे दूरस्थ गांवों जिनका बरसात के दौरान शहरों/मुख्यालयों से संपर्क टूट जाता है को सेटलाइट फोन उपलब्ध कराने के निर्देश दिए है। ताकि ग्रामीणों से निरंतर संपर्क साधा जा सके। स्पष्ट किया कि सेटलाइट की कॉल दर बहुत महंगी होती है जिसका पैसा संबंधित ग्राम प्रधानों से न लिया जाए। कहा कि सेटलाइट फोन कॉल का समस्त व्यय सरकार वहन करेगी

आपदा प्रबंध मंत्री ने मानसून आगनम से पूर्व झूलते तारों, जंग लगे पोलों को बदलने के भी निर्देश दिए है। कहा कि यदि इस कार्य मे धन की कमी आड़े आ रही है तो वे इसकी डिमांड शीघ्र ही उपलब्ध करा दें लेकिन किसी भी स्थिति में विधुत आपूर्ति बाधित न होने पाए।

क्षतिग्रस्त मोटर मार्गो पर यातायात की हो त्वरित बहाली

बैठक में जिलाधिकारी इवा आशीष श्रीवास्तव ने बताया कि आगमी मानसून के दौरान जनपद के क्षतिग्रस्त मोटर मार्गो पर यातायात की त्वरित बहाली के लिए लोनिवि व पीएमजीएसवाई द्वारा कुल 107 जेसीबी मशीनों की तैनाती की जा रही है। जो कि किसी भी प्रकार की लैंड स्लाइड हटाने के लिए पर्याप्त है। डॉ० रावत ने जिलाधिकारी को निर्देश दिए कि जेसीबी के कार्य करने का दैनिक रूप से समय का निर्धारण कर लिया जाए।

बैठक में एसएसपी तृप्ति भट्ट, सीडीओ नमामी बंसल, डीएफओ कोको रोसे, एडीएम शिव चरण द्विवेदी, पीड़ी आनंद भाकुनी, डीडीओ सुनील कुमार, एसडीएम रविन्द्र जुवांठा, अधिशासी अभियंता लोनिवि, पीएमजीएसवाई, जल संस्थान, जल निगम, सीवीओ डॉ पीएस रावत, जिलाध्यक्ष बीजेपी विनोद रतूड़ी, पूर्व ब्लॉक प्रमुख बेबी असवाल के अलावा अन्य अधिकारी व जनप्रतिनिधि उपास्थिति थे।

Print Friendly, PDF & Email
Share