सुप्रसिद्ध सांख्यिकीविद् प्रशांत चंद्र महालनोबिस जयंती पर मनाया गया 15वां सांख्यिकी दिवस, सांख्यिकीविद् को श्रद्धांजलि के साथ गोष्ठी आयोजित

सुप्रसिद्ध सांख्यिकीविद् प्रशांत चंद्र महालनोबिस जयंती पर मनाया गया 15वां सांख्यिकी दिवस, सांख्यिकीविद् को श्रद्धांजलि के साथ गोष्ठी आयोजित

समाजार्थिक समीक्षा वर्ष 2019-20 की पत्रिका का विमोचन

सरहद का साक्षी, नई टिहरी मंगलवार को 15वें सांख्यिकी दिवस के उपलक्ष में प्रसिद्ध सांख्यिकीयविद् प्रशांत चन्द महालनोबिस का जन्म दिवस जिला अर्थ एवं सांख्याधिकारी कार्यालय टिहरी गढ़वाल में मनाया गया।

इस अवसर पर एक गोष्ठी का आयोजन किया गया। जिसमें जिला अर्थ एवं संख्याधिकारी कार्यालय के समस्त उपस्थित कर्मचारियों द्वारा प्रसिद्ध सांख्यिकीविद् को श्रद्धांजलि अर्पित की गयी। गोष्ठी में श्री सन्दीप कुमार द्वारा प्रो0 महालनोबिस के जीवन परिचय पर प्रकाश डाला गया।

समाजार्थिक समीक्षा वर्ष 2019-20 की पत्रिका का विमोचन

इस अवसर पर जिला अर्थ एवं संख्याधिकारी, कार्यालय टिहरी गढ़वाल में समाजार्थिक समीक्षा वर्ष 2019-20 की पत्रिका का विमोचन किया गया, इस पत्रिका में जनपद टिहरी गढ़वाल के विभागवार सामाजिक एवं आर्थिक विकास की रूपरेखा को दर्शाया गया है। इस पुस्तिका से नीति निर्माताओं/शोद्धकर्ताओं को नीति निर्माण हेतु सहायता प्राप्त होगी। इसके पश्चात् गोष्ठी में प्रो0 महालनोबिस के जीवन परिचय पर प्रकाश डालते हुये श्री संदीप कुमार द्वारा बताया गया, उनकी प्रसिद्धि द्वितीय पंचवर्षीय योजना में अहम योगदान देने की है। 15वें सांख्यिकी दिवस पर भारत सरकार द्वारा सत्त विकास लक्ष्यों के अनुरूप ’’भूख को समाप्त करना, खाद्य सुरक्षा प्राप्त करना और पोषण में सुधार करते हुये सतत् कृषि को बढ़ावा देना’’ विषय निर्धारित किया गया था।

गोष्ठी में श्री निर्मल कुमार शाह, जिला अर्थ एवं संख्याधिकारी, श्रीमती ऋतु नेगी, अपर सांख्यिकीय अधिकारी, श्री धारा सिंह, अपर सांख्यिकीय अधिकारी, श्री सुरेश चन्द्र, अपर सांख्यकीय अधिकारी, श्री संदीप कुमार, अपर सांख्यकीय अधिकारी, श्री भवानी दत्त जोशी, प्रधान सहायक, श्री नरेन्द्र सिंह रावत, वरिष्ट सहायक, श्री रमन बमराडा, कनिष्ट सहायक, श्री ताहिर अहमद, वाहन चालक, श्री प्रदीप सजवाण, श्री चन्द्रशेखर, श्री विनोद कुमार, श्री उमेश बिष्ट, श्री शीशपाल सिंह, श्री राधे कृष्ण, आदि उपस्थित रहे। 29 जून सांख्यिकी दिवस मानने का उद्देश्य सामाजिक-आर्थिक नियोजन और नीति निर्धारण में प्रो0 महालनोबिस की भूमिका के बारे में जनता में विशेषकर युवा पीढ़ी में जागरूकता जगाना तथा उन्हें प्रेरित करना है।

Print Friendly, PDF & Email
Share