विद्युत विभाग 15 दिन में बदले झुलती तारें व पोल और अधिकारी 24 घंटे खुला रखें अपना फोन: डीएम

विद्युत विभाग 15 दिन में बदले झुलती तारें व पोल और अधिकारी 24 घंटे खुला रखें अपना फोन: डीएम

सरहद का साक्षी,

नई टिहरी: जिलाधिकारी इवा आशीष श्रीवास्तव ने जिला कार्यालय से गूगल मीट के माध्यम से विद्युत  विभाग की समीक्षा की।

जिलाधिकारी के निर्देशों के अनुपालन में समस्त उप-जिलाधिकारियों द्वारा विद्युत विभाग संबंधी शिकायतों/सुझावों की सर्वे रिपोर्ट प्रस्तुत की गई। जिसमें तहसील क्षेत्रान्तर्गत गांवों से  अधिकांश शिकायतें जंग लगे पोल, झूलते तार, मीटर रीडिंग व विद्युत विभाग के संबंधित क्षेत्रीय अधिकारियों/कर्मचारियों द्वारा फोन कॉल नही उठाये जाने संबंधी पाई गई।

जिलाधिकारी ने झूलते तारों, जंग लगे पोलों व क्षतिग्रस्त इंसुलेटर को बदलने संबंधी कार्यवाही 15 दिन के भीतर सुनिश्चित करते हुए अधिशासी अभियंता विद्युत को रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिए है। वहीं जन-सामान्य के फोन कॉल नहीं उठाये जाने पर जिलाधिकारी ने कड़ी नाराजगी प्रकट करते स्पष्ट किया कि आगे से इस प्रकार की शिकायतें संज्ञान में नहीं आनी चाहिए। उन्होंने  विद्युत  विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे  निरंतर क्षेत्र में बने रहे साथ ही अपना फोन 24 घंटे खुला रखे। कहा कि देहरादून या ऋषिकेश से कार्यालय संचालन की आदत छोड़ दें। उन्होंने स्पष्ट किया कि इस प्रकार की किसी भी शिकायत पर संबंधित अधिकारी के विरुद्ध कठोर कार्यवाही अमल में लाई जाएगी।

जिलाधिकारी ने कहा कि तारो के झूलने/लूज होने/टूटने के पीछे इंसुलेटर की भी एक महत्वपूर्ण  भूमिका है। इस हेतु उन्होंने अधिशासी अभियंता विद्युत  को निर्देश दिए कि विद्युत  तारो को खम्बो से जोड़ने वाले उपकरण/इंसुलेटर की गुणवत्ता का विशेष ध्यान रखा जाए। इसके अलावा उन्होंने विद्युत  संबंधी शिकायतों हेतु टोल फ्री नंबर 1912 को क्षेत्र में अधिकाधित प्रचारित किये जाने के निर्देश दिए है।

बैठक में कुछ मुख्य शिकायतों जिसमें धनोल्टी के रिंगालगढ़ में विद्युत लाइन, प्रतापनगर के तिनवालगांव में लोनिवि के द्वारा सड़क कटान से प्रभावित विद्युत लाइन, कीर्तिनगर के मंजुली में ट्रांसफार्मर बदलने, बमणगांव गजा में ट्रांसफार्मर की सुरक्षा हेतु दीवार को पक्का करने आदि शिकायतों पर त्वरित कार्यवाही के निर्देश दिए है।

बैठक में सभी उप जिलाधिकारी, ईई विद्युत  राकेश कुमार, ईई विद्युत श्रीनगर, समस्त एसडीओ उपस्थित थे।

Print Friendly, PDF & Email
Share