उत्तरांचल एसोसिएशन ऑफ नॉर्थ अमेरिका (ऊना) महामारी के वक्त उत्तराखंड के गावों में सहायतार्थ आगे आईं

उत्तरांचल एसोसिएशन ऑफ नॉर्थ अमेरिका (ऊना) महामारी के वक्त उत्तराखंड के गावों में सहायतार्थ आगे आईं

सरहद का साक्षी@अंकित विश्वकर्मा

रुद्रप्रयाग : कोरोना काल में विपदा के समय अपनों की सहायता करना और वह भी सात समुन्दर पार से, जी हां ऐसा ही काम आजकल उत्तराखंड के सुदूर इलाकों में कर रही है।

अमेरिका स्थित उत्तराखंड के लाडलों की उत्तरांचल एसोसिएशन ऑफ़ नार्थ अमेरिका संस्था ये संस्था वो काम कर रही है, जो काम उत्तराखंड सरकार के नुमाइंदे नही कर पा रहे हैं| वह काम इस संस्था के वोलेंटर्स ने कर दिखाया है। उत्तरांचल एसोसिएशन ऑफ़ नार्थ अमेरिका (ऊना) के वोलेंटर्स दुर्गम इलाकों में पहुचकर वहां के लोगों तक कोरोना किट पहुचा रहे हैं।

उत्तरांचल एसोसिएशन ऑफ़ नार्थ अमेरिका (ऊना) नामक संस्था आजकल कोरोना प्रभावित इलाकों में खासकर बचणस्यूं/धनपुर पट्टी के अनेक क्षेत्रों में अपने कोऑर्डिनेटरो द्वारा गाँव-गाँव जाकर थर्मल स्कैनर, पल्स ऑक्सीमीटर, मास्क, फेस शील्ड, हैंड ग्लव्स व आवश्यकता अनुसार पी पी ई किट, बैनर व जन जागरूकता के लिए पोस्टर बाँट रही है। जिन इलाकों में कोरोना सम्बंधित सामग्री बांटी गयी उनमें झुंडोली, संक्रोडी, धारकोट, पीपली डांडा, पीपली, डुंगरा, आरस्यू, खांकरा, नरकोटा इलाकों सहित 25 से अधिक ग्राम पंचायतों में कुल 45 किट बाँटी गयी।

बुधवार, गुरुवार, शुक्रवार को जिन गांव में 10 किट बाँटी गयी उनमें, बाड़ा, बामसू, छतोड़ा, निशिनी ,चौंथला, चवींत, वीरों सहित आदि गांव शामिल हैं। बचणस्यूं – धनपुर पट्टी में कुल मिलाकर 70 किट दी गयी हैं जो कि सतीश पटवाल, अमित राणा, नैना देवी, आजीविका के कोऑर्डिनेटर अर्जुन रावत के माध्यम से बाँटे गए।

बताया जा रहा है डूंगरा निवासी सतीश पटवाल के निर्देशन में यह कार्य हो रहा है| उनका कहना है कि कोविड-19 की महामारी को देखते हुए सरकार के साथ चलने का कदम उठाया है|

उत्तरांचल एसोसिएशन ऑफ नॉर्थ अमेरिका (ऊना) नामक संस्था एवं एकीकृत आजीविका सहयोग परियोजना तिलनी द्वारा इस पहल की शुरुआत की गई है|

जनपद रुद्रप्रयाग के लगभग सभी ग्रामीण क्षेत्रों एवं प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों में उना द्वारा कोविड-19 की रोकथाम हेतु परीक्षण किट उपलब्ध करवाई गई जिसमें ऑक्सीमीटर, थरमामीटर ,मासक ,सैनिटाइजर, गलपल, फेश सीट प्रत्येक गांव में एक-एक परिक्षण कीट वॉलिंटियर्स को उपलब्ध करवाया गया है, ताकि प्रत्येक गांव में समय-समय पर सभी लोगों का स्वास्थ्य परीक्षण हो सके, अगर किसी व्यक्ति को स्वास्थ्य समस्या होती हैं तो ग्राम स्तर पर जो बोले इंटर काम कर रहे हैं| साथ ही उनके द्वारा बीमार व्यक्ति को स्वास्थ्य केंद्र जाने की सलाह दी जा रही है एवं उपचार हेतु प्राथमिकता दी जा रही है|

भौगोलिक परिस्थिति के अनुसार रुद्रप्रयाग जिला जितना छोटा है, उतनी ही जिले में समस्याएं भी हैं, यहाँ कई जगहों पर स्वास्थ्य कर्मी नहीं पहुंच सकते वहां ऊना के वॉलिंटियर्स ग्राम स्तर पर सेवा दे रहे हैं| जनपद रुद्रप्रयाग के बच्छणसयू पट्टी के सभी गावों में परिक्षण किट मौजूद है|

इस कार्य को उनके समस्त मित्रों द्वारा यह सफल कार्यक्रम किया जा रहा है| जनपद में यह सुविधा सुचारू हेतु ममता मेहरा, जिला पंचायत सदस्य खांकरा नरेन्द्र सिंह बिष्ट, कनिष्ठ प्रमुख शशी नेगी, प्रदीप चंद, अमित राणा, गणेश, एवं नैना स्वायत सहकारिता बाड़ा बच्छणस्यू से अजुऀन रावत /ग्राम बाडा निवासी अमित सिंह राणा द्वारा सभी वालिंटियर तक यह किट पहुंचाई जा रही है, ताकि समय के साथ किसी भी व्यक्ति को समस्या ना हो जिस हेतु ऊना संस्था के माध्यम से समय-समय पर परिक्षण कार्य किया जा रहा है|

Print Friendly, PDF & Email
Share