उद्यान विभाग गजा की सराहनीय पहल: किसानों की आय का प्रमुख साधन बन सकती है फूलों की खेती

उद्यान विभाग गजा की सराहनीय पहल: किसानों की आय का प्रमुख साधन बन सकती है फूलों की खेती

Merigold

सरहद का साक्षी: रिपोर्ट- डी.पी. उनियाल,  

गजा: उद्यान रक्षा सचिव दल केन्द्र गजा की सराहनीय पहल अगर परवान चढ़ी तो फूल उत्पादन पहाड़ में व्यावसायिक आमदनी बढ़ाने का जरिया बन सकता है। उद्यान विभाग गजा द्वारा विगत सन् 2019-2020 में (इंडो अमेरिकन ) हाईब्रिड गेंदा बीज पीले व लाल रंग प्रजाति में कुछ काश्तकारों को दिये गये।

कृषक राजेश्वर प्रसाद उनियाल ग्राम बंगोली एवं दीपेंद्र सिंह ग्राम भाली  द्वारा बताया गया कि फूल का उत्पादन बडी मात्रा में अच्छे किस्म के हुए लेकिन अच्छे बाजारी मूल्य नहीं मिलने के कारण आमदनी का स्रोत नहीं बन सका । उन्होंने बताया कि अगर निकटवर्ती बाजारों में फूलों का विक्रय केन्द्र हो तो फूलों की खेती पहाड़ों में अच्छी आय दे सकती है जो कि बारह महीने बिक सकते हैं

प्रगतिशील जन विकास संगठन गजा टिहरी गढ़वाल के अध्यक्ष दिनेश प्रसाद उनियाल ने कहा कि फूल उत्पादन को व्यावसायिक स्तर पर पहुंचाने के लिए विभाग एवं सरकार द्वारा अतिरिक्त प्रयास किये जाने चाहिए, जबकि 10 ग्राम मेरी गोल्ड गेंदा फूलों के बीज की बाजारी कीमत 2700 रुपए विभाग द्वारा खर्च की गई है।

उद्यान रक्षा सचल दल गजा के प्रभारी पंकज पटवाल ने बताया कि  हाईब्रिड गेंदा फूल बीज कम से कम 20 नाली भूमि को आच्छादित कर सकने की क्षमता रखता है । पंकज पटवाल ने बताया कि उद्यान विभाग पाली हाउस निर्माण, बगीचों की घेरबाड  तथा हाईब्रिड फल पौध, सब्जी बीज भी काश्तकार को दे रहा है तथा विभाग ग्रामीणों की आय बढ़ाने के लिए हर सम्भव प्रयास कर रहा है ।

Print Friendly, PDF & Email
Share