कोरोना की तीसरी लहर के खिलाफ टिहरी जिला एलर्ट, गूगल मीट से प्रतिनिधियों से संपर्क साध रही हैं डीएम

सरहद का साक्षी,
नई टिहरी: कोरोना महामारी की दूसरी लहर व संभावित तीसरी लहर के दृष्तिगत जनपद की प्रत्येक ग्राम पंचायत स्तर पर 6 सदस्य युक्त कुल 1035 ग्राम निगरानी समितियां बनाई गई है। समितियां ग्राम स्तर पर बनाए गए आइसोलेशन केंद्रों में रखे गए व्यक्तियों की देखरेख करेंगी वहीं गांव में कोरोना के लक्षण युक्त व्यक्तियों को जिला प्रशासन द्वारा उपलब्ध कराई गई मेडिकल किट भी उपलब्ध कराएगी।

ग्राम निगरानी समितियों को और अधिक सशक्त बनाने के लिए *जिलाधिकारी इवा आशीष श्रीवास्तव* द्वारा गूगल मीट (वर्चुअल माध्यम) से सीधे प्रधानों से संवाद कर सुझाव व फीडबैक ले रही है। वहीं गांवों में आइसोलेशन केंद्रों में बुनियादी सुविधाओं, इन केंद्रों में रखे गए बाहरी राज्यों से आये व्यक्तियों के स्वास्थ्य के अलावा ग्रामवासियों के स्वास्थ्य के संबंध में भी समिति से जानकारी ले रही है। इस हेतु उन्होंने विकासखंडवार सीधे ग्राम प्रधानों से जुड़ने लिए लिए दिनवार रोस्टर भी जारी किया है।

सोमवार को जिलाधिकारी विकासखंड भिलंगना के ग्राम पंचायत प्रतिनिधियों से संवाद किया। इस दौरान ग्राम प्रधानों को गांव में साफ-सफाई, उपलब्ध कराई जाने वाली दवाओं के सेवन के तरीके एवं निगरानी समिति के दायित्वों के बारे में जानकारी दी गई।

वही पंचायत प्रतिनिधियों ने ग्राम स्तर पर बनाये गए आइसोलेशन केंद्रों की स्थिति एवं उनमें की जाने वाली तमाम आवश्यक व्यवस्थाओं के बारे में भी जिलाधिकारी को अवगत कराया। जिसपर जिलाधिकारी ने संबंधित अधिकारियों को आवश्यक व्यवस्थाएं करने के लिए प्राथमिकता से कार्यवाही करने के निर्देश दिए है।

वीसी के माध्यम से इस बैठक में सीडीओ अभिषेक रुहेला, प्रभारी चिकित्सधिकारी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बैलेश्वर, बीडीओ भिलंगना के अलावा एक दर्जन से अधिक ग्राम प्रधन उपास्थिति थे।

Print Friendly, PDF & Email
Share