बेटी है वरदान /शराब नहीं -संस्कार “के रूप में मनाया गया : होली की पूर्व संध्या पर पौत्री का जन्मदिन

चम्बा:  होली की पूर्व संध्या पर, कवि सोमवारी लाल सकलानी निशांत ने अपनी पौत्री का जन्म दिवस (बेटी है वरदान/ शराब नहीं- संस्कार) कार्यक्रम के रूप में मनाया। कालेज रोड चंबा में स्थित मिलन वेडिंग प्वाइंट मे गणमान्य व्यक्तियों की उपस्थिति में यह कार्यक्रम आयोजित किया गया।

होली की पूर्व संध्या पर, कवि सोमवारी लाल सकलानी निशांत ने अपनी पौत्री का जन्म दिवस (बेटी है वरदान/ शराब नहीं- संस्कार) कार्यक्रम के रूप में मनाया। कालेज रोड चंबा में स्थित मिलन वेडिंग प्वाइंट मे गणमान्य व्यक्तियों की उपस्थिति में यह कार्यक्रम आयोजित किया गया

कोरोना के कारण मात्र सौ व्यक्तियों को इस कार्यक्रम में आमंत्रित किया गया था। जिसमें अधिकांश सुमन कॉलोनी , चंबा के निवासी, जनप्रतिनिधि, बुद्धिजीवी, समाजसेवी, सैनिक, शिक्षक और कृषक आमंत्रित किए गए थे। लोगों ने इस कार्यक्रम की भूरी भूरि सराहना।
बेटी बचाओ- बेटी पढ़ाओ तथा शराब विरोधी मुहिम के लिए कार्यक्रम को मील का पत्थर बताया।

कार्यक्रमों में नगर पालिका परिषद की सम्मानित अध्यक्ष श्रीमती सुमन रमोला, पूर्व अध्यक्ष श्री सूरज राणा, पूर्व अध्यक्ष श्री पीयूष उनियाल, पूर्व ब्लाक प्रमुख श्री सोबन सिंह नेगी , वरिष्ठ अधिवक्ता श्री एमडी बहुगुणा, उद्योग व्यापार मंडल के महामंत्री श्री संजय बहुगुणा, पूर्व सैनिक संगठन के संरक्षक श्री इंद्र सिंह नेगी , व्यापार मंडल के पूर्व अध्यक्ष श्री दरमियान सिंह सजवान, जेष्ठ प्रमुख श्री साहब सिंह सजवान, सभासद श्री रघुवीर सिंह रावत, श्री राजेश्वर बडोनी, सुचित्रा पंवार, योगाचार्य श्रीमती मीनाक्षी कोठारी,श्री सुभाष सकलानी, श्री बलवंत रावत, प्रधानाचार्य श्री नवीन रावत, अधिवक्ता संजय बहुगुणा के अलावा अनेकों गणमान्य व्यक्ति तथा मातृ शक्ति और युवा उपस्थित थे।

इससे पूर्व कार्यक्रम के आरंभ में पूर्व कैबिनेट मंत्री उत्तराखंड शासन श्री दिनेश दिनेश धनै ने उपस्थित होकर हार्दिक शुभकामनाएं प्रेषित की।

यूं तो कवि सकलानी वर्षों से स्वच्छता, नशा उन्मूलन, पर्यावरण संवर्धन, बेटी बचाओ तथा स्वस्थ जीवन के प्रति लोगों को जागरूक करने का अभियान चलाते रहते हैं।

अपने पुत्र और पुत्री की शादियां भी नशा मुक्ति आंदोलन के रूप में सम्पन्न की और बाकायदा कार्ड के बाहर से (शराब नहीं – संस्कार) नारा छपवाया, जिसका एक बहुत बड़ा मैसेज समाज में गया और अनेक संस्थाओं ने उन्हें इस मुहिम के लिए सम्मानित भी किया।
कवि सोमवारी लाल सकलानी निशांत एक सेवानिवृत्त शिक्षक हैं ।

सेवानिवृत्ति के बाद अपना जीवन साहित्य, शिक्षा संस्कृति और समाज उपयोगी कार्यों में व्यतीत कर रहे हैं। लेखक कवि और साहित्यकार होने के साथ-साथ सदैव समाज में कुछ ना कुछ नया परिवर्तन करने का कार्य करते रहते हैं जो कि समाज उपयोगी हो और स्वस्थ समाज की परिकल्पना पर आधारित हो ।

वर्तमान में कवि सकलानी नगर पालिका परिषद चंबा के स्वच्छता ब्रांड एंबेसडर, उत्तराखंड शोध संस्थान चंबा इकाई के सचिव, हेंवल लोक शक्ति संगठन के सचिव , हेवलवाणी सामुदायिक रेडियो के कोर कमेटी के सदस्य एवं हेंवलवाणी न्यूज़ मीडिया के ब्यूरो चीफ के साथ-साथ अनेकों संस्थाओं से जुड़े हुए हैं।

Print Friendly, PDF & Email
Share