महाविद्यालय पोखरी राष्ट्रीय सेवा योजना इकाई के  विशेष शिविर का समापन

रिपोर्ट: नरेंद्र बिजल्वाण,

पोखरी (क्वीली) : शहीद बेलमती चौहान राजकीय महाविद्यालय पोखरी (क्वीली) टिहरी गढ़वाल में प्रथम सात दिवसीय विशेष शिविर का समापन समारोह सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ धूमधाम से हुआ।

महाविद्यालय पोखरी राष्ट्रीय सेवा योजना इकाई के  विशेष शिविर का समापन 

कार्यक्रम अधिकारी डॉ. राम भरोसे ने विस्तार से बताया कि कार्यक्रम का उद्घाटन मुख्य अतिथि ग्राम प्रधान संगठन के अध्यक्ष श्री धन सिंह सजवाण जी द्वारा दीप प्रज्ज्वलन से किया गया. कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि के रूप में श्री जोत सिंह असवाल  (अध्यक्ष-बजरंगी स्वाभिमानी सेवा समिति, पोखरी), श्री देवेंद्र उनियाल  (क्षेत्र पंचायत सदस्य, पयाल गांव), श्री चंदन सिंह  (पूर्व प्रधान-ग्राम पंचायत पयाल गांव) एवं श्री मुकेश बिजल्वाण  (प्रधान, ग्राम पोखरी ) समापन समारोह में उपस्थित रहें।

कार्यक्रम की अध्यक्षता महाविद्यालय के प्रभारी प्राचार्य प्रोफेसर ए.के. सिंह द्वारा की गयी।

स्वयंसेवियों द्वारा विभिन्न सांस्कृतिक कार्यक्रमों से न केवल समस्त ग्रामवासियों का मनोरंजन किया बल्कि कार्यक्रमों के माध्यम से जन-जागरूकता भी ग्रामवासियों तक पहुंचाई।

स्वयंसेवी मनीषा, प्रेरणा, आँचल, शिवानी ने सामूहिक नृत्य प्रस्तुत किया. साथ ही अंजलि और किरणदीप ने ऐतिहासिक गढ़वाली गीत गाया, कुसुम, नेहा, निकिता, मनीषा और लता द्वारा प्रस्तुत देशभक्ति गीत ने सभी को भावविभोर कर दिया. सामाजिक कुरीति दहेज़ प्रथा पर सिमरन, साक्षी, लता और मोनिका ने व नशा मुक्ति पर विवेक, किरणदीप, मनीषा व शिवानी ने नाटक के माध्यम से सभी को जागरूक किया।

नगर पालिकाध्यक्ष श्रीमती मीना खाती जी के सौजन्य से कार्यक्रम में पधारे समस्त अतिथियों को स्मृति चिह्न भेंट किये गए. जिसके लिए महाविद्यालय परिवार उनका आभार व्यक्त करता है।

स्वयंसेवी शिवानी व् अंजलि ने कार्यक्रम में पधारे समस्त अतिथियों का बैज लगाकर उनका हार्दिक स्वागत किया।

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि श्री धन सिंह सजवाण जी ने अपने उद्बोधन में सभी स्वयंसेवियों और ग्रामवासियों को इस शिविर हेतु साधुवाद दिया और उन्होंने मंच से घोषणा कि वे राजकीय महाविद्यालय पोखरी के किसी एक निर्धनतम छात्र/छात्रा के अध्ययन के तीनों वर्षों हेतु सम्पूर्ण फीस, यूनिफार्म व पुस्तकों की व्यवस्था उनकी ओर से की जाएगी और यह व्यवस्था प्रत्येक सत्र हेतु श्री धन सिंह सजवान जी द्वारा की जाएगी. महाविद्यालय परिवार की ओर से प्राचार्य महोदय ने इनका आभार व्यक्त किया।

विशिष्ट अतिथि ग्राम प्रधान पोखरी के श्री मुकेश जी ने स्वयंसेवियों का उत्साहवर्धन किया. कार्यक्रम के अन्य विशिष्ट अतिथि श्री देवेंद्र उनियाल जी अपनी शायरी से सभी को मोहित कर लिया और उन्होंने हम सभी का मार्गदर्शन किया तथा सामूहिक नृत्य प्रस्तुतकर्ताओं प्रेरणा, शिवानी, आँचल और मनीषा बिष्ट को 500/-नगद धनराशि देकर उनका उत्साहवर्धन किया।

ग्राम प्रधान श्री चंदन सिंह विशिष्ट अतिथि जोत सिंह असवाल  द्वारा भी स्वयंसेवियों को इस शिविर समापन पर बधाई ज्ञापित की और समाज सेविका श्रीमती विजयलक्ष्मी द्वारा एक भावुक गढ़वाली गीत प्रस्तुत किया जिससे समस्त सभागार भावविभोर हो गया. साथ ही नारी शिक्षा की महत्ता पर अपने अनुभव हम सभी से साझा किये. केम्प कमांडर अंजलि बिजल्वाण ने भी शिविर को लेकर अपने अनुभव साझा किये।

कार्यक्रम के अंत में सभी स्वयंसेवियों को मुख्य अतिथि के सौजन्य से पुरुस्कार भेंट स्वरूप प्रदान किये गए।

इस शिविर की सर्वश्रेष्ठ कर्मठ स्वयंसेवी प्रेरणा गुंसाई को मुख्य अतिथि द्वारा विशेष रूप से पुरुस्कृत किया गया. साथ ही प्रथम दो सर्वश्रेष्ठ रिपोर्ट प्रस्तुतकर्त्ता स्वयंसेवियों को भी विशिष्ट अतिथियों द्वारा पुरुस्कृत किया गया. जिनमे प्रथम लता,द्वितीय सिमरन गुसाई को पुरुस्कार प्रदान किया गया।

इसके साथ ही कार्यक्रम अधिकारी डॉ. राम भरोसे द्वारा समस्त स्वयंसेवियों का उत्साहवर्धन करते हुए सभी को अपनी और से ‘श्रीमदभगवत गीता’ भेंट स्वरूप प्रदान की गयी।

इस समापन समारोह के अवसर पर महाविद्यालय की ओर से डॉ. सरिता देवी डॉ.मुकेश, डॉ.विवेकानंद, डॉ. बंदना सेमवाल, श्री अंकित व् श्रीमती रेखा नेगी ने कार्य्रक्रम में उपस्थित होकर सभी
कार्यकम के अध्यक्षता कर रहे प्रोफेसर ए.के. सिंह ने कार्यक्रम के अंत में सभी अतिथियों का धन्यवाद ज्ञापन किया और
स्वयंसेवियों को आशीर्वाद प्रदान किया. और समस्त अथितियों को महाविद्यालय की ओर से स्मृति चिह्न भेंट किये।

अंत में कार्यक्रम अधिकारी डॉ. राम भरोसे ने सभी स्वयंसेवियों के साथ लक्ष्य गीत गाकर कार्यक्रम का समापन किया।

कार्यक्रम के अंत में समस्त अतिथियों, स्वयंसेवियों और ग्रामवासियो हेतु पूर्व ग्राम प्रधान चंदन सिंह जी द्वारा किया गया. इस महती कार्य हेतु महाविद्यालय ने इनका आभार व्यक्त किया. इस तरह महाविद्यालय के प्रथम सात दिवसीय विशेष शिविर का समापन समारोह बड़े धूमधाम से मनाया गया।

Print Friendly, PDF & Email
Share