राजस्थान के धौलपुर में मोदी परिवार की हवेली की खुदाई में निकला चांदी के सिक्कों से भरा घड़ा 

धौलपुर (राजस्थान): धौलपुर के सैपऊ कस्बे के पुराना बाजार में मोदी परिवार की पुरानी हवेली की खुदाई के दौरान चांदी के सिक्कों से भरा हुआ एक घड़ा निकलने से अफरा-तफरी मच गई। कई दिनों से पुरानी हवेली को नए सिरे से बनाने का काम चल रहा है। शुक्रवार सुबह हवेली की नींव की खुदाई चल रही थी। तभी श्रमिक का फावड़ा जमीन के अंदर गड़े हुए चांदी के सिक्के से भरे कलश से जा टकराया। इससे सिक्कों से भरा घड़ा टूट गया। 

हवेली का पुन: निर्माण करा रहे परिवार के द्वारा ठेकेदार को मौके पर बुलाकर एक श्रमिकों से कुछ सिक्के बरामद कर लिए गए। बाद में मौके पर पहुंचे पुलिस प्रशासन के अधिकारियों ने अपने कब्जे में ले लिया है।

सूचना पर तहसीलदार आसाराम गुर्जर एवं कार्यवाहक थाना इंचार्ज दया शरण शर्मा मौके पर पहुंचे और उन्होंने पूरे मामले की जानकारी लेते हुए उच्चाधिकारियों को अवगत कराकर सिक्कों को कब्जे में ले लिया।

घटना की प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि जैसे ही सिक्कों से भरे कलश के फूटने की आवाज हुई तो कई ग्रामीण और खुदाई का कार्य कर रहे श्रमिक सिक्कों पर टूट पड़े। इस दौरान कुछ श्रमिकों ने लोगों की तरफ मुट्ठी में भरकर सिक्के उछाले। उछाले हुए सिक्कों को ग्रामीण लूट कर ले गए। घटना के बाद कई घंटों तक घटनास्थल पर लोगों की भीड़ लगी रही।

तहसीलदार आसाराम गुर्जर ने सिक्के लूटे जाने की घटना से इनकार किया है। तहसीलदार ने बताया कि हवेली के अंदर माल गड़े होने की जानकारी के लिए उच्चाधिकारियों के निर्देश पर खुदाई कराई जा सकती है।

फिलहाल जिस जगह से चांदी के सिक्कों से भरा हुआ कलश निकला है वहां दो पुलिस कर्मियों की तैनाती कराई जा रही है।उन्होंने बताया कि पुरानी हवेली से सिक्के निकलने की सूचना मिली थी। इस पर मौके पर पहुंचे तथा सिक्कों को अपने कब्जे में लिया। काउंटिंग करने पर चांदी के 140 सिक्के मिले। सभी सिक्के सन 1900 के आस-पास के हैं एडवर्ड सप्तम के काल के हैं। इनका वजन पौने दो किलो निकला। लूट के बारे में पूछने पर उन्होंने इससे इनकार किया और कहा कि हमारे सामने कोई लूट नहीं हुई, जितने सिक्के निकले थे उतने ही हमें मिले हैं।

Print Friendly, PDF & Email
Share