मार्च माह तक 60 फीसदी बकाया वसूला किया जायेगाः डाॅ. धन सिंह

20 बड़े बकायादारों से रिकाॅर्ड समय में 76 करोड़ रूपये की हुई वसूली

किसानों, गरीबों के खिलाफ नहीं चलाया जा रहा ऋण वसूली अभियान

60 percent arrears to be recovered by March

60 percent arrears to be recovered by March

देहरादून: बकाया ऋण वसूली अभियान के अंतर्गत अब तक प्रदेश भर के 20 बड़े बकायादारों से 76 करोड़ रूपये की वसूली की गई। मार्च माह तक बकाया ऋण का 60 फीसदी वसूली का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। यह अभियान किसी किसान के खिलाफ नहीं है बल्कि बड़े 20 बकायादारों के विरूद्ध है जिन्होंने 50 लाख से अधिक का ऋण लेकर अपना खाता एनपीए कर दिया है। 

यह जानकारी प्रदेश के सहकारिता, उच्च शिक्षा, दुग्ध विकास एवं प्रोटोकाॅल राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) डाॅ. धन सिंह रावत ने विधानसभा स्थित सभा कक्ष में आयोजित सहकारिता विभाग की समीक्षा बैठक के उपरांत दी। उन्होंने बताया कि बैठक में 10 बकायादारों ने 10 मार्च तक बैंकों में बकाया ऋण जमा करने पर सहमति जताई है। विभागीय मंत्री ने कहा कि बकाया ऋण अभियान के तहत किसी किसान को परेशान नहीं किया जायेगा। बल्कि ऐसे ग्राहकों के वसूली की जायेगी जिन्होंने बड़ी रकम लेकर किस्त जमा नहीं की है। यदि इन्होंने 10 मार्च तक अपना बकाया ऋण जमा नहीं किया तो इनके खिलाफ कड़ी कानूनी कार्रवाही की जायेगी।

बैठक में हिमालय फूड पार्क प्रा.लि. के एमडी अश्विनी छाबड़ा ने बताया कि वह अपना बकाया ऋण दे देंगे। जिस पर महा प्रबंधक के.एस.बिष्ट ने बताया कि यदि ये लोग 8 करोड़ रूपये जमा कर देंगे तो इनका खाता एनपीए से बाहर आ जायेगा। रचियता इन्फ्रा प्रा. लि. के मुरारी लाल शाह के प्रतिनिधि ने बताया कि उन पर ढ़ाई करोड़ रूपये बकाया है जिसे जल्द जमा कर दिया जायेगा। राज्य सहकारी बैंक के चेयरमैन दान सिंह रावत ने बैठक में ऋण हेतु जरूरी दस्तावेज जमा न किये जाने का मुद्दा उठाया। उन्होंने बताया कि पूर्व में जारी ऋणों में ग्राहकों द्वारा जरूरी दस्तावेज जमा नहीं करवाये गये हैं, ऐसे मामलों में पहले कागजी प्रक्रिया पूरी की जाय ताकि एनपीए वसूली संबंधी प्रक्रिया में कोई अड़चन न आये। इसके अलावा महा प्रबंधक एनपीएस ढ़ाका ने बताया कि जिला सहकारी बैंकों द्वारा वसूली अभियान चलाया जा रहा है। जिसके तहत जिला सहकारी बैंक टिहरी ने सर्वाधिक ऋण वसूली की। टिहरी में अब तक एनपीए का 27 फीसदी ऋण वसूला गया।

बैठक में उत्तराखंड राज्य सहकारी बैंक के चेयरमैन श्री दान सिंह रावत, निबंधक सहकारिता श्री बीएम मिश्र, चेयरमैन जिला सहकारी बैंक अमित शाह, चेयरमैन जिला सहकारी बैंक उत्तरकाशी विक्रम सिंह रावत, चेयरमैन जिला सहकारी बैंक टिहरी सुभाष रमोला, चेयरमैन जिला सहकारी बैंक हरिद्वार प्रदीप चैधरी, राज्य सहकारी बैंक के जीएम दीपक कुमार, एनपीएस ढाका, के.एस. बिष्ट, सहायक महाप्रबंधक राहुल गैरोला सहित कंपनियो के 10 प्रमोटर मौजूद थे।

Print Friendly, PDF & Email
Share