श्रीनगर से स्वीत तक लगेंगी 300 स्ट्रीट लाइनः धन सिंह

बुआखाल से पाबौं तक बनेगा नया बाईपास मोटर मार्ग

फरासू के पास भूस्खलन का आधुनिक तकनीकी से होगा ट्रीटमेंट

देहरादून: श्रीनगर विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 58 पर फरासू के पास हो रहे भूस्खलन को आधुनिक तकनीकी नेलिंग व मेसिंग के द्वारा रोका जायेगा। जिस पर 13 करोड़ रूपये का व्यय होगा। इसके अलावा श्रीनगर गढ़वाल में 7 किलोमीटर लम्बे मरीन ड्राइव के निर्माण को भी शीघ्र स्वीकृति मिलेगी तथा नगर क्षेत्र में श्रीनगर से स्वीत तक 300 स्ट्रीट लाइट लगाई जायेगी।

300 street lines will be installed from Srinagar to Sweat: Dhan Singh

300 street lines will be installed from Srinagar to Sweat: Dhan Singh

यह जानकारी सहकारिता, उच्च शिक्षा, दुग्ध विकास एवं प्रोटोकाॅल राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) डाॅ. धन सिंह रावत ने आज विधानसभा स्थित कार्यालय में राष्ट्रीय राजमार्ग एवं लोक निर्माण विभाग की समीक्षा बैठक के उपरांत पत्रकारों को दी। उन्होंने कहा कि आज की बैठक में कई महत्वपूर्ण निर्णय लिये गये हैं जिसके तहत राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 121 के एलिवेशन में सुधार करते हुए बुआखाल से गोरखाखाल होते हुए चेपडयूं तक बाईपास मोटर मार्ग का निर्माण किया जायेगा, जिससे क्षेत्र के दो दर्जन गांव मोटर मार्ग से जुड़ेंगे। इससे मोटर मार्ग की 4 किमी लम्बाई भी कम होगी। इसके अतिरिक्त पाबौं बाजार में भी बाईपास मोटर मार्ग का निर्माण किया जायेगा साथ ही पाबौं से पैठाणी तक मोटर मार्ग के चैड़ीकरण का कार्य शीघ्र शुरू किये जाने पर भी सहमति बनी। इसी प्रकार राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 119 पर बुआखाल से बैजरों तक चैड़ीकरण एवं डामरीकरण में 156 करोड़ रूपये खर्च किये जायेंगे।

बैठक में वन संरक्षक नित्यानंद पाण्डेय ने बताया कि एनएच संख्या 121 एवं 119 पर बनने वाले पुलों एवं सड़क चैड़ीकरण के लम्बित मामलों पर वन विभाग शीघ्र अपनी स्वीकृत प्रदान कर देगा। इसके अलावा एनएच द्वारा श्रीनगर के अंतर्गत स्वीत गांव को जोड़ने वाले मोटर मार्ग का नया एलिवेशन कर मोटर मार्ग को ठीक किया जायेगा। 

बैठक में लोनिवि के सचिव आर.के.सुधांशु ने राष्ट्रीय राजमार्गों पर निजी कंपनियों द्वारा बेतरतीब ढंग से बिछाई जा रही ओएफसी लाइन पर नाराजगी व्यक्त करते हुए विभागीय अधिकारियों को उक्त कंपनियों के विरूद्ध कार्रवाई के निर्देश दिये। साथ ही उन्होंने राजमार्गों पर पड़ने वाले नगरों एवं गांवों में बढ़ रहे अतिक्रमणों को चिन्हित कर स्थानीय प्रशासन की मदद से तत्काल हटाने के भी निर्देश दिये। जिस पर मुख्य अभियंता एनएच एस.के. बिरला ने बताया कि कई स्थानों पर अतिक्रमण हटाने की प्रक्रिया शुरू कर दी है जिसे आगे भी जारी रखा जायेगा।

बैठक में सचिव लोक निर्माण विभाग आर.के. सुधांशु, वन संरक्षक वन विभाग नित्यानंद पाण्डेय, प्रमुख अभियंता लोक निर्माण विभाग हरिओम शर्मा, मुख्य अभियंता लोक निर्माण विभाग (एनएच) एस.के. बिरला, अधिशासी अभियंता लोनिवि (एनएच) श्रीनगर बलराम मिश्रा, अधिशासी अभियंता लोनिवि (एनएच) धुमाकोट नवनीत पाण्डेय, सहायक अभियंता एनएच श्रीनगर राजीव शर्मा, सहायक अभियंता एनएच पीडब्ल्यूडी धुमाकोट मनोज रावत, सहायक अभियंता रविशंकर यादव सहित कई विभागीय अधिकारी उपस्थित रहे।

Print Friendly, PDF & Email
Share